Vinayak Chaturthi 2022: विनायक गणेश चतुर्थी कब, जानें डेट, शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

Vinayak Chaturthi 2022 Date: आश्विन मास की विनायक चतुर्थी का खास महत्व होता है. दरअसल इस महीने में नवरात्रि भी होती है. आइए जानते हैं विनायक चतुर्थी कब है.

Vinayak Chaturthi 2022: विनायक गणेश चतुर्थी कब, जानें डेट, शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

Vinayak Chaturthi 2022 Date: विनायक गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त और पूजा विधि यहां जानिए.

Vinayak Chaturthi 2022 Date Puja Vidhi: भगवान गणेश को प्रथम पूज्य मानकर इनकी पूजा सबसे पहले की जाती है. धार्मिक मान्यता के अनुसार, गणपति की पूजा से सुख-समृद्धि का आशीर्वाद मिलता है. ऐसा इसलिए क्योंकि इन्हें सुख और समृद्धि का देवता माना गया है. हर महीने भगवान गणेश को समर्पित संकष्टी चतुर्थी और विनायक चतुर्थी पड़ती है. कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को संकष्टी चतुर्थी मनाई जाती है, जबकि शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि पर विनायक चतुर्थी मनाई जाती है. हिंदू पंचांग के अनुसार, आश्विन मास की विनायक चतुर्थी 29 सितंबर गुरुवार को पड़ रही है. आइए जानते हैं विनायक चतुर्थी का शुभ मुहूर्त और पूजा विधि.

विनायक चतुर्थी 2022 शुभ मुहूर्त | Vinayak Chaturthi 2022 Shubh Muhurat

आश्विन मास की विनायक चतुर्थी 29 सितंबर, गुरुवार को मनाई जाएगी. पंचांग के अनुसार, चतुर्थी तिथि की शुरुआत 29 सितंबर को देर रात 1 बजकर 28 मिनट से होगी. वहीं चतुर्थी तिथि की समाप्ति 30 सितंबर को देर रात 12 बजकर 09 मिनट पर होगी. 29 सितंबर को भगवान गणेश की पूजा के लिए शुभ मुहूर्त सुबह 11 बजे से दोपहर 1 बजकर 23 मिनट तक है.

Masik Shivratri 2022: मासिक शिवरात्रि का व्रत रखा जाएगा कल, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

विनायक चतुर्थी पूजा विधि | Vinayak Chaturthi 2022 Puja Vidhi

विनायक चतुर्थी के दिन सुबह नहाने के बाद साफ वस्त्र पहन लें. इसके बाद गणेश जी के सामने प्रार्थना करते हुए पूजन का संकल्प लें. गणेश जी की मूर्ति एक चौकी पर स्थापित कर उन्हें जल अर्पित करें. इसके बद भगवान गणेश को चंदन का तिलक लगाएं. फिर वस्त्र, कुमकुम, धूप, दीप, लाल फूल अक्षत, पान, सुपारी आदि अर्पित करें. गणेश जी को मोदक और दूर्वा घास बेहद प्रिय है. ऐसे में उनकी कृपा पाने के लिए विनायक चतुर्थी के दिन मोदक या लड्डू का भोग जरूर लगाएं और दूर्वा अर्पित करें. पूजन के अंत में गणपति की आरती करें. इसके अलावा गणेश जी की पूजा और व्रत में मन, कर्म और वचन से शुद्ध रहें और ब्रह्मचर्य के नियमों का पालन करें.

Navratri 2022 Pujan Samagri: घटस्थापना से पहले तैयार रखें ये पूजन सामग्री, यहां जानें पूरी लिस्ट

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

राजस्थान: दुर्गा पूजा की तैयारियां शुरू, बनाई जा रही हैं मां की मूर्तियां

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com