अखिलेश यादव से मिले AAP सांसद संजय सिंह, चुनावी गठजोड़ की चर्चा

मायावती और कांग्रेस के साथ अपने असफल  गठबंधन का उल्लेख करते हुए यादव ने पिछले महीने कहा था कि आगामी विधानसभा चुनावों के लिए वह किसी भी दल से गठजोड़ नहीं करेंगे. हालांकि, उन्होंने कहा था कि उनकी पार्टी समान विचारधारा वाले छोटे दलों के साथ गठबंधन करेगी.

अखिलेश यादव से मिले AAP सांसद संजय सिंह, चुनावी गठजोड़ की चर्चा

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से आप सांसद संजय सिंह ने मुलाकात की.

नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने आज आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के वरिष्ठ नेता और सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में दोनों दलों के संभावित गठजोड़ की चर्चा तेज हो गई है.

हालांकि, संजय सिंह ने एक ट्वीट में स्पष्ट किया है कि उन्होंने अखिलेश यादव के साथ मुलाकात में बीजेपी की दमनकारी नीतियों और हाल ही में संपन्न जिला पंचायत चुनावों के बारे में चर्चा की, जहां पार्टी ने बड़ी जीत हासिल की है उन्होंने ट्वीट किया, "चुनावी व्यस्तता के बावजूद मुलाक़ात का समय देने के लिये आपका अत्यंत आभार.. BJP की दमनकारी नीतियों और ज़िला पंचायत के चुनाव में लोकतंत्र को लूटतंत्र में परिवर्तित करने के मुद्दे पर भी गहन चर्चा हुई.."

राम मंदिर जमीन विवाद : AAP सांसद संजय सिंह बोले- घोटालेबाजों पर कार्रवाई के बजाय चंदा चोरों के पक्ष में BJP

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पार्टी को बड़ा झटका देते हुए सत्तारूढ़ बीजेपी ने शनिवार को राज्य में जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनावों में भारी जीत हासिल की. इस चुनाव में बीजेपी ने 75 में से 67 सीटें जीतीं. अखिलेश यादव की पार्टी ने केवल पांच सीटें जीतीं,जबकि राष्ट्रीय लोक दल, जनसत्ता दल और एक निर्दलीय उम्मीदवार ने एक-एक सीट जीती.

नतीजों के बाद, 47 वर्षीय यादव ने बीजेपी पर चुनावों का मज़ाक उड़ाने का आरोप लगाते हुए कहा कि उसने मतदाताओं का "अपहरण" कर लिया और उन्हें मतदान से रोकने के लिए "बल" का इस्तेमाल किया.

समाजवादी प्रमुख ने यह भी कहा कि राज्य चुनाव आयुक्त को एक ज्ञापन सौंपने के बावजूद, कोई कार्रवाई नहीं की गई. उन्होंने आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ दल की "तानाशाही" निकाय चुनाव में स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही थी.

मायावती और कांग्रेस के साथ अपने असफल  गठबंधन का उल्लेख करते हुए यादव ने पिछले महीने कहा था कि आगामी विधानसभा चुनावों के लिए वह किसी भी दल से गठजोड़ नहीं करेंगे. हालांकि, उन्होंने कहा था कि उनकी पार्टी समान विचारधारा वाले छोटे दलों के साथ गठबंधन करेगी.


इस घोषणा के साथ ही आप के वरिष्ठ नेता के साथ अचानक हुई मुलाकात ने गठबंधन की अटकलों को हवा दे दी है. अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी अन्य राज्यों में भी अपनी पहुंच बढ़ा रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


जनवरी में संजय सिंह ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख ओम प्रकाश राजभर के साथभी  बैठक की थी, जिसमें गठबंधन के बारे में चर्चा हुई थी. हालांकि, राज्यसभा सांसद ने बातचीत को यह कहते हुए खारिज कर दिया था कि गठबंधन के बारे में बात करना जल्दबाजी होगी.