Petrol Price Today: दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल के दामों ने बनाया नया रिकॉर्ड, डीजल भी पीछे नहीं...

Petrol Price Today: सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 84.95 रुपये प्रति लीटर पर अब तक के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गई जबकि डीजल का दाम 75.13 रुपये प्रति लीटर हो गया.

Petrol Price Today: दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल के दामों ने बनाया नया रिकॉर्ड, डीजल भी पीछे नहीं...

Petrol Price: यह वृद्धि तीन दिन तक यथास्थिति बने रहने के बाद हुई है

नई दिल्ली:

Petrol Price Today: पेट्रोल (Petrol) और डीजल (Diesel) के दाम में सोमवार को 25 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई. इसके साथ ही राजधानी में पेट्रोल की कीमत (Petrol Price) 85 रुपये प्रति लीटर के करीब पहुंच गई जबकि मुंबई में डीजल का दाम (Diesel Price) 82 रुपये लीटर के करीब पहुंच गया. सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 84.95 रुपये प्रति लीटर पर अब तक के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गई जबकि डीजल का दाम 75.13 रुपये प्रति लीटर हो गया. पेट्रोल, डीजल के दाम में सोमवार को यह वृद्धि तीन दिन तक यथास्थिति बने रहने के बाद हुई है. वाहन ईंधनों के दाम में इससे पहले 13 और 14 जनवरी को दो किस्तों में 50 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई थी. मुंबई में पेट्रोल की कीमत 91.56 रुपये लीटर पर अब तक के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच चुकी है. डीजल का दाम भी बढ़कर 81.87 रुपये लीटर हो गया है. मुंबई में इससे पहले 4 अक्टूबर 2018 को पेट्रोल का दाम सबसे अधिक 91.34 रुपये प्रति लीटर पर था जबकि डीजल का दाम भी रिकॉर्ड उच्चस्तर पर पहुंच गया था.

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों -- इंडियन आयल कार्पोरेशन लिमिटेड (आईओसी), भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) -- ने 6 जनवरी से पेट्रोल, डीजल के दाम में दैनिक तौर पर संशोधन की शुरुआत की थी. अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बढ़ने के बाद यह कदम उठाया गया.

विभिन्न देशों में कोरोना वायरस टीके की शुरुआत के बाद मांग बढ़ने की उम्मीद में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बढ़े हैं. पेट्रोल, डीजल के दाम को हालांकि अंतरराष्ट्रीय बाजार के बेंचमार्क दाम के अनुरूप दैनिक आधार पर संशोधित करने की नीति है लेकिन पिछले साल कोरोना वायरस महामारी के फैलने के बाद से सरकार के नियंत्रण वाली सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियां इनके दाम में नियंत्रित दायरे में रखे हुये हैं.

कोराना वायरस महामारी फैलने के समय अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम काफी नीचे गिर गये थे. अप्रैल 2020 में इनका औसत मूल्य 19 डालर प्रति बैरल के दायरे में आ गया था. यही वजह है कि घरेलू बाजार में पेट्रोल, डीजल के दाम को नियंत्रित दायरे में रखने के लिये सरकार ने पेट्रोल के उत्पाद शुल्क में 13 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 15 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि कर अंतरराष्ट्रीय बाजार में आई गिरावट का समायोजन किया.


इस समय एक लीटर पेट्रोल के दाम में 32.98 रुपये उत्पाद शुल्क लगता है जबकि दिल्ली में इस पर 19.32 रुपये प्रति लीटर का वैट लगता है. वहीं डीजल के दाम में 31.83 रुपये लीटर उत्पाद शुल्क शामिल होता है वहीं 12.84 रुपये का वैट लगता है. तेल कंपनियों की मूल्य अधिसूचना में यह दर्शाया गया है.

महानगरों में फिर महंगा हुआ पेट्रोल डीजल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)