Bharat Biotech की वैक्सीन Covaxin को मंजूरी देने पर आज एक्सपर्ट कमेटी करेगी विचार

भारत में कोरोना वायरस वैक्सीनेशन (Coronavirus Vaccination) को लेकर तैयारियां चरम पर हैं. COVID टीकाकरण से जुड़ी तैयारियों को परखने के लिए आज पूरे देश में ड्राई रन (Dry Run) किया जा रहा है.

Bharat Biotech की वैक्सीन Covaxin को मंजूरी देने पर आज एक्सपर्ट कमेटी करेगी विचार

Covaxine भारत का पहला ऐसा COVID-19 वैक्सीन है जो देश की शीर्ष चिकित्सा अनुसंधान निकाय ICMR के सहयोग से स्वदेश में ही विकसित किया गया है.

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) को मंजूरी देने की सिफारिश करने वाले सरकारी विशेषज्ञों का एक पैनल आज भारत बायोटेक (Bharat Biotech) द्वारा विकसित वैक्सीन कोवैक्सिन (Covaxine) के आपातकालीन उपयोग के लिए समीक्षा बैठक करेगा. यह भारत का पहला ऐसा COVID-19 वैक्सीन है जो देश की शीर्ष चिकित्सा अनुसंधान निकाय ICMR के सहयोग से स्वदेश में ही विकसित किया गया है.

एक दिन पहले ही सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने सीरम इन्स्टीट्यूट ऑफ इंडिया और ऑक्सफोर्ड द्वारा विकसित वैक्सीन कोविशील्ड को अंतिम मंजूरी देने की सिफारिश ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DGCI) को भेजी है.

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की बड़ी घोषणा, पहले फेस में 3 करोड़ लोगों को मिलेगी फ्री कोरोना वैक्सीन

देश में तीन वैक्सीन निर्माता कंपनियों ने वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग की मंजूरी देने के लिए आवेदन किया है. इनमें सीरम इन्स्टीट्यूट ऑफ इंडिया और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनेका द्वारा विकसित वैक्सीन कोविशील्ड, भारत बायोटेक और ICMR द्वारा विकसित देशी टीका कोवैक्सीन और फाइजर-बायोएनटेक की वैक्सीन शामिल है, जिसे WHO ने भी मंजूर किया है. फाइजर ने अपने डेटा के प्रदर्शन के लिए एक्सपर्ट पैनल से कुछ और वक्त मांगा है.

'अफवाह तो तब भी फैली थी...', स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड वैक्सीन पर कहा- हर तरह से हो रही जांच-परख


इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने शनिवार को कहा कि पहले चरण में उन 3 करोड़ लोगों को मुफ्त वैक्सीन दी जाएगी, जो कोरोना संक्रमण के खिलाफ अग्रिम मोर्चे (Frontline) पर लड़ाई लड़ रहे हैं. 

वीडियो- केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन में टीकाकरण की तैयारियों का जायजा लिया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com