Sputnik V वैक्सीन बनाने के लिए सीरम इंस्टीट्यूट को मिली प्रारंभिक मंजूरी

अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) की कंपनी को देश के दवा नियामक (DCGI) से रूसी COVID-19 वैक्सीन स्पूतनिक वी (Sputnik V) बनाने की अनुमति मिल गई है.

Sputnik V वैक्सीन बनाने के लिए सीरम इंस्टीट्यूट को मिली प्रारंभिक मंजूरी

Sputnik V रूस की वैक्सीन है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • स्पूतनिक वी के निर्माण की मंजूरी
  • DCGI ने दी SII को मंजूरी
  • अदार पूनावाला की कंपनी है SII
नई दिल्ली:

अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) की कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) को देश के दवा नियामक (DCGI) से रूसी COVID-19 वैक्सीन स्पूतनिक वी (Sputnik V) बनाने की अनुमति मिल गई है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पूनावाला की कंपनी अपने पुणे स्थित प्लांट में वैक्सीन का परीक्षण, विश्लेषण और फिर इसका निर्माण करेगी. दरअसल कंपनी ने कुछ दिनों पहले वैक्सीन के परीक्षण, विश्लेषण और निर्माण के लिए DCGI के पास आवेदन किया था.

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्रवक्ता ने NDTV को बताया कि हमें स्पूतनिक वी के लिए प्राथमिक मंजूरी मिल गई है लेकिन असल मायने में इस वैक्सीन के निर्माण में अभी कुछ और महीने लगेंगे. इस दौरान हमारा फोकस कोविशील्ड और कोवोवैक्स पर ही होगा. कोरोना के टीके कोविशील्ड का निर्माण अदार पूनावाला की कंपनी ही कर रही है.

भारत के 'लोगों की कीमत' पर कभी वैक्सीन का निर्यात नहीं किया : अदार पूनावाला

SII को इस रूसी वैक्सीन के लिए टेस्ट लाइसेंस मिला है. इसका मतलब यह है कि वैक्सीन की जांच अथवा निर्माण के उद्देश्य से यह लाइसेंस दिया गया है. इस लाइसेंस के तहत वैक्सीन बेची नहीं जा सकती.

बताते चलें कि भारत में कोविशील्ड के अलावा भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और रूस की स्पूतनिक वी को भी आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी मिल चुकी है. अभी तक स्पूतनिक वी का निर्माण डॉक्टर रेड्डीज लेबोरेटरीज द्वारा किया जा रहा है. यह वैक्सीन 65 से ज्यादा देशों में पंजीकृत है.

गौरतलब है कि स्पूतनिक वी की प्रभावकारिता 91.6 फीसदी है. यह प्रभावकारिता भारत में लगाई जा रही दोनों वैक्सीन (कोविशील्ड और कोवैक्सीन) से ज्यादा है. भारत में इस स्पूतनिक वी का इस्तेमाल 14 मई से शुरू हुआ था.

एक्सक्लूसिव : मुंबई को कोरोना वैक्सीन की आपूर्ति के लिए रूस की स्पूतनिक से तीन बोली मिलीं

बीते मंगलवार को स्पूतनिक वी की 30 लाख खुराक की एक खेप हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहुंची. जीएमआर हैदराबाद एयर कार्गो (GHAC) की ओर से जारी एक प्रेस रिलीज के मुताबिक, रूस से विशेष चार्टर विमान RU-9450 के जरिए मंगलवार को तड़के 3.43 मिनट पर स्पूतनिक वी वैक्सीन की 30 लाख खुराक यहां पहुंची.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: फाइजर-मॉडर्ना को छूट? सरकारी सूत्रों ने कहा- 'दायित्व से मुक्ति' की शर्त में दिक्कत नहीं