विज्ञापन
Story ProgressBack

Ind vs Eng: "मैं हैरान था कि...", इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज ने कुलदीप यादव की गेंदबाज़ी को लेकर दिया बड़ा बयान

Ind vs Eng; Kuldeep Yadav: टीम इंडिया ने इंग्लैंड के बैजबॉल रणनीति की हवा निकलते हुए सीरीज को 4 - 1 से अपने नाम किया.

Ind vs Eng: "मैं हैरान था कि...", इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज ने कुलदीप यादव की गेंदबाज़ी को लेकर दिया बड़ा बयान
Geoff Boycott on Kuldeep Yadav Bowling

Ind vs Eng: टीम इंडिया ने इंग्लैंड के बैजबॉल रणनीति की हवा निकलते हुए सीरीज को 4 - 1 से अपने नाम किया. आखिरी मुकाबले में धर्मशाला में भारतीय स्पिनर्स ने अपना जलवा बिखेरा. अपने 100वें मुकाबले में टीम इंडिया के जादुई स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने ये साबित कर दिया की आखिर विश्व क्रिकेट के सभी बल्लेबाज़ आखिर क्यों अश्विन के सामने घुटने टेक देते हैं, लेकिन सबसे खास अश्विन और जडेजा की टीम में मौजूदगी के बावजूद टीम में प्लेइंग 11 का हिस्सा बनने वाले कुलदीप यादव ने सात विकेट चटका कर ये साबित कर दिया की जब मौका मिलता है तो उन्हें प्रदर्शन करने आता है.

ज्योफ बॉयकॉट ने कुलदीप यादव को लेकर कहा 

महान बल्लेबाज ज्योफ बॉयकॉट ने कहा कि इंग्लैंड के बल्लेबाजों की बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव से निपटने में विफलता हालिया टेस्ट श्रृंखला में भारत के खिलाफ टीम की करारी हार के मुख्य कारणों में से एक थी.
इंग्लैंड ने पांच मैचों की श्रृंखला की शुरुआत हैदराबाद में जीत के साथ की लेकिन इसके बावजूद श्रृंखला 1-4 से हार गया. कुलदीप ने आखिरी चार मैच में 19 विकेट चटकाए.

बॉयकॉट ने ‘द टेलीग्राफ' में अपने कॉलम में लिखा, ‘‘मैं हैरान था कि उनमें से कितने (बल्लेबाज) कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव को नहीं पढ़ सके और श्रृंखला के अंत तक भी समझदारी नहीं दिखा रहे थे. एक गेंदबाज आपके लिए शुरुआती कुछ मौकों पर ही एक रहस्य बन सकता है.'' उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बल्लेबाजों को उनसे निपटने का तरीका ढूंढने में सक्षम होना चाहिए. बहुत से खिलाड़ी उसके खिलाफ कभी भी सहज नहीं दिखे और पिच पर ध्यान दिए बगैर उसका सामना करने का प्रयास किया.''

बॉयकॉट ने श्रृंखला में इंग्लैंड के बल्लेबाजों के आक्रामक रवैये की भी आलोचना की.

उन्होंने कहा, ‘‘वे (इंग्लैंड के बल्लेबाज) डिफेंस की अपनी क्षमता को लेकर आश्वस्त नहीं थे, खासकर बल्ले के चारों ओर क्षेत्ररक्षकों की मौजूदगी में, इसलिए उन्होंने इसके बजाय आक्रमण करना चाहा. यह विचार स्तरीय स्पिनरों के खिलाफ खतरे से भरा है.'' टेस्ट क्रिकेट में 8114 रन बनाने वाले इंग्लैंड के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘‘यही कारण है कि हमने कुछ गलत तरीके से आउट होने वाले खिलाड़ी देखे. जैसे कि ओली पोप जो आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में काफी दूरी से स्टंप आउट हुए और बेन डकेट भी अश्विन को आगे बढ़कर खेलते हुए बल्ले के निचले हिस्से पर गेंद लगने के बाद बोल्ड हुए.''

बॉयकॉट ने बल्लेबाजों के लिए मजबूत डिफेंस के महत्व पर भी जोर दिया.

उन्होंने कहा, ‘‘स्वदेश में तथा पाकिस्तान और न्यूजीलैंड में सपाट बल्लेबाजी पिचों पर हमारे बल्लेबाजों ने बहुत मजा किया. भारतीय पिचें थोड़ी अलग हैं. अच्छा डिफेंस भी बल्लेबाजी का हिस्सा है.'' इंग्लैंड के युवा स्पिनरों टॉम हार्टले (22) और शोएब बशीर (17) ने प्रभावित किया लेकिन बॉयकॉट ने कहा कि वे भारत जैसी स्तरीय टीम के खिलाफ निरंतर प्रभाव डालने के लिए काफी अनुभवहीन थे.

उन्होंने कहा, ‘‘तीन नौसिखिया स्पिनरों का चयन करना एक बड़ा जुआ था. अनुभवहीन बच्चे भारत में अनुभवी भारतीय स्पिनरों को कभी भी मात नहीं दे पाएंगे. इंग्लैंड भाग्यशाली था कि विराट कोहली पूरी श्रृंखला के लिए उपलब्ध नहीं थे और लोकेश राहुल केवल एक टेस्ट खेला.''

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Mohammed Shami: "ये कार्टूनगिरी तो...", इंज़माम ने लगाया था अर्शदीप पर 'बॉल टैंपरिंग' का आरोप, अब शमी ने दिया मुहतोड़ जवाब
Ind vs Eng: "मैं हैरान था कि...", इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज ने कुलदीप यादव की गेंदबाज़ी को लेकर दिया बड़ा बयान
Wanindu Hasaranga steps down as Sri Lanka T20 captain ahead of India series
Next Article
SL vs IND: भारत के खिलाफ सीरीज से पहले श्रीलंका क्रिकेट को बड़ा झटका, टीम में मच गई खलबली
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;