ये पाखंड की चरमसीमा : केंद्र सरकार के खिलाफ संजय राउत के बयान पर बीजेपी का ट्वीट

बीजेपी की ओर से ट्वीट किया गया है कि केंद्र की रिपोर्ट पर संजय राउत नकली पीड़ा व्यक्त कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पर दावे के लिए केस दर्ज किया जाना चाहिए. इस बयान ने MVA सरकार और शिवसेना की बेशर्म राजनीति को एक बार फिर उजागर कर दिया है.

ये पाखंड की चरमसीमा : केंद्र सरकार के खिलाफ संजय राउत के बयान पर बीजेपी का ट्वीट

संजय राउत ने ऑक्सीजन की कमी से मौतों पर बयान को लेकर केंद्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की बात कही थी

नई दिल्ली:

संसद में ऑक्सीजन की कमी से होने वाली मौतों पर केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री डॉ भारती प्रवीण कुमार द्वारा ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं' का लिखित बयान देने के बाद सियासी हलचल तेज है. शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने इस बयान पर गहरी नाराजगी जताई है और कहा है कि ऐसे झूठे बयान देने पर सरकार के खिलाफ केस दर्ज होना चाहिए. संजय राउत के इस बयान पर महाराष्ट्र बीजपी ने भी ट्वीट कर प्रहार किया है. 

बीजेपी मुंबई के वैरिफाइड ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया गया है कि संजय राउत कितने 'पाखंडी' और 'बेशर्म' हैं. मई 2021 में ठाकरे सरकार ने बॉम्बे हाईकोर्ट में रिपोर्ट दाखिल की थी, जिसमें दावा किया गया था कि किसी भी मरीज की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई. केंद्र ने अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार द्वारा भेजी गई जानकारी के आधार पर ही बनाई है. शिवसेना के एमपी संजय राउत केंद्र पर झूठ बोलने का आरोप लगा रहे हैं, ये तो पाखंड की चरमसीमा है.


अब इस रिपोर्ट पर संजय राउत नकली पीड़ा व्यक्त कर रहे हैं. राउत ने कहा था कि केंद्र सरकार पर दावे के लिए केस दर्ज किया जाना चाहिए. इस बयान ने MVA सरकार और शिवसेना की बेशर्म राजनीति को एक बार फिर उजागर कर दिया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि समाचार एजेंसी ANI से बातचीत में राउत ने कहा, "मैं अवाक हूं. ऑक्सीजन की कमी से अपनों को खोने वाले इस बयान को सुनकर उनके परिवारों पर क्या बीत रही होगी? सरकार के खिलाफ मुकदमा दर्ज होना चाहिए. सरकार झूठ बोल रही है."