विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 04, 2022

Navratri 2022 Navami: महा नवमी आज, ये 3 काम करने से मां दुर्गा होंगी प्रसन्न! जानें मुहूर्त

Navratri 2022 Maha Navami: शारदीय नवरात्रि की नवमी तिथि बेहद महत्वपूर्ण होती है. इस दिन हवन और कन्या पूजन किया जाता है.

Read Time: 3 mins
Navratri 2022 Navami: महा नवमी आज, ये 3 काम करने से मां दुर्गा होंगी प्रसन्न! जानें मुहूर्त
Navratri 2022 Maha Navami: इस बार महानवमी 4 अक्टूबर, 2022 को पड़ रही है.

Navratri 2022 Navami Date, Shubh Muhurat: शारदीय नवरात्रि के आखिरी दिन को नवमी या महानवमी (Navami 2022) कहा जाता है. इस दिन मां दुर्गा के नौवीं स्वरूप सिद्धिदात्री माता की पूजा (siddhidatri Puja) की जाती है. इसके साथ ही इस दिन हवन (Havan) और कन्या पूजन  (Kanya Pujan 2022) भी किया जाता है. माता सिद्धिदात्री की पूजा से भक्तों के सारे कार्य सिद्ध हो जाते हैं. मान्यता यह भी है कि इस दिन विशेष पूजा से सभी प्रकार की सिद्धयां प्राप्त होती है. पंचांग के अनुसार, नवमी तिथि 4 अक्टूबर, मंगलवार को यानी आज है. आइए जानते हैं नवमी के दिन पूजा के लिए शुभ मुहूर्त और इस दिन कौन से 3 काम करने से मां दुर्गा की विशेष कृपा प्राप्त होती है. 

नवरात्रि 2022 महानवमी तिथि | Navratri 2022 Maha Navami Date

पंचांग के अनुसार, मंगलवार, 3 अक्टूबर को शाम 4 बजकर 37 मिनट से नवमी तिथि की शुरुआत हो रही है. वहीं नवमी तिथि का समापन 4 अक्टूबर 2022 को दोपहर 2 बजकर 20 मिनट पर होगा. उदया तिथि के मुताबिक नवमी का व्रत और कन्या पूजन 4 अक्टूबर को ही किया जाएगा. 

नवमी 2022 शुभ मुहूर्त | Navratri 2022 Maha Navami Shubh Muhurat

नवरात्रि के 9वें दिन यानी नवमी तिथि को नवरात्रि का समापन होता है. इस दिन हवन और कन्या पूजन का विधान है. ऐसे में 4 अक्टूबर को हवन के लिए शुभ मुहूर्त  सुबह 6 बजकर 21 मिनट से दोपहर 2 बजकर 20 मिनट तक है. इसके अलावा नवरात्रि व्रत-पारण के लिए शुभ समय दोपहर 2 बजकर 20 मिनट के बाद है. 

Festival List October 2022: अक्‍टूबर में दशहरा, करवा चौथ, धनतेरस और दिवाली समेत पड़ेगें ये व्रत-त्योहार, जानें पूरी लिस्ट

महानवमी पर क्या करें 

- आश्विन शुक्लपक्ष की नवमी तिथि को नवरात्रि पर्व का समापन होता है. ऐसे में इस दिन मां दुर्गा के नौवें स्वरूप माता सिद्धिदात्री की पूजा करें. 

- महानवमी के दिन कन्या पूजन का खास महत्व है. इस दिन कन्या पूजन के लिए 2 से 10 वर्ष की आयु की कन्याओं को आमंत्रित करें. उन्हें श्रद्धापूर्वक भोजन कराएं. साथ ही उनका आशीर्वाद प्राप्त करें. इस दिन कन्या पूजन के अलावा बटुक भैरव के रूप में बालक को भी निमंत्रित किया जाता है. 

- नवरात्रि की नवमी तिथि को हवन करने का भी विधान है. ऐसे में इस दिन मां दुर्गा के मंत्रों से हवन करें. मान्यतानुसार नवमी तिथि पर हवन करने से 9 दिन के व्रत का फल शुभ फल प्राप्त होता है.

Ashtami 2022 Kanya Pujan: कन्या पूजन के लिए बेहद जरूरी हैं ये नियम, जानें किस उम्र की कन्याओं की होती है पूजा

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.) 

हमारे यहां सभी धर्मों के लोगों का स्वागतः आयोजक

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Weekly rashiphal 2024 : यहां जानिए 24 से 30 जून कैसा बितेगा आपका जीवन
Navratri 2022 Navami: महा नवमी आज, ये 3 काम करने से मां दुर्गा होंगी प्रसन्न! जानें मुहूर्त
9 या 10 मई कब है अक्षय तृतीया और किस समय खरीदारी करना होगा शुभ, जानें सही तारीख और समय यहां
Next Article
9 या 10 मई कब है अक्षय तृतीया और किस समय खरीदारी करना होगा शुभ, जानें सही तारीख और समय यहां
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;