वर्ल्ड कप फ़ाइनल में बंद कर दिया टीवी, तो शख्स ने बेटे का ही मोबाइल चार्जर से घोंट दिया गला

पुलिस के मुताबिक, गणेश प्रसाद कानपुर स्थित अपने घर में मैच देख रहा था, और उसी दौरान उसके पुत्र दीपक ने उससे खाना बना देने का आग्रह किया. जब गणेश प्रसाद ने बेटे की बात नहीं सुनी, तो दीपक ने टीवी स्विच ऑफ़ (बंद) कर दिया, जिससे बहस शुरू हो गई.

वर्ल्ड कप फ़ाइनल में बंद कर दिया टीवी, तो शख्स ने बेटे का ही मोबाइल चार्जर से घोंट दिया गला

पुलिस ने बताया है कि पिता-पुत्र अक्सर शराब पी लिया करते थे, और एक-दूसरे से झगड़ते थे...

छह हफ़्ते से भी ज़्यादा वक्त तक समूचे देश को रोमांचित रखने वाले ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 का अंतिम मैच, यानी फ़ाइनल मैच रविवार को खेला गया था, और क्रिकेट प्रशंसकों की मदहोशी भी चरम पर थी. टूर्नामेंट की शुरुआत से अजेय रही भारतीय टीम ने आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलिया के हाथों मात खाई, और तीसरी बार ट्रॉफ़ी जीतने का सपना सपना ही रह गया. इस वर्ल्ड कप और फ़ाइनल मैच के दौरान क्रिकेट प्रशंसकों के रोमांच का आलम यह था कि उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में एक शख्स ने अपने ही पुत्र की सिर्फ़ इसलिए हत्या कर डाली, क्योंकि बेटे ने मैच के दौरान टीवी बंद कर दिया था.

पुलिस के मुताबिक, गणेश प्रसाद कानपुर स्थित अपने घर में मैच देख रहा था, और उसी दौरान उसके पुत्र दीपक ने उससे खाना बना देने का आग्रह किया. जब गणेश प्रसाद ने बेटे की बात नहीं सुनी, तो दीपक ने टीवी स्विच ऑफ़ (बंद) कर दिया, जिससे बहस शुरू हो गई.

कुछ ही देर में बहस हाथापाई में बदल गई, और शराब पीकर मैच देख रहे गणेश ने मोबाइल चार्जर के तार से गला घोंटकर दीपक को मार डाला. इसके बाद गणेश घर से भाग गया, और उसे सोमवार को कानपुर पुलिस ने गिरफ़्तार किया.

दीपक का शव एक रिश्तेदार को सीढ़ियों पर पड़ा मिला था. पुलिस का कहना है कि फिलहाल ऐसा ही लगता है कि हत्या की वजह क्रिकेट मैच देखने को लेकर हुआ विवाद था.

चकेरी पुलिस स्टेशन के प्रभारी सहायक पुलिस आयुक्त (ACP) बृजनारायण सिंह ने कहा कि हत्या में मोबाइल चार्जर की केबल का इस्तेमाल किया गया. दीपक के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पुलिस ने बताया है कि पिता-पुत्र अक्सर शराब पी लिया करते थे, और एक-दूसरे से झगड़ते थे. दीपक की मां भी पिछले ही हफ़्ते घर छोड़कर चली गई थी, जब दीपक ने मां पर हाथ उठाया था.