CAA को लेकर प्रियंका गांधी ने अमित शाह पर साधा निशाना, कहा - देश की जागरूक जनता सब जानती है...

प्रियंका गांधी ने कहा कि आप उत्तर प्रदेश में उन्हें चुनौती दे रहे हैं जो उनके खिलाफ लड़ने के लिए घर से बाहर तक नहीं निकले और जिन्हें गृहमंत्री जी को चुनौती देनी चाहिए वे दूसरे प्रदेशों की समस्याओं की बातें कर रही हैं.

CAA को लेकर प्रियंका गांधी ने अमित शाह पर साधा निशाना, कहा - देश की जागरूक जनता सब जानती है...

प्रियंका गांधी ने अमित शाह पर साधा निशाना

नई दिल्ली:

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सीएए और एनआरसी को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर एक बार फिर निशाना साधा है. साथ ही उन्‍होंने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर भी हमला बोला. प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, 'अजीब दास्तां है ये.. कहां शुरू कहां खतम. गृहमंत्री जी उत्तर प्रदेश में उन्हें चुनौती दे रहे हैं जो उनके खिलाफ लड़ने के लिए घर से बाहर तक नहीं निकले और जिन्हें गृहमंत्री जी को चुनौती देनी चाहिए वे दूसरे प्रदेशों की समस्याओं की बातें कर रही हैं. यूपी की जागरूक जनता सब समझती है.'

गौरतलब है कि मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह ने लखनऊ में सीएए समर्थक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि 'इस बिल को लेकर कांग्रेस, टीएमसी, मायावती, सपा और कम्युनिष्ट कांव-कांव चिल्ला रहे हैं. मैंने इस बिल को संसद में पेश किया है. मैं चुनौती देता हूं कि इस बिल की किसी भी धारा में अगर किसी शख्स की नागरिकता छीनने की बात है तो दिखाएं.'

शाहीन बाग मामला : विरोध प्रदर्शन में बच्चे क्यों लाए जा रहे? दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली के डीएम को नोटिस

CAA और NRC के खिलाफ देश के विभिन्‍न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं लेकिन बसपा अभी तक किसी प्रदर्शन में नजर नहीं आई है. पार्टी प्रमुख मायावती इन दिनों दिल्‍ली में होने वाले विधानसभा चुनावों में व्‍यस्‍त दिख रही हैं और यहां वो अपने पार्टी के उम्‍मीदवारों के समर्थन में तीन रैलियों को भी संबोधित करने वाली हैं.

शाहीन बाग में स्कूल बसें निकलेंगी कैसे? सड़क पर तो वाहनों की अवैध पार्किंग

हालांकि बुधवार को बसपा की अध्यक्ष मायावती ने संशोधित नागरिकता क़ानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के मुद्दे पर बहस करने की सत्तापक्ष की चुनौती को स्वीकार करते हुए कहा है कि उनकी पार्टी सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर किसी भी मंच पर बहस करने को तैयार है. मायावती ने ट्वीट कर कहा, “अति-विवादित सीएए-एनआरसी-एनपीआर के खिलाफ पूरे देश में खासकर युवा व महिलाओं के संगठित होकर संघर्ष व आन्दोलित हो जाने से परेशान केन्द्र सरकार द्वारा लखनऊ की रैली में विपक्ष को इस मुद्दे पर बहस करने की चुनौती को बसपा किसी भी मंच पर व कहीं भी स्वीकार करने को तैयार है.”


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com