बाबा रामदेव के खिलाफ IMA के तेवर सख्त, बिहार में जगह-जगह दर्ज कराए जाएंगे मुकदमे

डॉक्टर सहजानंद के मुताबिक, योगगुरु रामदेव के खिलाफ महामारी और आपदा प्रबंधन अधिनियम की विभिन्न धाराओं में मामले दर्ज करवाये जाएंगे.

खास बातें

  • बाबा रामदेव पर मुकदमा
  • आईएमए की केस दर्ज कराने की तैयारी
  • पटना हाईकोर्ट में दायर की जाएगी पीआईएल
पटना:

एलोपैथी और डॉक्टरों को लेकर योगगुरु बाबा रामदेव (Baba Ramdev) की टिप्पणी पर मचा बवाल शांत होने का नाम नहीं ले रहा है. अब बिहार आईएमए (इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की बिहार इकाई) ने राज्यभर में योगगुरु रामदेव के खिलाफ केस दर्ज करवाने का फैसला किया. बिहार आईएमए की रविवार को हुई बैठक में इस संबंध में फैसला लिया गया. हाल ही में देशभर में डॉक्टरों ने बाबा रामदेव की टिप्पणी के विरोध में काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन जताया. 

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के निर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ सहजानंद ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि वे यह कदम उठाने के लिए मजबूर हैं क्योंकि बाबा रामदेव ने टीकाकरण को लेकर लोगों में भ्रम पैदा किया है. देशभर की सरकारों को वैक्सीनेशन में आम लोगों के विरोध का जो सामना करना पड़ा रहा है खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में, यह उसके मुख्य कारणों में से एक है. 

डॉक्टर सहजानंद के मुताबिक, योगगुरु रामदेव के खिलाफ महामारी और आपदा प्रबंधन अधिनियम की विभिन्न धाराओं में मामले दर्ज करवाये जाएंगे. बाद में उनके खिलाफ पटना हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका (PIL) भी दायर की जाएगी. 

READ ALSO: डॉक्टरों के ख‍िलाफ की गई 'आपत्त‍िजनक टिप्पणी' वापस लें बाबा रामदेव : स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन


डॉक्टर सहजानंद ने स्वीकार किया कि केंद्र सरकार बाबा रामदेव के टीवी पर रोजाना बकवास करने के बावजूद उन पर कार्रवाई नहीं कर रही है और जेल भेजने के बजाये सिर्फ चिट्ठी लिखने तक सीमित है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com