केजरीवाल मॉडल बना मोदीजी के लिए चुनौती, इसलिए लाए NCT बिल : NDTV से मनीष सिसोदिया

सिसोदिया ने कहा कि यह बिल जो मोदीजी लेकर आए हैं और कानून बनवाया है, यह कहता है कि सीएम केजरीवाल जिन्‍हें दिल्‍ली की जनता ने चुना है, वह सरकार नहीं होंगे. केंद्र सरकार की ओर से चुने गए उप राज्‍यपाल यानी एलजी सरकार होंगे.

खास बातें

  • कहा, यह बिल संविधान के खिलाफ है, यह घबराहट में लाया गया
  • केजरीवाल की लोकप्रियता से असुरक्षित महसूस कर रहे मोदी जी
  • बिल यह कहने के लिए लाया गया कि मुख्‍यमंत्री सरकार नहीं होंगे
नई दिल्ली:

दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish sisodia) ने संसद के दोनों सदनों में पारित हुए एनसीटी बिल ( NCT Bill) को लेकर केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया है.NDTV से बात करते हुए सिसोदिया ने कहा कि यह बिल जो मोदीजी लेकर आए हैं और कानून बनवाया है, ये बिल कहता है कि दिल्ली की चुनी हुई सरकार की जगह अब एलजी सरकार होगी, ये संविधान के ख़िलाफ़ है.मोदीजी को इसकी ज़रूरत इसलिए पड़ी क्योंकि वे केजरीवाल जी की लोकप्रियता से असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. मोदीजी के लिए केजरीवाल मॉडल चुनौती बन रहा है. उन्‍होंने कहा कि मोदीजी के पास कोई मॉडल नहीं है. ये घबराहट में लाया गया और अरविंद केजरीवाल को रोकने के लिए लाया गया बिल है.

LG को ज्यादा ताकत देने वाले बिल पर बोले केजरीवाल, 'काम न तो रुकेगा और न ही धीमा पड़ेगा'

एक अन्‍य सवाल के जवाब में मनीष सिसोदिया ने कहा कि ये सच है कि दिल्ली पूर्ण राज्य नहीं है. संविधान में दिल्ली के काम करने के बारे में स्पष्ट बताया गया है. स्कूल चुनी हुई दिल्ली सरकार चलाएगी, पुलिस एलजी और केंद्र देखेंगे. अब ये कह रहे हैं कि स्कूल और अस्पताल भी चुनी हुई सरकार नहीं बनाएगी. केजरीवाल की लोकप्रियता को रोकने के लिए संविधान के ख़िलाफ़ काम किया जा रहा है. ये बिल ये कहने के लिए लाया गया कि मुख्यमंत्री सरकार नहीं होंगे . य़ह तो हालात को और अस्पष्ट कर रहा है. केंद्र कह रहा है कि अब सब कुछ एलजी ही तय करेंगे.


केजरीवाल के सुशासन मॉडल से घबरा गई BJP, इसीलिए ताकत छीनी जा रही: मनीष सिसोदिया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री ने कहा कि बीजेपी के पास कोई मॉडल नहीं है. केजरीवाल से प्रभावित होकर सूरत के लोगों ने 'आप' के लिए वोट किया. आज लोग कहने लगे है कि पीएम के रूप में जनता के लिए काम करने वाला चाहिए. ऐसा पीएम नहीं चाहिए जो कुछ कंपनियों को फायदा पहुंचाए और महंगाई बढ़ाए. NCT बिल को लेकर आम आदमी पार्टी के अगलेकदम के बारे में पूछने पर सिसोदिया ने कहा, हम लीगल एक्सपर्ट से बात कर रहे हैं. क़ानूनी कदम उठाएंगेऔर इस मुद्दे को लेकर जनता के बीच लेकर जाएंगे. हम इस मुद्दे को जनता के बीच लेकर जाएंगे. कोरोना के बढ़ते केसों के मुद्दे पर उन्‍होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि नाइट कर्फ़्यू से कुछ होगा. लोग खुद जागरूक रहें, ये बहुत अहम है. हमने केंद्र से कहा है कि वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में उलपब्ध कराएं. टीकाकरण ही इसका समाधान हैज़्यादा से ज़्यादा लोग टीका लगवाएं.'