वाराणसी के संपूर्णानंद संस्कृत विद्यालय के छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई ने एबीवीपी को पछाड़ा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में संपूर्णानंद संस्कृत विद्यालय में एनएसयूआई की जीत राजनीतिक तौर पर कांग्रेस की बड़ी जीत मानी जा रही

वाराणसी के संपूर्णानंद संस्कृत विद्यालय के छात्र संघ चुनाव में एनएसयूआई ने एबीवीपी को पछाड़ा

प्रतीकात्मक फोटो.

वाराणसी:

वाराणसी में संपूर्णानंद संस्कृत विद्यालय के छात्र संघ चुनाव में एबीवीपी को करारा झटका लगा है. उसके प्रत्याशियों को हार का सामना करना पड़ा जबकि एनएसयूआई का पूरा पैनल जीत गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में संपूर्णानंद संस्कृत विद्यालय में एनएसयूआई की जीत राजनीतिक तौर पर बड़ी जीत मानी जा रही है और इसके अपने मायने निकाले जा रहे हैं.


छात्र संघ के चुनाव में अध्यक्ष पद पर एनएसयूआई के कृष मोहन शुक्ला ने 442 वोट पाकर एबीवीपी के अजय दुबे (306) को 136 वोटों से हराया. उपाध्यक्ष पद पर  एनएसयूआई के अजीत कुमार चौबे ने 411 वोट हासिल कर एबीवीपी के चंद्रमौली तिवारी (343) को 68 वोटों से हराया. महामंत्री पद पर एनएसयूआई के शिवम चौबे ने 485 वोट हासिल कर एबीवीपी के गौरीशंकर गंगेले (266) को 219 वोटों से हराया. पुस्तकालय मंत्री पद पर एनएसयूआई के आशुतोष कुमार मिश्र ने 415 वोट हासिल कर एबीवीपी के विवेकानंद पांडेय (338) को 77 वोटों से हराया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


चुनाव में छात्रसंघ अध्यक्ष समेत चार पदों के लिए आठ प्रत्याशी मैदान में थे. वहीं सहित्य संस्कृति संकाय व दर्शन संकाय प्रतिनिधि पहले ही निर्विरोध चुन लिए गए हैं. जबकि आधुनिक ज्ञान विज्ञान संकाय प्रतिनिधि के लिए एक भी छात्र ने नामांकन नहीं किया था. ऐसे में छात्रसंघ के चारों प्रमुख पदों के अलावा श्रमण विद्या संकाय व वेद वेदांग संकाय प्रतिनिधि के लिए भी चुनाव हुआ. अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महामंत्री व पुस्तकालय मंत्री पद पर सीधा मुकाबला हुआ.