कोरोना के बेहद संक्रामक वेरिएन्ट C.1.2 की वजह से मुंबई एयरपोर्ट ने बदले नियम

बीएमसी ने कोरोना वायरस के एक नए वैरिएंट C.1.2 के सामने आने के बाद आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया है. पहली बार ये वेरिएंट दक्षिण अफ्रीका में मिला था.भारत में इसका कोई केस अभी तक नहीं मिला है.

कोरोना के बेहद संक्रामक वेरिएन्ट C.1.2 की वजह से मुंबई एयरपोर्ट ने बदले नियम

मुंबई एयरपोर्ट पर इन देशों से आने वाले यात्रियों के लिए कोविड टेस्ट अनिवार्य

मुंबई:

मुंबई में बीएमसी ने कोरोना वायरस के एक नए वैरिएंट C.1.2 के सामने आने के बाद 3 सितंबर से शहर के हवाई अड्डे पर आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया है.  यूके, यूरोप, मध्य पूर्व, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे से मुंबई हवाई अड्डे पर पहुंचने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर अब टेस्ट अनिवार्य है. कोरोना के इस नए वैरिएंट के सामने आने के बाद बीएमसी ने सख्त कदम उठाते हुए ये फैसला लिया है.


नए दिशानिर्देशों के अनुसार, हवाई यात्रा करने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए क्वारंटाइन होने वाला प्रावधान खत्म कर दिया है. हालांकि विदेशी यात्रियों के लिए कुछ नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. सरकारी सूत्रों ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि नया कोविड वेरिएंट C.1.2 पहली बार दक्षिण अफ्रीका में मिला था.भारत में इसका कोई केस अभी तक नहीं मिला है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोविड-19 के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन की टेक्नीकल लीड मारिया वैन केरखोव ने मंगलवार को कहा कि C.1.2 संस्करण कम से कम छह देशों में पाया गया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, दक्षिण अफ्रीका के शोधकर्ताओं ने पहली बार 21 जुलाई को WHO वायरस इवोल्यूशन वर्किंग ग्रुप को C.1.2 वेरिएंट पर अपने निष्कर्ष पेश किए. ये नया वेरिएंट पहली बार मई में दक्षिण अफ्रीका में रिपोर्ट किया गया था. शोधकर्ताओं ने C.1.2 वेरिएंट के लिए कहा है कि यह वुहान के मूल वायरस से अधिक संक्रामक है.