100 से ज्यादा लड़कियों को सोशल मीडिया पर कर रहा था परेशान, भेजता था अश्लील मैसेज व वीडियो

दिल्ली में सोशल मीडिया (Social Media) पर 100 से अधिक लड़कियों को परेशान करने वाले जिम ट्रेनर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. 22 वर्षी आरोपी जिम ट्रेनर (Gym Trainer) सोशल मीडियो पर फेक आईडी बनाकर लड़कियों को अश्लील मैसेज और वीडियो क्लिप भेजता था.

100 से ज्यादा लड़कियों को सोशल मीडिया पर कर रहा था परेशान, भेजता था अश्लील मैसेज व वीडियो

सोशल मीडिया पर 100 से अधिक लड़कियों/महिलाओं को परेशान करने वाला जिम ट्रेनर गिरफ्तार.

नई दिल्ली:

दिल्ली (Delhi) में सोशल मीडिया (Social Media) पर 100 से अधिक लड़कियों को परेशान करने वाले जिम ट्रेनर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. 22 वर्षी आरोपी जिम ट्रेनर (Gym Trainer) सोशल मीडियो पर फेक आईडी बनाकर लड़कियों को अश्लील मैसेज (Obscene Message) और वीडियो क्लिप भेजता था. आरोपी के खिलाफ शिकायत होने पर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की साइबर सेल की टीम ने साइबरस्टॉकर (cyberstalker)  विकास कुमार को गिरफ्तार किया.  विकास कुमार द्वारका में स्थित एक जिम में ट्रेनर है.

पुलिस के मुताबिक आरोपी पीड़ित लड़कियों को अपनी जाल में फांसने के लिए सोशल मीडिया पर फेक अकाउंट से अश्लील मैसेज और वीडियो क्लिप भेजता था. आरोपी विकास के पास से इस घिनौने कृत्य के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला मोबाइल और सिम कार्ड बरामद हुआ है.

मुस्लिम बुजुर्ग पिटाई कांड: आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी, कोर्ट में पुलिस बल तैनात

पुलिस ने बताया, "सागरपुर पुलिस स्टेशन में एक शिकायत दर्ज की गई जिसमें एक महिला शिकायतकर्ता ने बताया कि एक अज्ञात व्यक्ति अपने फेसबुक मैसेंजर से अश्लील मैसेज और वीडियो भेजकर बार-बार परेशान कर रहा है. वहीं, आरोपी ने दावा किया है कि वह शिकायतकर्ता को व्यक्तिगत रूप से जानता है."

जांच के दौरान आरोपी के खिलाफ दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने फेसबुक और अन्य इंटरनेट मध्यस्थों से जानकारी एकत्र की. प्रारंभिक जांच में सामने आया कि आरोपी गलत काम में इस्तेमाल करने के लिए फेक आईडी बनाई. पुलिस ने कहा कि सब्सक्राइबर की डिटेल्स उसकी लोकेशन से मैच नहीं हो रहे थे.

IPS बनकर 100 से ज्यादा लोगों से ठगे 1.5 करोड़, गाजियाबाद पुलिस के हत्थे चढ़ा पूर्व पत्रकार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस ने बताया, "तकनीकी जांच के बाद सामने आया कि फेक फेसबुक आईडी का इस्तेमाल 22 वर्षीय विकस कुमार कर रहा था. वह फर्जी फेसबुक खातों से लड़कियों / महिलाओं को लुभाने के लिए इस्तेमाल कर रहा था. जांच के दौरान, यह पाया गया कि आरोपी कई फेक फेसबुक अकाउंट से 100 से अधिक महिलाओं को परेशान कर रहा था. अब तक, तीन फेसबुक अकाउंट की पहचान की गई है. आरोपी के फेसबुक फ्रेंडलिस्ट में 2,000 से अधिक लोग हैं."