विज्ञापन

Kawardha

'Kawardha' - 4 News Result(s)
  • छत्तीसगढ़ में बड़ा सड़क हादसा : तेंदू पत्ता तोड़ने गई थीं राष्ट्रपति की 18 'दत्तक बेटियां', लौटीं लाशें

    छत्तीसगढ़ में बड़ा सड़क हादसा : तेंदू पत्ता तोड़ने गई थीं राष्ट्रपति की 18 'दत्तक बेटियां', लौटीं लाशें

    हादसे में मरने वाली सभी महिलाएं हैं. 4 की हालत गंभीर बतायी जा रही है. सभी तेंदूपत्ता तोड़कर वापस लौट रहे थे.राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सोशल मीडिया साइट एक्स पर पोस्ट कर घटना को लेकर दुख जताया है.

  • Kawardha Election Results 2023: जानें, कवर्धा (छत्तीसगढ़) विधानसभा क्षेत्र को

    Kawardha Election Results 2023: जानें, कवर्धा (छत्तीसगढ़) विधानसभा क्षेत्र को

    कवर्धा विधानसभा सीट पर साल 2018 के विधानसभा चुनाव में कुल 291819 वोटर मौजूद थे, जिनमें से 136320 ने कांग्रेस उम्मीदवार अकबर भाई को वोट देकर जिताया था, जबकि 77036 वोट पा सके बीजेपी प्रत्याशी अशोक साहू 59284 वोटों से चुनाव हार गए थे.

  • छत्तीसगढ़ के कवर्धा में वन रक्षक भर्ती में ओलंपिक विजेता उसैन बोल्ट का टूटा रिकॉर्ड! मचा बवाल

    छत्तीसगढ़ के कवर्धा में वन रक्षक भर्ती में ओलंपिक विजेता उसैन बोल्ट का टूटा रिकॉर्ड! मचा बवाल

    छत्तीसगढ़ के कवर्धा में वन रक्षक भर्ती परीक्षा में शारीरिक दक्षता के लिए 200 मीटर की दौड़ में 2008 के ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट उसैन बोल्ट का रिकॉर्ड टूट गया! यह रिकॉर्ड छत्तीसगढ़ के दो अभ्यर्थियों ने तोड़ दिया. उर्मिला नाम की अभ्यर्थी ने 200 मीटर दौड़ 14.07 सेकंड और उज्जवल सिन ने 19.6 सेकंड में पूरी की. उसैन बोल्ट का रिकॉर्ड 19.19 सेकंड का है.

  • छत्तीसगढ़: युवाओं ने खोद निकाली सैकड़ों साल पुरानी 'बावली'

    छत्तीसगढ़: युवाओं ने खोद निकाली सैकड़ों साल पुरानी 'बावली'

    पुरातात्विक दृष्टिकोण से छत्तीसगढ़ बेहद अहम रहा है. यहां आमतौर पर हर जिले में हजारों साल पुराने इतिहास पुरातात्विक खुदाई में मिलते रहते हैं. राजिम में सिंधु घाटी की सभ्यता के समान ही लगभग साढ़े तीन हजार साल पहले की सभ्यता का पता लगा है. वहीं सिरपुर में भी ढाई हजार साल पहले के इतिहास सामने आए हैं. अभी हाल ही में कवर्धा जिले के बम्हनी गांव में युवाओं की टोली ने कमाल करते हुए पत्थरों और कचरों से पट चुकी सैकड़ों साल पुरानी बावली (कुंआ) को खुदाई कर निकालने में सफलता पाई है. ये बावली गांव के प्राचीन तालाब से लगी हुई है. ग्रामीणों का मानना है कि ये बावली करीब सवा सौ साल पुरानी होगी. 

'Kawardha' - 4 News Result(s)
  • छत्तीसगढ़ में बड़ा सड़क हादसा : तेंदू पत्ता तोड़ने गई थीं राष्ट्रपति की 18 'दत्तक बेटियां', लौटीं लाशें

    छत्तीसगढ़ में बड़ा सड़क हादसा : तेंदू पत्ता तोड़ने गई थीं राष्ट्रपति की 18 'दत्तक बेटियां', लौटीं लाशें

    हादसे में मरने वाली सभी महिलाएं हैं. 4 की हालत गंभीर बतायी जा रही है. सभी तेंदूपत्ता तोड़कर वापस लौट रहे थे.राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सोशल मीडिया साइट एक्स पर पोस्ट कर घटना को लेकर दुख जताया है.

  • Kawardha Election Results 2023: जानें, कवर्धा (छत्तीसगढ़) विधानसभा क्षेत्र को

    Kawardha Election Results 2023: जानें, कवर्धा (छत्तीसगढ़) विधानसभा क्षेत्र को

    कवर्धा विधानसभा सीट पर साल 2018 के विधानसभा चुनाव में कुल 291819 वोटर मौजूद थे, जिनमें से 136320 ने कांग्रेस उम्मीदवार अकबर भाई को वोट देकर जिताया था, जबकि 77036 वोट पा सके बीजेपी प्रत्याशी अशोक साहू 59284 वोटों से चुनाव हार गए थे.

  • छत्तीसगढ़ के कवर्धा में वन रक्षक भर्ती में ओलंपिक विजेता उसैन बोल्ट का टूटा रिकॉर्ड! मचा बवाल

    छत्तीसगढ़ के कवर्धा में वन रक्षक भर्ती में ओलंपिक विजेता उसैन बोल्ट का टूटा रिकॉर्ड! मचा बवाल

    छत्तीसगढ़ के कवर्धा में वन रक्षक भर्ती परीक्षा में शारीरिक दक्षता के लिए 200 मीटर की दौड़ में 2008 के ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट उसैन बोल्ट का रिकॉर्ड टूट गया! यह रिकॉर्ड छत्तीसगढ़ के दो अभ्यर्थियों ने तोड़ दिया. उर्मिला नाम की अभ्यर्थी ने 200 मीटर दौड़ 14.07 सेकंड और उज्जवल सिन ने 19.6 सेकंड में पूरी की. उसैन बोल्ट का रिकॉर्ड 19.19 सेकंड का है.

  • छत्तीसगढ़: युवाओं ने खोद निकाली सैकड़ों साल पुरानी 'बावली'

    छत्तीसगढ़: युवाओं ने खोद निकाली सैकड़ों साल पुरानी 'बावली'

    पुरातात्विक दृष्टिकोण से छत्तीसगढ़ बेहद अहम रहा है. यहां आमतौर पर हर जिले में हजारों साल पुराने इतिहास पुरातात्विक खुदाई में मिलते रहते हैं. राजिम में सिंधु घाटी की सभ्यता के समान ही लगभग साढ़े तीन हजार साल पहले की सभ्यता का पता लगा है. वहीं सिरपुर में भी ढाई हजार साल पहले के इतिहास सामने आए हैं. अभी हाल ही में कवर्धा जिले के बम्हनी गांव में युवाओं की टोली ने कमाल करते हुए पत्थरों और कचरों से पट चुकी सैकड़ों साल पुरानी बावली (कुंआ) को खुदाई कर निकालने में सफलता पाई है. ये बावली गांव के प्राचीन तालाब से लगी हुई है. ग्रामीणों का मानना है कि ये बावली करीब सवा सौ साल पुरानी होगी. 

डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
;