स्वावलंबन 2022: अमृत महोत्सव पर नौसेना देने जा रही 75 नई तकनीक और उत्पादों की सौगात 

ये 75 तकनीक देश की आजादी के अमृत महोत्सव यानी आजादी के 75 साल पूरा होने के उपलक्ष्य में तैयार की जा रही है. इन तकनीकों को हिंद महासागर के मित्र-राष्ट्रों को प्रयोग करने के लिए भी दिया जाएगा. 

स्वावलंबन 2022: अमृत महोत्सव पर नौसेना देने जा रही 75 नई तकनीक और उत्पादों की सौगात 

भारतीय नौसेना दो दिवसीय सेमीनार स्वावलंबन का आयोजन करने जा रही हैं.

नई दिल्ली:

भारतीय नौसेना (Indian Navy) 18-19 जुलाई को दिल्ली में दो दिवसीय सेमीनार का आयोजन करने जा रही हैं. इस सेमीनार को स्वावलंबन (Swavalamban 2022) नाम दिया गया है, जिसकी थीम भारतीय नौसेना में आत्मनिर्भरता है. भारतीय नौसेना के सह सेना प्रमुख वाइस एडमिरल एसएन घोरमडे ने कहा कि इस सेमिनार के दौरान भारतीय नौसेना 75 ऐसी तकनीक और उत्पादों के जरिये स्वदेशी कंपनियों और स्टार्ट-अप्स को चुनौती देगी. इन उत्पादों और तकनीक का नौसेना खुद इस्तेमाल करेगी. 

ये 75 तकनीक देश की आजादी के अमृत महोत्सव यानी आजादी के 75 साल पूरा होने के उपलक्ष्य में तैयार की जा रही है. इन तकनीकों को हिंद महासागर के मित्र-राष्ट्रों को प्रयोग करने के लिए भी दिया जाएगा. 

यही वजह है कि सेमीनार में मित्र-देशों के दूतावास और उच्चायोग में तैनात डिफेंस-अताशे भी शामिल होंगे. नौसेना की इस पहल का उद्देश्य देश में स्वदेशी निर्माण और स्वावलंबन को बढ़ावा देना है. प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नौसेना का यह प्रयास ‘टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट एक्सीलरेशन सेल‘ के माध्यम से किया जा रहा है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भारतीय नौसेना ने इस परियोजना के लिए डिफेंस इनोवेशन आर्गेनाइजेशन के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है. यह परियोजना ‘आत्मनिर्भर भारत‘ की संकल्पना को एक नई मजबूती देगी.