अब हवाई यात्रा के दौरान इंटरनेट और कॉलिंग की मिलेगी सुविधा, BSNL को मिला खास लाइसेंस

इनमारसैट टर्मिनल का उपयोग कर एयरलाइन के लिए उड़ानों के दौरान तथा समुद्री जहाजों को उच्च गति की संपर्क सुविधा दी जा सकेगी. इससे 50 एमबीपीएस की क्षमता उपलब्ध हो सकेगी.

अब हवाई यात्रा के दौरान इंटरनेट और कॉलिंग की मिलेगी सुविधा, BSNL को मिला खास लाइसेंस

BSNL को इनमारसैट के ग्लोबल एक्सप्रेस ब्रॉडबैंड सेवाओं की पेशकश को लेकर लाइसेंस मिला है

नई दिल्ली:

सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी बीएसएनल (BSNL) को देश में इनमारसैट के ग्लोबल एक्सप्रेस (जीएक्स) मोबाइल ब्रॉडबैंड सेवाओं (Mobile Broadband Services) की पेशकश को लेकर लाइसेंस मिला है. इससे इनमारसैट टर्मिनल (Inmarsat Terminal) का उपयोग कर एयरलाइन के लिए उड़ानों के दौरान तथा समुद्री जहाजों को उच्च गति की संपर्क सुविधा दी जा सकेगी. ब्रिटेन की मोबाइल सैटेलाइट संचार कंपनी इनमारसैट ने बुधवार को यह घोषणा की. इनमारसैट इंडिया के प्रबंध निदेशक गौतम शर्मा ने कहा कि स्पाइसजेट लि. और शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया पहले ही नई जीएक्स सेवाओं के लिए समझौते कर चुकी हैं. इससे 50 एमबीपीएस की क्षमता उपलब्ध हो सकेगी.

4 महीने तक फ्री ब्रॉडबैंड इंटरनेट सर्विस दे रही BSNL, जानें किसे और कैसे मिलेगा फायदा

शर्मा के अनुसार, जीएक्स सेवा की शुरुआत के साथ भारतीय घरेलू एयरलाइंस और अंतरराष्ट्रीय विमानन कंपनियां देश के ऊपर से उड़ान के दौरान उच्च गति की संपर्क सुविधा प्रदान कर सकेंगी. साथ ही यात्री इंटरनेट का उपयोग कर सकेंगे, सोशल मीडिया मंचों का उपयोग कर सकेंगे और ई-मेल आसानी से भेज सकेंगे. इतना ही नहीं वे उड़ान के दौरान ऐप के जरिए कॉल भी कर सकेंगे. इनमारसेट द्वारा जारी बयान में स्पाइसजेट ने कहा कि वह इस साल के अंत तक नए बोइंग 737 मैक्स विमान पेश करने के साथ अपने यात्रियों को महत्वपूर्ण संपर्क सुविधा उपलब्ध कराने को उत्सुक है.

बयान के अनुसार बीएसएनएल को दूरसंचार विभाग से मिले उड़ान और समुद्री संपर्क लाइसेंस (आईएफएमसी) के तहत जीएक्स सेवाएं सभी भारतीय ग्राहकों के लिए उपलब्ध होंगी. यह घोषणा महत्वपूर्ण है, क्योंकि इसका मतलब है कि भारतीय विमानन कंपनियां देश और विदेश में उड़ान के दौरान संपर्क सुविधा के लिए जीएक्स का उपयोग कर सकेंगी. साथ ही इससे भारतीय समुद्र क्षेत्र में काम करने वाली देश की वाणिज्यिक कंपनियां जहाजों के बेहतर संचालन और चालक दल से जुड़ी कल्याण सेवाओं के लिए अपने जहाजों में डिजिटलीकरण को बढ़ाने में सक्षम होंगी.

बीएसएनएल (भारत संचार निगम लि) के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक पीके पुरवार ने कहा कि इस सेवा के लिए शुल्क का निर्धारण अभी नहीं किया गया है. बीएसएनएल नवंबर से इन सेवाओं के साथ पूरी तरह से तैयार होगी. बीएसएनएल को मिले लाइसेंस के तहत जीएक्स सेवाएं सरकार और अन्य उपयोगकर्ताओं को पेश की जाएंगी. ग्राहकों तथा भागीदारों के लिए सेवाओं की पेशकश चरणबद्ध तरीके से होगी.

395 दिन तक 600GB डाटा, अनलिमिटिड कॉलिंग और OTT सब्सक्रिप्शन मिलेगा BSNL के इस प्लान में...


स्पाइसजेट लिमिटेड के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अजय सिंह के हवाले से बयान में कहा गया है कि हम इस बात से खुश हैं कि उड़ान के दौरान यात्रियों को संपर्क सेवा देने वाली ग्लोबल एक्सप्रेस की सुविधाएं अब भारत में आ रही हैं. हम अपने यात्रियों को यह सेवा इस साल के अंत तक उपलब्ध कराएंगे, इस सेवा से ग्राहक हवाई यात्रा के दौरान लोगों से जुड़े रहेंगे, जैसे वे अन्य जगहों पर होते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि जीएक्स के बैंड में काम करता है. यह उच्च गति का ब्रॉडबैंड नेटवर्क है. इसे दुनिया में कहीं भी आवाजाही के दौरान बेहतर संपर्क सुविधा प्रदान करने के मकसद से तैयार किया गया है. यह सेवा उच्च बैंडविड्थ, विश्वसनीयता और सुरक्षा प्रदान करती है. यह आवाजाही के दौरान वाणिज्यिक और सरकारी स्तर के ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा करती है. इनमारसैट के सीईओ (मुख्य कार्यपालक अधिकारी) राजीव सूरी ने कहा कि आज का दिन इनमारसैट और भारत के साथ हमारी मूल्यवान और दीर्घकालिक भागीदारी के लिए महत्वपूर्ण है. भारत 1979 में इनमारसैट की स्थापना से जुड़ी संधि पर हस्ताक्षर करने वालों में शामिल है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)