Election Results 2023: चल गया पीएम मोदी का जादू, मध्य प्रदेश में बीजेपी बरकरार, कांग्रेस से राजस्थान और छत्तीसगढ़ भी छीने

Election Results 2023: मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बीजेपी आगे है जबकि तेलंगाना में कांग्रेस जीत के रथ पर सवार नजर आ रही है.

Election Results 2023: चल गया पीएम मोदी का जादू, मध्य प्रदेश में बीजेपी बरकरार, कांग्रेस से राजस्थान और छत्तीसगढ़ भी छीने

Assembly Election Results: बीजेपी ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव पीएम मोदी के चेहरे को आगे रखकर लड़े.

नई दिल्ली:

Assembly Election Results 2023: चार राज्यों के विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना जारी है और पहले आए रुझानों के बाद अब तस्वीर साफ होने लगी है. मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बीजेपी आगे है जबकि तेलंगाना में कांग्रेस जीत के रथ पर सवार नजर आ रही है. मध्यप्रदेश में बीजेपी सत्तासीन थी जबकि राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का राज था. पल-पल बीतते मतगणना के राउंडों के साथ यह साफ नजर आने लगा है कि मतदाताओं पर पीएम नरेंद्र मोदी का जादू काम कर गया है. 

मध्य प्रदेश में कुल 230 सीटें हैं जिनमें से 164 सीटों पर बीजेपी प्रत्याशी आगे चल रहे हैं. कांग्रेस 63 सीटों पर आगे है. बीएसपी दो सीटों पर अन्य एक सीट पर आगे हैं. राजस्थान में 200 सीटों में से 199 पर चुनाव हुए हैं. यहां राज्य की रिवायत के मुताबिक सत्ता परिवर्तित होती दिख रही है. बीजेपी 109 और कांग्रेस 74 सीटों पर आगे है. दो सीटें बीएसपी और 14 सीटें अन्य उम्मीदवारों के खाते में जाती हुई दिख रही हैं. 

उधर छत्तीसगढ़ में भी बदलाव के आसार नजर आ रहे हैं. राज्य की कुल 90 सीटों में से 53 पर बीजेपी ने बढ़त बना ली है. यहां की सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस 35 सीटों पर आगे है. बीएसपी एक सीट पर आगे हैं. 

अपने दो राज्यों की सत्ता खोती नजर आ रही कांग्रेस को तेलंगाना में राहत मिलती दिख रही है. तेलंगाना में सत्ताधारी पार्टी भारत राष्ट्र समिति पिछड़ गई है और कांग्रेस काफी आगे निकलती दिख रही है. तेलंगाना में कांग्रेस 65 सीटों पर, बीआरएस 41 सीटों पर, बीजेपी और गठबंधन 9 सीटों पर और एआईएमआईएम 4 सीटों पर आगे है.

मध्य प्रदेश में बीजेपी लंबे अरसे से सत्ता पर काबिज है. पिछले चुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी से छत्तीसगढ़ छीन लिया था. राजस्थान में पिछले चुनाव में वहां की बदलाव की परंपरा के मुताबिक मतदाताओं ने बीजेपी को सत्ता से बेदखल कर दिया था. इस बार बीजेपी के लिए जहां छत्तीसगढ़ और राजस्थान में खोई हुई गद्दी फिर से हासिल करने की चुनौती थी वहीं कांग्रेस के सामने इन सिंहासनों क बचाने की चुनौती थी. 

बीजेपी ने इन विधानसभा चुनावों में किसी भी राज्य में मुख्यमंत्री के रूप में किसी नेता को प्रोजेक्ट नहीं किया. कई केंद्रीय मंत्रियों, सांसदों को चुनाव मैदान में जरूर उतारा गया लेकिन  चुनाव पीएम नरेंद्र मोदी के चेहरे को आगे रखकर लड़ा गया. चुनाव प्रचार में भी पीएम मोदी लगातार जुटे रहे.   

पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कई रैलियां और रोड शो किए थे. इस प्रचार के दौरान राज्यों के सभी इलाकों को कवर किया गया. उन्होंने मुख्य विपक्षी कांग्रेस पर जोरदार हमले किए और केंद्र की बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार की उपलब्धियां गिनाईं.  

मध्य प्रदेश में पीएम मोदी की रैलियां (PM Modi's rallies in Madhya Pradesh)

पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के दौरान 15 रैलियां कीं. इसके अलावा इंदौर में एक रोडशो भी किया. रतलाम, सिवनी, खंडवा, सीधी, दमोह, मुरैना, गुना, सतना, छतरपुर, नीमच, बड़वानी, इंदौर, बैतूल, शाजापुर और झाबुआ में की गईं इन चुनावी रैलियों में प्रदेश के करीब सभी इलाकों को कवर किया गया.

राजस्थान में पीएम मोदी ने प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी (PM Modi's election campaign in Rajasthan)

कांग्रेस शासित राजस्थान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी. उन्होंने इस राज्य में 12 रैलियां कीं. उदयपुर से पीएम मोदी ने चुनाव प्रचार का शंखनाद किया था. इसके बाद उन्होंने चित्तौड़गढ़, भरतपुर, जयपुर सहित राज्य के अलग-अलग इलकों में कुल 12 जनसभाओं को संबोधित किया. बीजेपी ने इन सभाओं के जरिए राजस्थान के सभी समुदायों से पीएम मोदी के मुखातिब होने की रणनीति बनाई थी. इसका असर परिणामों में दिख रहा है. 

छत्तीसगढ़ में पीएम मोदी ने किया था धुआंधार चुनाव प्रचार (PM Modi's election campaign in Chhattisgarh)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ में भी धुआंधार चुनाव प्रचार किया था. छत्तीसगढ़ में पीएम मोदी ने पांच चुनावी रैलियां की थीं. प्रदेश के हर संभाग में उनकी एक रैली आयजित की गई थी. बीजेपी ने पीएम की रैलियों के जरिए प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों को कवर किया था.