'Democracy'

- 149 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: भाषा, Edited by: सिद्धार्थ चौरसिया |शनिवार नवम्बर 27, 2021 06:44 AM IST
    सूत्रों ने कहा कि भारत को ‘समिट फॉर डेमोक्रेसी’ के लिए आमंत्रित किया गया है और प्रधानमंत्री मोदी के ऑनलाइन बैठक में भाग लेने की संभावना है.
  • India | Reported by: भाषा, Edited by: Madiha Raza |शुक्रवार नवम्बर 26, 2021 05:00 PM IST
    कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी का विपक्ष की आलोचना करना सही नहीं है. इसका कोई औचित्य नहीं है. सरकार कोई अवसर नहीं छोड़ती कि संविधान और संवैधानिक परंपराओं को दबाकर निर्णय लिया जाए.’
  • World | Reported by: ANI, Edited by: प्रमोद कुमार प्रवीण |बुधवार नवम्बर 24, 2021 09:58 AM IST
    सूची में ताइवान भी शामिल है, जिससे अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ने की संभावना है. नाटो का सदस्य तुर्की भी इस सूची से गायब है. सूची में अमेरिका के प्रमुख पश्चिमी सहयोगी देश शामिल हैं. इसमें भारत, पाकिस्तान और इराक का भी नाम शामिल है.
  • India | Reported by: भाषा |रविवार अक्टूबर 31, 2021 01:17 PM IST
    राहुल गांधी ने (Rahul Gandhi)  कहा कि ऐसे समय में, जब लोकतंत्र के सभी स्तंभ कमजोर किए जा रहे हैं, पटेल के योगदान को याद रखना महत्वपूर्ण है.
  • India | Reported by: भाषा |सोमवार अक्टूबर 25, 2021 08:52 PM IST
    कांग्रेस ने सोमवार को फेसबुक पर भारत में चुनावों को प्रभावित करने और लोकतंत्र को कमजोर करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इसकी संयुक्त संसदीय समिति (JPC) के जरिये जांच होनी चाहिए. पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने एक खबर का हवाला देते हुए यह दावा भी किया कि फेसबुक ने खुद को ‘फेकबुक’ में तब्दील कर दिया है. भारत की मुख्य विपक्षी पार्टी के आरोपों पर फिलहाल फेसबुक की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. दरअसल, अमेरिकी मीडिया की एक खबर में कहा गया है कि फेसबुक के आंतरिक दस्तावेज बताते हैं कि कंपनी अपने सबसे बड़े बाजार भारत में भ्रामक सूचना, नफरत वाले भाषण और हिंसा पर जश्न से जुड़ी सामग्री की समस्या से संघर्ष कर रही है. इसमें यह उल्लेख भी किया गया है कि सोशल मीडिया के शोधकर्ताओं ने रेखांकित किया है कि ऐसे समूह और पेज हैं जो ‘‘भ्रामक, भड़काऊ और मुस्लिम विरोधी सामग्री से भरे हुए हैं.’’
  • Blogs | रवीश कुमार |मंगलवार अक्टूबर 5, 2021 01:45 AM IST
    जब कई साल से गोदी मीडिया विपक्ष को रोकने में लगा ही हुआ है तब फिर प्रशासन क्यों विपक्ष को रोकने के लिए इतनी मेहनत करता रहा. जिस पुलिस और कानून व्यवस्था को काम करने देने के नाम पर विपक्ष को रोका गया उसका कुछ रिकार्ड शुरू में ही बता देता हूं. बीजेपी के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर मामले में कौन सी कानून व्यवस्था काम कर रही थी आप फिर से पूरी स्टोरी सर्च कर सकते हैं.  गोरखपुर में मनीष गुप्ता की हत्या के संबंध में भी मुआवज़े और नौकरी का ऐलान हो गया लेकिन अभी तक पुलिस ने छह पुलिस वालों को गिरफ्तार नहीं किया है.
  • Blogs | प्रियदर्शन |शुक्रवार अक्टूबर 1, 2021 09:19 PM IST
    यूपी में पिछले दिनों जो मुठभेड़ संस्कृति पैदा हुई है, वह कानून के प्रति पुलिस की अवहेलना को कुछ और बढ़ाती है.
  • India | Reported by: राजीव रंजन |बुधवार सितम्बर 15, 2021 01:49 PM IST
    बिरला ने कहा कि विधानमंडलों की विशेषता सदस्यों की भूमिका और आचरण से जुड़ी होती है. जनप्रतिनिधि सदन के भीतर और बाहर अनुशासनशीलता के उच्चतम मानदंडों का पालन करें. उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से विधानमंडलों में जनप्रतिनिधियों के अशोभनीय व्यवहार की घटनाएं बढ़ रही हैं. बिरला ने कहा कि इस तरह की घटनाओं से विधानमंडलों और लोकतांत्रिक संस्थाओं की छवि धूमिल हुई हैं.
  • Lifestyle | Written by: शालिनी सेंगर, Edited by: अनु चौहान |बुधवार सितम्बर 15, 2021 10:45 AM IST
    International Day of Democracy 2021: लोकतंत्र एक ऐसी प्रणाली है, जिसमें किसी भी देश के नागरिक अपने मताधिकार का प्रयोग करके एक प्रतिनिधि को चुनते हैं. अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस के अवसर पर जानते है इससे जुड़ी कुछ खास बातें.
  • Blogs | रवीश कुमार |मंगलवार सितम्बर 7, 2021 01:05 AM IST
    किसान आंदोलन के नेता अगर चाहते हैं कि प्रधानमंत्री उनसे बात करें तो उन्हें महापंचायत का आयोजन नहीं करना चाहिए. उन्हें किसान महापंचायतों की जगह कबड्डी, खो-खो, हॉकी का आयोजन करना चाहिए ताकि इन खेलों में विजय प्राप्त करते ही विजयी किसान नेताओं को प्रधानमंत्री का फोन आ जाए और फिर उस बातचीत का वीडियो न्यूज़ चैनलों पर भी ख़ूब चलेगा. यह प्रसंग इसलिए आया कि खिलाड़ियों के लिए सुलभ प्रधानमंत्री किसानों के लिए कितने दुर्लभ हो गए हैं. नौ महीने से अनगिनत महापंचायतों, धरना-प्रदर्शनों और किसान संसद के आयोजन के बाद भी प्रधानमंत्री मोदी की किसान नेताओं से बात नहीं हुई जबकि उन्होंने कहा था कि वे एक कॉल की दूरी पर हैं. कभी कुछ किसानों का आंदोलन तो कभी बड़े किसानों का आंदोलन बता कर इस आंदोलन को खारिज करने के बाद किसान हर बार अपनी रैलियों के ज़रिए बता रहे हैं कि उनका आंदोलन किसका है. 
और पढ़ें »
'Democracy' - 64 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com