Delhi: मनीष सिसोदिया का केंद्र पर निशाना, बोले-ऑक्‍सीजन की कमी से मौत संबंधी हमसे कोई डेटा नहीं मांगा'

मनीष सिसोदिया ने कहा, 'दिल्ली सरकार को केंद्र सरकार से ऐसी कोई चिट्ठी नहीं मिली है जिसमें वह यह पूछ रहे हो कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से कोई मौत हुई है या नहीं हुई.'

Delhi: मनीष सिसोदिया का केंद्र पर निशाना, बोले-ऑक्‍सीजन की कमी से मौत संबंधी हमसे कोई डेटा नहीं मांगा'

ऑक्‍सीजन की कमी मामले में मनीष सिसोदिया बोले, दिल्‍ली सरकार को अब तक कोई लेटर नहीं मिला

नई दिल्ली:

कोरोना महामारी के दौरान ऑक्‍सीजन की कमी (oxygen shortage) से देश में कोई मौत होने के संंबध में राज्‍यों से डाटा मांगे जाने को लेकर दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. मंगलवार को आयोजित डिजिटल  प्रेस कांफ्रेंस में सिसोदिया ने कहा कि केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार से ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत से संबंधित कोई डेटा नहीं मांगा. उन्‍होंने कहा, 'दिल्ली सरकार को केंद्र सरकार से ऐसी कोई चिट्ठी नहीं मिली है जिसमें वह यह पूछ रहे हो कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से कोई मौत हुई है या नहीं हुई. मैं लगातार अपने अधिकारियों से पूछ रहा हूं कि केंद्र सरकार के यहां से कोई चिट्ठी आई है?''आज तक केंद्र सरकार के यहां से ऐसी कोई चिट्ठी नहीं आई. दिल्ली सरकार ने तय किया है कि बेशक केंद्र सरकार ने हमसे पूछा नहीं लेकिन हम केंद्र सरकार को अपना जवाब बनाकर भेजेंगे और उसको ही केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट संसद और जनता के रखें.'

Maharashtra: स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे का दावा, ऑक्सीजन की कमी से कोविड के किसी मरीज की मौत नहीं हुई


सिसोदिया ने कहा कि जब आप राज्य सरकार से पूछोगे ही नहीं तो फिर वह बताएंगे कैसे?दिल्ली में ऑक्सीजन का संकट हुआ था लेकिन बिना जांच के हम यह नहीं कह सकते कि कितनी मौत हुईं? हमने जांच के लिए कमेटी बनाई थी उसको एलजी साहब से कहकर रुकवा दिया कि केंद्र सरकार राज्यों के साथ संवाद करें.दिल्ली सरकार ने तय किया है कि बेशक केंद्र सरकार ने हमसे पूछा नहीं लेकिन हम केंद्र सरकार को अपना जवाब बनाकर भेजेंगे और उसको ही केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट संसद और जनता के रखें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्‍होंने कहा, 'आज के अखबारों में मैंने खबर पड़ी कि केंद्र सरकार कह रही है कि उसने राज्य सरकारों से पूछा है कि उनके यहां ऑक्सीजन की कमी कितनी मौत हुई. अखबारों की रिपोर्ट बता रही हैं कि 12 राज्यों ने कहा कि कोई मौत नहीं हुई और एक राज्य ने कहा-हुई. थोड़े दिन पहले मैंने अखबारों में पढ़ा था कि केंद्र सरकार ने 13 अगस्त तक राज्य सरकारों को समय दिया है और पूछा है कि बताएं ऑक्सीजन की कमी की वजह से मौत हुई है? जहां तक हमारी बात है 'दिल्ली सरकार को केंद्र सरकार से ऐसी कोई चिट्ठी नहीं मिली है.