नोएडा ट्विन टावर: आधी रात में जुटी भीड़, लोगों ने सेल्फी लीं और वीडियो बनाए

टावरों के पास आधी रात में सपरिवार पहुंचे कई लोग, बहुमंजिला इमारतों को धराशायी किए जाने से पहले उसकी तस्वीरें लीं

नोएडा ट्विन टावर: आधी रात में जुटी भीड़, लोगों ने सेल्फी लीं और वीडियो बनाए

Noida Twin Towers: नोएडा में आज सुपरटेक के ट्विन टावरों को ध्वस्त कर दिया जाएगा.

नई दिल्ली:

Noida Twin Towers: नोएडा के सेक्टर 93-ए में सुपरटेक के ट्विन टावरों को अदालत के आदेश के मुताबिक विस्फोटक लगाकर गिराने के लिए उलटी गिनती शुरू हो गई है. इन टावरों के आसपास शनिवार और रविवार का दरमियानी आधी रात में लोगों की भीड़ जुटी रही. लोग परिवार और बच्चों सहित यहां पहुंचे. वे ट्विन टावरों के साथ सेल्फी ले रहे थे और वीडियो बना रहे थे.

सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश का पालन करते हुए लगभग 100 मीटर ऊंचे इन टावरों को आज दोपहर में 2.30 बजे सुरक्षित रूप से ध्वस्त किया जाएगा. एमराल्ड कोर्ट सोसाइटी परिसर के भीतर इन टावरों के निर्माण में भवन मानदंडों का उल्लंघन पाया गया था.

ट्विन टावरों को गिराने के लिए मशक्कत पिछले कई दिनों से चल रही है. इन टावरों को गिराने के लिए इनमें 3,700 किलोग्राम विस्फोटक लगाया गया है. स्थानीय लोग इन ऊंची इमारतों को अंतिम बार देखने की मंशा से आधी रात में वहां पहुंचे. इससे पहले की यह भव्य अट्टालिकाएं धूल में बदल जाएं और इतिहास में दर्ज हो जाएं, लोगों ने इनकी तस्वीरें लीं.

सेक्टर 93ए में शनिवार की शाम से ही पुलिस और सुरक्षा कर्मियों को तैनात कर दिया गया है. वहां पहुंचे बच्चों में इन भवनों को देखने के लिए उत्साह साफ देखा गया.

रिया नाम की बच्ची को नींद आ रही थी, लेकिन उसके पिता उसे वहां लेकर पहुंच गए. उसने कहा कि वह एक आखिरी बार ट्विन टावरों को देखने आ गई.

करीब छह साल की लड़की ने अपने पिता के चारों ओर घूमते हुए कहा, "मुझे बताया गया है कि दिन में यहां धमाका होगा." उसकी उत्साहित मां अपने मोबाइल फोन से ट्विन टावरों की तस्वीरें ले रही थीं.

नोएडा के सेक्टर 110 में रहने वाले हिलाल अहमद भी अपने परिवार और रिश्तेदारों के साथ वहां मौजूद थे. उन्होंने कहा कि इस कार्रवाई को लेकर उनकी मिली-जुली भावनाएं थीं. उन्होंने कहा, 'न ज्यादा खुशी, न ज्यादा दुख, "निश्चित रूप से आसपास की इमारतों के लिए जोखिम है. हम यहां इसका आनंद ले रहे हैं क्योंकि यह इस इमारत का आखिरी दिन है."

पोलो टीशर्ट पहने हुए अहमद ने कहा, "यह बिल्डरों के लिए भी एक संदेश है कि गलत कामों का पता लगाया जाएगा और उन्हें ट्रैक किया जाएगा. संदेश अच्छा है."

इन दो अवैध टावरों को रविवार को दोपहर ढाई बजे विस्फोट से ढहा दिया जाएगा. इस पूरी प्रक्रिया में 10 से 12 सेकंड लगेंगे. टावरों को गिराने के लिए जेट डेमोलिशन, एडफिस इंजीनियरिंग और सीबीआरआई की टीम शनिवार को टावर के अंदर विस्फोटक से जुड़े वायर की जांच और ‘ट्रिगर' दबाए जाने की तैयारियों को अंतिम रूप देती रही. नोएडा प्राधिकरण और पुलिस अधिकारी आसपास की व्यवस्था को दुरुस्त करने में जुटे रहे.

सेक्टर-93-ए में बने 103 मीटर ऊंचे एपेक्स और 97 मीटर ऊंचे सियान टावर को ध्वस्त करने के लिए 3700 किलो विस्फोटक अलग-अलग फ्लोर पर लगाया गया है. सुरक्षा कारणों से एमराल्ड कोर्ट और आसपास की सोसायटी के फ्लैट खाली कराए जाएंगे. इसके अलावा करीब तीन हजार वाहन और 200 पालतू पशुओं को भी बाहर निकाल लिया जाएगा. एडफिस इंजीनियरिंग के प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता ने बताया कि पुलिस से मंजूरी मिलने पर दोपहर ढाई बजे ‘ट्रिगर' दबाया जाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


नोएडा : ट्विन टावर की उल्‍टी गिनती शुरू, 3700 किलो विस्‍फोटक से 9 सेकेंड में होगा ध्‍वस्‍त