दिल्लीः वैक्सीन, ब्लैक फंगस और लॉकडाउन पर क्या बोले सीएम केजरीवाल

दिल्ली में कोरोना टीकाकरण को लेकर केंद्र पर लगातार हमलावर सीएम केजरीवाल ने आज बुधवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की बहुत ज्यादा कमी हो गई है. 18  से 44 वाली कैटेगरी में वैक्सीन बिल्कुल खत्म हो गई है.

दिल्लीः वैक्सीन, ब्लैक फंगस और लॉकडाउन पर क्या बोले सीएम केजरीवाल

वैक्सीनेशन पर अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना।(फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली में कोरोना टीकाकरण को लेकर केंद्र पर लगातार हमलावर सीएम केजरीवाल ने आज बुधवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की बहुत ज्यादा कमी हो गई है. 18  से 44 वाली कैटेगरी में वैक्सीन बिल्कुल खत्म हो गई है. अभी 44 से ऊपर वाले ग्रुप के लिए वैक्सीनेशन हो रहा है. मैं उम्मीद करता हूं कि दिल्ली को जल्द से जल्द केंद्र सरकार से ज्यादा वैक्सीन मिलेगी. देशभर में कई राज्यों में टीकाकरण केंद्र बंद करने पड़ रहे हैं. यह ऐसा समय था जब टीकाकरण केंद्र बढ़ने चाहिए थे. लेकिन देश भर में टीकाकरण केंद्र बंद हो रहे हैं, यह अच्छी बात नहीं है. मैं उम्मीद करता हूं कि युद्ध स्तर पर वैक्सीन की सप्लाई की जाएगी, हमने तो लिखा हुआ है कि हमें हर महीने 80,00000 वैक्सीन चाहिए. मैंने खुद प्रधानमंत्री जी को लिखा है. 

दिल्ली में लॉकडाउन कब खुलेगा ?

लॉकडाउन के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि इसे बढ़ाया नहीं जा सकता. लोगों के काम धंधे बंद हो रहे हैं. कितना लॉकडाउन खोलेंगे कैसे खोलेंगे यह देखेंगे. लॉकडाउन को अगर वैक्सीनेशन से जोड़कर देखा जाए तो इसमें अभी पता नहीं कितना समय लग जाएगा. 

बच्चों के लिए वैक्सीनेशन

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि फाइजर और मॉडर्ना कह चुके हैं कि उनकी वैक्सीन बच्चों के लिए उपयुक्त है, लेकिन इसे इस्तेमाल करने के लिए अभी तक हिंदुस्तान में इजाजत नहीं मिली है. केंद्र सरकार को इसमें देरी नहीं करनी चाहिए और जितनी भी अंतरराष्ट्रीय वैक्सीन उपलब्ध हैं, सबको हमारे देश में इस्तेमाल की इजाजत देनी चाहिए, खासतौर पर बच्चों के लिए. 

दिल्ली में ब्लैक फंगस के 620 मामले


केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में ब्लैक फंगस के 620 एक्टिव केस हैं. लेकिन इसके इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली वैक्सीन नहीं मिल रही है. एक दिन पहले भी 400 इंजेक्शन मिले थे, कल भी 400 मिले थे, जबकि एक मरीज को 6 के करीब इंजेक्शन की जरूरत होती है. इस हिसाब से 3500 इंजेक्शन की रोज जरूरत है, इसलिए इसके इलाज में दिक्कत आ रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


5 की बात : वैक्सीन की कमी को लेकर अरविंद केजरीवाल का पीएम मोदी पर हमला