विवादित धार्मिक नेता यति नरसिम्हानंद पर एक औऱ केस दर्ज, राष्ट्रीय महिला आय़ोग की शिकायत पर कार्रवाई

पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ने कहा कि यति नरसिम्हानंद के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की गई हैं. महिलाओं के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी का यह मामला सोशल मीडिया के जरिये पुलिस के संज्ञान में आया था. इस मामले में आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जा रही है.

विवादित धार्मिक नेता यति नरसिम्हानंद पर एक औऱ केस दर्ज, राष्ट्रीय महिला आय़ोग की शिकायत पर कार्रवाई

NCW की शिकायत पर UP Police ने की कानूनी कार्रवाई

गाजियाबाद:

दादरी में रहने वाले विवादित धार्मिक नेता यति नरसिम्हानंद के ख़िलाफ़ एक और मुक़दमा दर्ज किया गया है.राष्ट्रीय महिला आयोग की शिकायत पर ग़ाज़ियाबाद में मुक़दमा दर्ज किया गया है. उनके खिलाफ अफ़वाह फ़ैलाने, महिलाओं के लिए अपमानजनक टिप्पणी करने औरशांति भंग करने के लिए बयान देने जैसी धाराओं के तहत मुक़दमा दर्ज़ किया गया है. यूपी पुलिस के अनुसार, नरसिम्हानंद (yeti Narasimhanand) पर आईपीसी की धारा 505(1), 509, 504, 506के तहत केस दर्ज किया गया है. उन पर IT एक्ट की धारा 67 के तहत भी मुक़दमा दर्ज़ किया गया है.

पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ने कहा कि यति नरसिम्हानंद के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की गई हैं. महिलाओं के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी का यह मामला सोशल मीडिया के जरिये पुलिस के संज्ञान में आया था. इस मामले में आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जा रही है.


नरसिम्हानंद का एक वीडियो वायरल है जिसमें वो बीजेपी के नेताओं के ख़िलाफ़ अशोभनीय टिप्पणी कर रहा था. नरसिम्हानंद पहले भी कई विवादित बयानों को लेकर कठघरे में खड़े किए गए हैं. उन पर पहले भी कई केस दर्ज किए जा चुके हैं. उन्होंने मार्च में एक कार्यक्रम के दौरान पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम पर भी अशोभनीय टिप्पणी की थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा था, ‘देश में शीर्ष पद पर काबिज कोई भी मुसलमान भारत समर्थक नहीं हो सकता और कलाम एक जिहादी थे.''नरसिम्हानंद ने बिना किसी आधार के दिवंगत पूर्व राष्ट्रपति पर डीआरडीओ प्रमुख के तौर पर पाकिस्तान को एटम बम का फार्मूला बताने का आरोप लगाया. साथ ही दावा किया, कलाम ने राष्ट्रपति भवन में एक प्रकोष्ठ बना रखा था, जहां कोई भी मुसलमान शिकायत कर सकता था.