India vs England 1st ODI: भारत ने इंग्लैंड को 66 रन से धोया, सीरीज में 1-0 की बढ़त पर

India vs England 1st ODI Cricket Score: शुरुआती पारी की बात करें, तो इंग्लैंड से बैटिंग का न्योता पाने के बाद पहले शिखर धवन (98 रन, 106 गेंद, 11 चौके, 2 छक्के) की उम्दा बल्लेबाजी और आखिरी में करियर का पहला मैच खेल रहे क्रुणाल पंड्या (नाबाद 58 रन, 31 गेंद, 7 चौके, 2 छक्के) और फॉर्म हासिल करने वाले केएल राहुल(नाबाद 62 रन, 43 गेंद, 4 चौके, 4 छक्के) के आक्रामक नाबाद अर्द्धशतकों से भारत ने इंग्लैंड के साने जीत के लिए 318 रन का लक्ष्य रखा. कप्तान विराट कोहली (56 रन, 60 गेंद, 6 चौके) ने भी अपनी फॉर्म जारी रखी, जो हार्दिक और राहुल के अटैक के आगे छिप सी गयी.

India vs England 1st ODI: भारत ने इंग्लैंड को 66 रन से धोया, सीरीज में 1-0 की बढ़त पर

India vs England 1st ODI Cricket Score: शिखर धवन मैन ऑफ द मैच चुने गए

पुणे:

India vs England 1st ODI:  दो दिन पहले ही अंग्रेजों को टी20 सीरीज में 3-2 से पटखनी दने के बाद पुणे के एमसीए मैदान पर आज से शुरू हुई तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में भारत ने पहले अपने बल्लेबाज और फिर गेंदबाजों के जरूरत के मौके पर शानदार प्रदर्शन से मेहमानों को 66 रन से मात देकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली. भारत से मिले 318 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए बहुत ही धमाकेदार शुरुआत की और उसके ओपनर जॉनी बैर्यस्टो (94) और जेसन रॉय (49) ने सिर्फ 14.2 ओवरों में पहले विकेट के लिए 135 रन जोड़कर भारतीय प्रशंसकों को मायूस कर दिया. पावर-प्ले की पावर देखकर बहुत हद तक मैच की तस्वीर साफ हो गयी थी क्योंकि इंग्लैंड ने  बिना नुकसान के 89 रन जोड़ दिए थे, लेकिन जॉनी जेसन रॉय गए, तो नियमित अंतराल पर विकेट गिरते ही रहे. दूसरे आउट होने वाले बल्लेबाज बेन स्टोक्स रहे, जो पहला मैच खेल रहे प्रसिद्ध कृष्णा का दूसरा विकेट रहा, लेकिन इससे पहले ओपनिंग जोड़ी ने ही बहुत हद तक मैच की दशा तय कर दी थी, लेकिन बाकी के बल्लेबाज 135 रन के मजबूत प्लेटफॉर्म पर फिसल गए!

दोनों सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय और जॉनी बैर्यस्टो  ने अपनी टीम को बहुत ही आतिशी शुरुआत दी. इन दोनों ने मिलकर भारतीय गेंदबाजों का बैंड बजाते हुए पहले विकेट के  लिए 135 रन की साझेदारी की, लेकिन बैर्यस्टो तब अपना विकेट गंवा बैठे, जब वह शतक से सिर्फ छह रन दूर थे. उन्हें शार्दूल ठाकुर की गेंद पर डीप स्कवॉयर लेग पर कुलदीप यादव ने लपका. बैर्यस्टो के आउट होने के कुछ देर बाद ही शार्दूल ने अपना दूसरा और भारत के लिए चौथा विकेट लेते हुए इंग्लैंड कप्तान इयॉन मोर्गन (22) को चलता कर दिया. मोर्गन ठाकुर की बाउंसर को पुल करने की कोशिश में विकेट के पीछे केएल राहुल को कैच दे बैठे. और शार्दूल ठाकुर का फेंका यह पारी का 25वां ओवर इंग्लैंड के लिए बहुत ही बड़ा प्रहार साबित हुआ. जहां इस ओवर की पहली गेंद पर ठाकुर ने मोर्गन को चलता किया, तो चौथी गेंद पर इनफॉर्म बटलर को एलबीडब्ल्यू कर ओवर में दूसरा और इंग्लैंड को पांचवां बड़ा झटका दिया.

इसके करीब छह ओवर बाद ही इंग्लैंड को प्रसिद्ध कृष्णा ने छठा झटका दिया, जब उन्होंने बिलिंग्स (18) को शॉर्ट-कवर पर कप्तान विराट के हाथों लपकवा दिया. यहां से मोईन अली (30) ने इंग्लैंड को सहारा देने की कोशिश की और कुलदीप यादव के खिलाफ उन्होंने कुछ अच्छे बेहतरीन स्ट्रोक लगाए, लेकिन दूसरे स्पेल में बॉलिंग करने आए भुवनेश्वर कुमार ने उन्हें विकेट के पीछे लपकवाकर भारत का आगे का जीत का मार्ग प्रशस्त कर दिया. इस रास्ते को और बड़ा करने का काम किया क्रुणाल पंड्या ने, जिन्होंने सैम कुरेन को आउट कर अपना पहला और भारतीय पारी का आठवां विकेट लिया. अगले ही ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने  आदिल राशिद को केएल राहुल के हाथों लपकवा कर पारी का नौवां विकेट लिया. भारत के लिए पहला मैच खेल रहे युवा प्रसिद्ध कृष्णा ने बेहतरीन वापसी करते हुए आखिरी विकेट चटकाने के साथ ही चार विकेट लिए, तो शार्दूल ठाकुर ने तीन विकेट चटकाए. और इस तरह इंग्लिश टीम 42.1 ओवरों में 251 रनों पर सिमय गयी और भारत ने यह मुकाबला 66रन के विशाल अंतर से जीत लिया. भारतीय ओपनर और 98 रन बनाने वाले शिखर धवन को मैन ऑफ द मैच चुना गया. वैसे यह फैसला फैंस को काफी हद तक चौंका गया क्योंकि वे पहले ही मैच में चार विकेट लेने वाले प्रसिद्ध कृष्णा को यह मिलने की उम्मीद कर रहे थे. अगले दो मुकाबले 26 और 28 को खेले जाएंगे और अब यहां से दबाव पूरी तरह से मेजबानों पर है कि वे टेस्ट और टी20 के बाद तीसरी सीरीज न  गंवाएं.

SCORE BOARD

पावर प्ले: शुरुआती 10 ओवर: इंग्लैंड ने दिखायी जबर्दस्त पावर !

इंग्लैंड की रणनीति साफ थी कि तब क्या करना है, जिस अवधि में 30 गज के घेरे के बाहर सिर्फ दो ही फील्डर रहते हैं. और यह कहना गलत नहीं ही होगा कि बैर्यस्टो और जेसन रॉय ने मैच की तस्वीर बहुत हद दक पावर-प्ले में ही तय कर दी. शुरुआती 5 ओवरों में जब तक बिना नुकसान के स्कोर 24 रन था, तो तब तक भारतीय गाड़ी एकदम ट्रैक पर दौड़ती नजर आ रही थी, लेकिन छठा ओवर लेकर पहला मैच खेल रहे प्रसिद्ध कृष्णा आए, तो बैर्यस्टो इस युवा पर कोई रहम न दिखाते हुए मानो भूखे भेड़िए की तरह टूट पड़े !  इस ओवर में दो छक्के और इतने ही चौकों से पूरे 22 रन बटोरे हुए कृष्णा को बता दिया कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कितनी क्रूर है! बैटिंग में हाथ दिखाने वाले क्रुणाल पंड्या का फेंका उनका पहला और पारी का 9वां ओवर भी कुछ इसी तरह का रहा. इसमें हमला बोला जेसन रॉय ने और 16 रन बटोर लिए.  और अगर इंग्लैंड के ओपनर पावर-प्ले (शुरुआती 10 ओवरों में) बिना नुकसान के 89 रन बनाने में कामयाब रहे, तो इनमें इन दो ओवरों में टूटा कहर एक बड़ी वजह रहा. और दस ओवरों में इंग्लैंड भारत को बुरी तरह मात देने में कामयाब रहा. इस दौरान भारत का स्कोर बिना नुकसान के 39 रन था, तो इंग्लैंड उससे न केवल मीलों आगे निकल गया.
 

शुरुआती पारी की बात करें, तो इंग्लैंड से बैटिंग का न्योता पाने के बाद पहले शिखर धवन (98 रन, 106 गेंद, 11 चौके, 2 छक्के) की उम्दा बल्लेबाजी और आखिरी में करियर का पहला मैच खेल रहे क्रुणाल पंड्या (नाबाद 58 रन, 31 गेंद, 7 चौके, 2 छक्के) और फॉर्म हासिल करने वाले केएल राहुल(नाबाद 62 रन, 43 गेंद, 4 चौके, 4 छक्के) के आक्रामक नाबाद अर्द्धशतकों से भारत ने इंग्लैंड के साने जीत के लिए 318 रन का लक्ष्य रखा. कप्तान विराट कोहली (56 रन, 60 गेंद, 6 चौके) ने भी अपनी फॉर्म जारी रखी, जो हार्दिक और राहुल के अटैक के आगे छिप सी गयी.  भारत ने रोहित शर्मा (28) के रूप में अपना पहला विकेट गंवाया, लेकिन धवन कप्तान विराट के साथ मिलकर भारत को अच्छे  स्कोर की ओर ले गए.  रोहित 28 रन बनाकर बेन स्टोक्स की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए.ओपनर शिखर धवन और रोहित शर्मा  ने खुद को खेल के फॉर्मेट में ढालते हुए टीम को सतर्क शुरुआत दी. और पुणे की यह पिच पारंपरिक नहीं दिख रही है. इस पिच में ठीक-ठाक उछाल है और गेंद सीम भी हो रही है. नंबर तीन पर कप्तान विराट कोहली ने धवन के साथ मिलकर अच्छी बल्लेबाजी और वह 56 रन बनाकर आउट हुए.

उनके बाद श्रेयस अय्यर (6) भी ज्यादा देर तक पिच पर नहीं टिक सके. धवन ने  लेफ्टी बल्लेबाज ने आदिल राशिद को मिडविकेट के ऊपर से छक्का जड़कर अपने वनडे करियर का 31वां अर्द्धशतक पूरा किया था, लेकिन जब लग रहा था कि  वह अपने 18वें शतक की ओर बढ़ रहे हैं, तभी वह दो रन से इससे चूक गए. बेन  स्टोक्स को पुल करने की कोशिश में धवन शॉर्टमिडविकेट पर मोइन अली के हाथों लपके गए. टी20 में बेहतरीन बल्लेबाजी करने वाले हार्दिक पंड्या की पहले वनडे में नहीं चली और बेन स्टोक्स ने प्लान बनाकर जल्द ही पंड्या को चलता कर दिया, लेकिन जीवन का पहला अंतरराष्ट्रीय मुकाबला खेल रहे हार्दिक पंड्या के बड़े भाई क्रुणाल पंड्या ने आखिरी ओवरों में केएल राहुल के साथ मिलकर मैच की तस्वीर बदल दी और फैंस को अपनी बल्लेबाजी से पूरा मजा दिया.

कहीं से भी नहीं लगा कि क्रुणाल अपना पहला मुकाबला खेल रहे हैं और उनके स्ट्रोक बहुत ही आत्मविश्वास से भरे दिखाई पड़े, तो शुरुआत में धीमा खेलने वाले केएल राहुल समय गुजरने के साथ ही अपनी वह गति हासिल कर ली, जिसके लिए वह जाने जाते हैं. आखिरी दस ओवरों में इंग्लिश बॉलर इन दोनों के आक्रमण के आगे बिखरकर रह गए. राहुल और पंड्या ने नाबाद रहते हुए 9.3 ओवरों में छठे विकेट के लिए 112 रन की साझेदारी की. अगर शिखर धवन ने 98 रन बनाकर आधार रखा, तो यह पंड्या और राहुल ही थे, जिन्होंने अपने आक्रामक तेवरों से भारत को कोटे के 50 ओवरों में 5  विकेट पर 317 रनों के स्कोर तक पहुंचा दिया. इन सबके बीच कप्तान विराट कोहली (56 रन, 60 गेंद, 6 चौके) को भी न भूलें, जिन्होंने रोहित के जल्द आउट होने के बाद एक उम्दा पचासा जड़ा. 

धवन ने हासिल की धमक, लेकिन...

इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे (1st ODI) से पहले अगर किसी भारतीय खिलाड़ी को लेकर सवाल थे, वे शिखर धवन को (Shikhar Dhawan) को लेकर ही थी. सोमवार को विराट कोहली के बयान से पहले सवाल यह भी था कि शिखर पहला वनडे खेलेंगे या नहीं, लेकिन जब विराट ने यह साफ किया कि पहले वनडे में धवन ही रोहित के साथ पारी की शुरुआत करेंगे, तो सवाल यह हो चला था कि क्या यह लेफ्टी बल्लेबाज इस मिले मौके को भुना पाएगा. और धवन ने सबसे जरूरी समय पर एक अच्छा अर्द्धशतक जड़कर सारे  सवालों को खत्म कर दिया. धवन ने 68 गेंदों पर पचासा जड़ा. 5 चौकों और 1 छक्के के साथ. कुछ बेहतरीन स्ट्रोक धवन के बल्ले से निकले. उनका इनसाइड-आउट छक्का देखने लायक था और वह धीरे-धीरे अपने करियर के 18वें शतक की ओर बढ़ रहे थे. लेकिन जब इसे हासिल करने के लिए सिर्फ दो रन की ही दरकार थी, तभी बेन स्टोक्स के फेंके 39वें ओवर में धवन पुल करने की कोशिश में आउट हो गए. धवन ने 106 गेंदों पर 11 चौकों और 2 छक्कों से फॉर्म हासिल करते हुए अच्छे 98 रन रन बनाए, लेकिन धवन के चाहने वाले गम में डूब गए. 

पावर प्ले: शुरुआती 10 ओवर: नहीं दिखी पावर

यह पुणे की पारंपरिक पिच जैसी नहीं दिखायी पड़ी, जिस पर अभी तक खेले गए चार वनडे में से तीन में तीन सौ से ऊपर रन बने थे. यहां दस ओवर तक यानी पावर प्ले तक पिच में अच्छा उछाल था, गेंद थोड़े से ज्यादा हिल भी रही थी. खिलाड़ी एक से दूसरे फॉर्मेंट में खेल रहे थे, धवन को रनों की तलाश थी. और इंग्लैंड के बॉलरों ने बहुत ही अच्छी गेंदबाजी की. ये तमाम कारण रहे कि दोनों भारतीय ओपनरों की तब पावर नहीं दिकी, जब 30 गज के घेरे के बाहर सिर्फ 2 ही फील्डर रहते हैं. दोनों की सतर्क एप्रोच रही और फोकस रहा पिच पर जमने पर. हां, रोहित शर्मा के बल्ले से कुछ बेहतरीन केवर और स्ट्रेट ड्राइव देखने को मिले जरूर. एक दो ऐसे ही शॉट धवन ने भी लगाए, लेकिन भारत का पावर-प्ले (शुरुआती 10 ओवर) में स्कोर बिना नुकसान के 39 रन ही रहा.

इससे पहले इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला लिया. वहीं, क्रुणाल पंड्या और प्रसिद्ध कृष्णा अपने वनडे करियर का आगाज कर रहे हैं, जिन्होंने हाल ही में घरेलू विजय हजारे ट्रॉफी में बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया. इस प्रदर्शन का इनाम सेलेक्टरों ने इन्हें दिया. ऋषभ पंत इस मच में नहीं खेलेऔर केएल राहुल ने विकेटकीपर की भूमिका निभायी. टीम इंडिया के मैनेजमेंट का दोनों खिलाड़ियों को दिया गया मौका दो सौ फीसदी फलीभूत रहा. प्रसिद्ध कृष्णा ने पहले ही वनडे में चार विकेट लिए, तो क्रुणाल ने पचासा जड़ा. वहीं तारीफ करनी होगी विराट की कि केएल राहुल को सवालों के बीच उतारने का फैसला किया और यह फैसला भी सकारात्मक साबित हुआ.

चलिए मैच में खेल रहीं दोनों देशों की फाइनल इलेवन पर गौर फरमा लीजिए.

भारत: 1. विराट कोहली (कप्तान) 2. रोहित शर्मा 3. शिखर धवन 4. श्रेयस अय्यर   5. केएल राहुल  6. क्रुणाल पंड्या 7. हार्दिक पंड्या 8. भुवनेश्वर कुमार 9. शार्दूल ठाकुर 10. कुलदीप यादव, 11. प्रसिद्ध कृष्णा



इंग्लैंड: 1. इयॉन मोर्गन (कप्तान) 2. जेसन रॉय 3. बेन स्टोक्स 4. जोस बटलर (विकेटकीपर) 5. जॉनी बैर्यस्टो 6. सैम बिलिंग्स 7. मोईन अली 8. सैम कुरेन  9. टॉम कुरेन 10. आदिल राशिद 11. मार्क वुड 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.