यह ख़बर 15 अक्टूबर, 2012 को प्रकाशित हुई थी

संजय जोशी ने भाजपा में नाराज चल रहे नेताओं और कार्यकर्ताओं से भेंट की

संजय जोशी ने भाजपा में नाराज चल रहे नेताओं और कार्यकर्ताओं से भेंट की

खास बातें

  • भाजपा के पूर्व महासचिव और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के धुर विरोधी संजय जोशी ने रविवार को राज्य में कई बैठकों में हिस्सा लिया जिनमें मुख्यमंत्री द्वारा हाशिए पर धकेल दिए गए कई प्रदेश भाजपा नेता मौजूद थे।
अहमदाबाद/सूरत:

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व महासचिव और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के धुर विरोधी संजय जोशी ने रविवार को राज्य में कई बैठकों में हिस्सा लिया जिनमें मुख्यमंत्री द्वारा हाशिए पर धकेल दिए गए कई प्रदेश भाजपा नेता मौजूद थे।

मोदी के कहने पर भाजपा के महासचिव पद से हटा दिए गए जोशी अहमदाबाद, सूरत और नवसारी जिले गए जहां उन्होंने कई पार्टी कार्यकर्ताओं और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों से मुलाकात की।

अहदमाबाद में उन्होंने पूर्व विधायक भवीन सेठ द्वारा आयोजित एक धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम में सेठ के अलावा शहर के तीन पूर्व महापौर एवं कुछ स्थानीय भाजपा नेता भी मौजूद थे। सू़त्रों के अनुसार इन सभी को मोदी ने हाशिए पर डाल दिया है। जोशी ने मोदी या आगामी विधानसभा चुनाव के बारे में संवाददाताओं के किसी भी सवाल का जवाब नहीं दिया।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं धार्मिक कार्यक्रम के प्रति अपनी निष्ठा जताने यहां आया हूं और यहां से मैं सूरत जा रहा हूं जहां पहले से मेरा कार्यक्रम तय है।’’ जोशी शहर में संघ मुख्यालय गए और फिर वह पूर्व गृहराज्य मंत्री हरेन पांडया के निजी सहायक से मिलने गए।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बाद में वह सूरत और नवसारी गए जहां उन्होंने कई पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं से भेंट की। ये वे नेता हैं जो मोदी खेमा के नहीं समझे जाते हैं।