3 से 5 फरवरी के बीच इन राज्यों में होगी बारिश, ठिठुरन भरी सर्दी से मिलेगी राहत

IMD ने बताया कि अगले तीन से चार दिन के दौरान उत्तर पश्चिमी और मध्य भारत के ज्यादातर इलाकों में न्यूनतम तापमान में वृद्धि होने की पूरी संभावना है.

3 से 5 फरवरी के बीच इन राज्यों में होगी बारिश, ठिठुरन भरी सर्दी से मिलेगी राहत

तापमान बढ़ने से शीतलहर से निजात मिलेगी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • उत्तर-मध्य भारत में ठंड का प्रकोप
  • अगले तीन दिनों में हो सकती है बारिश
  • बारिश होने से ठंड से मिलेगी राहत
नई दिल्ली:

भारत के उत्तरी और मध्य भाग में तीन से पांच फरवरी के बीच बारिश होने का अनुमान है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मंगलवार को यह जानकारी दी. IMD ने कहा कि अगले तीन से चार दिन के दौरान उत्तर पश्चिमी और मध्य भारत के ज्यादातर इलाकों में न्यूनतम तापमान में वृद्धि होने की पूरी संभावना है और अगले 24 घंटे में शीतलहर से निजात मिल सकती है. IMD के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ के कारण अफगानिस्तान में चक्रवात की स्थिति बन रही है.

मध्य पाकिस्तान और पश्चिमी राजस्थान में भी चक्रवात की स्थिति है. इन बदलाव के कारण उत्तर पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र का मौसम दो फरवरी की रात से प्रभावित हो सकता है. IMD ने कहा, “तीन से पांच फरवरी के दौरान, उत्तर पश्चिमी मैदानी इलाकों और मध्य भारत में, दक्षिण पश्चिमी हवाओं, पश्चिमी विक्षोभ और दक्षिण पूर्वी हवाओं के मिलने की संभावना है.”

दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत में ठंड और कोहरे से राहत के आसार नहीं, जानें मौसम का पूरा हाल


इस परिवर्तन के कारण दो फरवरी की रात से पांच फरवरी तक पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में बारिश, बर्फबारी, बिजली कड़कने और ओले गिरने की प्रबल आशंका है. IMD ने कहा, “हिमाचल प्रदेश में चार फरवरी को, और जम्मू कश्मीर के ऊपर तीन और चार फरवरी को भारी बारिश या बर्फबारी हो सकती है.” उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में तीन से पांच फरवरी के दौरान बिजली कड़कने के साथ बारिश और ओले गिर सकते हैं. मध्य प्रदेश में चार से पांच फरवरी के दौरान और पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार तथा झारखंड में पांच से छह फरवरी के दौरान बारिश हो सकती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: किसानों के लिए मुसीबत पर मुसीबत, दिल्ली की कंपकपाती ठंड और बारिश



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)