व्हाइट बॉल क्रिकेट नहीं, बल्कि मोइन अली ने इस असल वजह से लिया टेस्ट से संन्यास, ऑलराउंडर ने बताया

IPL 2021: अली ने टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए मौका देने वाले लोगों और हालिया सालों में अपने परिवार का शुक्रिया भी अदा किया. मोइन बोले कि मैं पीटर मूर्स और क्रिस सिल्वरवुड अपना कोच होने और टेस्ट क्रिकेट में मौका देने के लिए शुक्रिया अदा करता हूं.

व्हाइट बॉल क्रिकेट नहीं, बल्कि मोइन अली ने इस असल वजह से लिया टेस्ट से संन्यास, ऑलराउंडर ने बताया

इंग्लैंड के ऑलराउंडर मोइन अली अब टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलेंगे

खास बातें

  • मोइन अली ने ले लिया टेस्ट क्रिकेट से संन्यास
  • सफेद गेंद क्रिकेट खेलने के मोह की वजह से नहीं लिया संन्यास
  • इंग्लैंड के लिए खेल चुके हैं 64 टेस्ट मैच
नयी दिल्ली:

आईपीएल (IPL 2021) में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए खेल रहे मोइन अली ने सोमवार को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेकर सभी को हैरान कर दिया. कहा जा रहा है कि मोइन अली (Moeen Ali calls it a day from Test) ने व्हाइट बॉल क्रिकेट पर ध्यान देने के लिए ऐसा फैसला लिया, लेकिन अब इस ऑलराउंडर ने अपने संन्यास के पीछे की असल वजह बतायी है. मोइन अली ने कहा कि भारत के साथ हालिया सीरीज के बाद उन्होंने खुद को इस फॉर्मेट में खत्म महसूस किया.  मोइन अली ने साल 2004 में अपने टेस्ट करियर का आगाज किया था. तब से उन्होंने 64 मैचों में 195 विकेट लिए. इसमें उन्होंने पांच विकेट इतनी ही बार लिए.

ध्यान दिला दें कि मोइन अली ने साल 2019 में टेस्ट क्रिकेट में अनिश्चितकाल के लिए ब्रेक लिया था. वजह यह थी कि मोइन के साथ कुछ मानसिक समस्याएं थीं और वह अपनी मेंटल हेल्थ पर पूरा ध्यान देना चाहते थे. और जब मोइन ने खुद को बेहतर महसूस किया, तो उन्होंने भारत के खिलाफ  पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में वापसी की, लेकिन अभी भी वूरेस्टरशायर और इंग्लैंड के लिए व्हाइट-बॉल क्रिकेट खेलने वाले अली ने स्वीकार किया कि टेस्ट क्रिकेट उन्हें काफी ज्यादा थका रहा था.

 ये भी पढ़ें 
CSK टीम के खिलाड़ी ने लिया अचानक से संन्यास का फैसला, अब नहीं खेलेगा टेस्ट क्रिकेट
Harshal Patel ने हैट्रिक लेकर बल्लेबाजों को पिच पर ऐसे नचाया, कोहली की खुशी का ठिकाना न रहा- Video
RCB vs MI: विराट यह बड़ा रिकॉर्ड बनाने वाले बनने पहले भारतीय बल्लेबाज, 42 साल का बल्लेबाज है किंग
IPL 2021: घुटने में लगी चोट के बावजूद डु प्लेसी ने लिया 'सुपरकैच', देखकर होश उड़ जाएंगे, देखें Video

मोइन ने एक वेबसाइट से बातचीत में कहा कि ईमानदारी भारत के खिलाफ सीरीज के दौरान मैंने महसूस किया कि मैं मानो खत्म हो चुका हूं, थक चुका हूं. उन्होंने कहा कि मैं स्थगित हुए आखिरी टेस्ट में खेलने की उम्मीद कर रहा था. इस सीरीज में मैं कुछ रिकॉर्ड बनाने की उम्मीद कर रहा था, लेकिन जब ओल्डट्रैफर्ड मैच रद्द हुआ, तो मैं खुश था. अली ने स्वीकार किया कि खेल के मानसिक पहलुओं ने उन पर काफी असर डाला और मैंने खुद को थका हुआ पाया. इस ऑलराउंडर ने कहा कि टेस्ट करियर की एक लंबी यात्रा रही है, लेकिन मैं याद करता हूं कि एक बार मैं फील्डिंग कर रहा था, तो मैंने मानसिक पहलू के साथ थोड़ा संघर्ष किया.  


अली ने टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए मौका देने वाले लोगों और हालिया सालों में अपने परिवार का शुक्रिया भी अदा किया. मोइन बोले कि मैं पीटर मूर्स और क्रिस सिल्वरवुड अपना कोच होने और टेस्ट क्रिकेट में मौका देने के लिए शुक्रिया अदा करता हूं. साथ ही, मैं कुक और जो. रूट का भी शुक्रिया अदा करता हूं. मैंने इन दोनों की कप्तानी में खेलने का पूरा लुत्फ उठाया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:  ​IPL 2021: हर्शल पटेल की हैट्रिक से जीती टीम