सैटेलाइट तस्वीरों में खुलासा- गलवान नदी के बहाव को बुलडोजर की मदद से प्रभावित कर रहा चीन...

खास बात यह कि चीन ऐसा उस जगह पर कर रहा है जो कि भारत-चीन सैनिकों की हिंसक झड़प वाली जगह से मुश्किल से एक किलोमीटर दूर भी नहीं है.

नई दिल्ली:

NDTV को प्राप्त हुई हाई रिजोल्यूशन सेटेलाइट इमेज बताती हैं कि चीन उत्तर पूर्वी लद्दाख में गलवान नदी के बहाव को प्रभावित करने या उसमें अवरोध पैदा करने की कोशिश कर रहा है. खास बात यह कि चीन ऐसा उस जगह पर कर रहा है जो कि भारत-चीन सैनिकों की हिंसक झड़प वाली जगह से मुश्किल से एक किलोमीटर दूर भी नहीं है. गौरतलब है कि इस हफ्ते सोमवार को भारत-चीन के सैनिकों में हिंसक झड़प हुई थी जिसमें 20 भारतीय जवानों ने जान गंवाई है. 

यह जानकारी ऐसे वक्त में सामने आई है जब दोनों देशों के मेजर जनरल  गलवान घाटी के पैट्रोल प्वाइंट 14 पर  लगातार दूसरे दिन मिले. जहां सैनिकों के बीच झड़प हुई थी. बुधवार को हुई वार्ता बेनतीजा रही थी, चीन ने झड़प वाली जगह से हटने की ओर कोई इशारा नहीं किया है. 

बता दें कि घटना स्थल पर भारतीय सैनिकों पर चीनी सैनिकों ने लोहे की छड़ों, पत्थरों से हमला किया था. भारतीय क्षेत्र का यह प्वाइंट यानी घटना स्थल काफी अहम है क्यों कि यहां से चीन की गतिविधियों पर नजर रखी जा सकती है. इस झड़प में चीनी पक्ष से बड़ी संख्या में लोग हताहत हुए हैं. हालांकि चीन ने कोई आधिकारिक आंकड़ा नहीं दिया है, लेकिन सेना के सूत्रों का कहना है कि कम से कम 45 चीनी सैनिक मारे गए या घायल हुए हैं.

NDTV को प्राप्त तस्वीरों में साफ दिखता है कि चीन के बुलडोजर वास्तविक नियंत्रण रेखा के उस तरफ कुछ काम कर रहे हैं. इससे नदी के बहाव पर असर पड़ा है. 

iirtup3k

 LAC के दो किलोमीटर के भीतर गलवान घाटी में भारतीय सेना के ट्रक देखे जा सकते हैं. जो कि गलवान नदी के उस हिस्से में पार्क हैं जो कि सूखा हुआ है. सुरक्षा कारणों से ये चित्र इस रिपोर्ट में शामिल नहीं हैं.

pb4peg2g

NDTV ने इस मामले पर टिप्पणी के लिए चीनी दूतावास से संपर्क किया है और प्रतिक्रिया मिलने पर इसे रिपोर्ट में शामिल किया जाएगा. भारतीय सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने NDTV से कहा है कि नदी फिलहाल गलवान घाटी के भीतर बह रही है. यह तस्वीरें यह भी दिखाती हैं कि इस क्षेत्र में भारतीय और चीनी निर्माण तेजी से चल रहा है. NDTV ने इस क्षेत्र में भारतीय सेना के निर्माण को नहीं दिखाया है.

5nt1t3l

तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा के उस पार गलवान नदी के किनारे चीन ने ट्रक, सैन्य परिवहन और बुलडोजर सहित सौ से अधिक चीनी वाहनों को तैनात किया है. यहां तक कि चीनी वाहन 5 किलोमीटर से अधिक के दायरे में हैं. तस्वीरों में दो क्षेत्रों में रहने के इंतजाम को भी देखा जा सकता है. 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com