'जेएनयू विवाद' - 202 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: भाषा |मंगलवार दिसम्बर 29, 2020 01:59 PM IST
    फिल्म निर्माता एवं पटकथा लेखक आर्यदान शौकत ने कहा कि सीबीएफसी के अधिकारियों ने प्रमाण पत्र नहीं देने का कोई कारण नहीं बताया है. उन्होंने कहा कि फिल्म को इसी सप्ताह प्रणाम पत्र के लिए मुंबई स्थित सेंसर बोर्ड की पुनरीक्षण समिति के पास भेजा जाएगा. शौकत कांग्रेस नेता भी हैं. शौकत ने ‘पीटीआई भाषा’ से कहा, ‘‘यहां सीबीएफसी अधिकारियों ने हमें अभी यह जानकारी दी कि फिल्म को पुनरीक्षण समिति के पास भेजा जाना है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमें अभी तक यह नहीं पता कि फिल्म को प्रमाण पत्र क्यों नहीं दिया गया.’’
  • India | Reported by: IANS |रविवार जनवरी 19, 2020 01:57 AM IST
    केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति समुदाय के हितों को लेकर मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से बात की है और HRD मंत्री ने उन्हें विश्वास दिलाया है कि सभी मुद्दों को बातचीत से सुलझा लिया जाएगा. 
  • India | Edited by: अमन गुप्ता |मंगलवार जनवरी 14, 2020 08:35 AM IST
    योग गुरु बाबा रामदेव ने सोमवार को कहा कि दीपिका पादुकोण को किसी भी "बड़े फैसले" लेने से पहले देश में सामाजिक-राजनीतिक मुद्दों से परिचित होना चाहिए.
  • India | Reported by: उमाशंकर सिंह, Edited by: सूर्यकांत पाठक |शनिवार जनवरी 11, 2020 07:27 PM IST
    कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों और देश की अर्थव्यवस्था को लेकर शनिवार को केंद्र की मोदी सरकार पर जोरदार हमला किया. कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) ने शनिवार को चार मुद्दों पर प्रस्ताव पास किया. कांग्रेस ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA), राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (NRC) के विरोध को दबाने की सरकार की कोशिशों के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया है. इसके अलावा देश की बिगड़ती आर्थिक स्थिति, जम्मू-कश्मीर में सरकार की पाबंदी के छह महीने पूरे होने और खाड़ी में ईरान और अमेरिका के बीच विवाद की वजह से बन रहे हालात को लेकर प्रस्ताव पारित किया गया है.
  • India | Edited by: राहुल सिंह |गुरुवार जनवरी 9, 2020 11:01 AM IST
    जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (Jawaharlal Nehru University) के वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार का यह बयान बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) के JNU पहुंचने से जोड़कर देखा जा रहा है. मंगलवार को दीपिका पीड़ित छात्रों के समर्थन में कैंपस पहुंची थीं. उन्होंने वहां कुछ नहीं बोला लेकिन बगैर बोले बहुत कुछ कह दिया. दीपिका ने छात्रसंघ अध्यक्ष आयशी घोष (Aishe Ghosh) से मुलाकात की और उनके साहस की तारीफ की.
  • India | Written by: अर्चित गुप्ता |मंगलवार जनवरी 7, 2020 05:12 PM IST
    जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में हुई हिंसा को लेकर पूरे देश में घमासान मचा हुआ है. लेफ्ट और एबीवीपी के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौरा जारी है. जेएनयू में हुई हिंसा (JNU Violence) को लेकर देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हो रहे हैं. वहीं, दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच मामले की जांच कर रही है. हालांकि JNU में हुआ ये विवाद पहला नहीं है, विश्वविद्यालय का पहले भी कई विवादों से नाता रहा है. 
  • India | Written by: अल्केश कुशवाहा |मंगलवार जनवरी 7, 2020 12:44 PM IST
    जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) कैंपस के भीतर रविवार को हुई हिंसा के बाद मामला शांत होने का नाम नहीं ले रहा. JNU में लेफ्ट और राइट विंग के बीच हुए विवाद के बाद मामला देशभर में बढ़ चुका है. कई राजनेताओं ने इस मामले पर अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दी है. स्वराज इंडिया के संस्थापक योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) ने भी इस मामले में जेएनयू की वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार को लेकर अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया है.
  • India | Reported by: ANI, Edited by: अल्केश कुशवाहा |मंगलवार जनवरी 7, 2020 11:23 AM IST
    मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया पर जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) कैंपस के भीतर रविवार को हुए हिंसा को लेकर विरोध कर रहे छात्रों के बीच एक पोस्टर ऐसा दिखा, जिसके बाद राजनैतिक गलियारे में विवाद उठ गया है. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव ठाकरे की सरकार पर सवाल उठाया है. इस मामले में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर न्यूज एजेंसी एएनआई का वीडियो शेयर करते हुए सवाल उठाया है.
  • India | Reported by: हिमांशु शेखर मिश्र, Edited by: सूर्यकांत पाठक |मंगलवार जनवरी 7, 2020 01:52 AM IST
    जेएनयू में हुए हमले को लेकर उठा विवाद गहराता जा रहा है. विपक्ष ने छात्रों और शिक्षकों पर हुए हमले की स्वतंत्र न्यायिक जांच की मांग की है जबकि बीजेपी ने आरोप लगाया है कि विपक्ष घटना पर राजनीतिक कर रहा है. जेएनयू छात्रों पर हुए इस हमले को लेकर सोनिया गांधी ने अब चार सदस्यों की जांच टीम बना दी है. उन्होंने एक बयान जारी कर कहा कि सरकार विरोध की आवाज़ को कुचलने पर आमादा है.
  • India | Edited by: ऋतुराज त्रिपाठी |गुरुवार नवम्बर 21, 2019 05:59 PM IST
    जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने जेएनयू में फीस बढो़तरी के विवाद पर अपने फेसबुक वॉल पर पोस्ट लिखा है. उन्होंने इस पोस्ट का टाइटल दिया है 'फीस बढ़ाना जरूरत या साजिश?' कन्हैया ने लिखा, 'जेएनयू की फ़ीस बढ़ाकर और लोन लेकर पढ़ने का मॉडल सामने रखकर सरकार ने एक बार फिर साफ़ कर दिया है कि विकास की उसकी परिभाषा में हमारे गांव-कस्बों के लोग शामिल ही नहीं हैं.
और पढ़ें »
'जेएनयू विवाद' - 133 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com