जेपी नड्डा ने विपक्षी नेताओं को उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार के कार्यों का हिसाब देने की खुली चुनौती दी

गौरतलब है कि मतदाता सूची के एक पन्ने पर जितने लोगों के नाम आते हैं उनसे संपर्क साधने और उन्हें भाजपा के पक्ष में आकर्षित करने के लिए पार्टी ने शनिवार से ''पन्‍ना प्रमुखों'' की तैनाती शुरू की.

जेपी नड्डा ने विपक्षी नेताओं को उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार के कार्यों का हिसाब देने की खुली चुनौती दी

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (फाइल फोटो)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में अगले साल संभावित विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सत्ता में वापसी का दावा करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शनिवार को ‘ऑनलाइन बूथ विजय अभियान' की शुरुआत की. नड्डा ने समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में जो काम सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकारें आजादी के बाद 60 साल में नहीं कर पाईं, उससे कहीं ज्यादा योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार ने पिछले साढ़े चार साल में कर दिखाया है.

गौरतलब है कि मतदाता सूची के एक पन्ने पर जितने लोगों के नाम आते हैं उनसे संपर्क साधने और उन्हें भाजपा के पक्ष में आकर्षित करने के लिए पार्टी ने शनिवार से ''पन्‍ना प्रमुखों'' की तैनाती शुरू की. भाजपा अध्यक्ष ने ‘बूथ विजय अभियान' को ऑनलाइन संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं सपा, बसपा और कांग्रेस के नेताओं को चुनौती देता हूं कि वे अब तक अपने कार्यकाल की योजनाओं को लेकर सामने आएं, उनसे हमारे बूथ स्तर के कार्यकर्ता भी खुली बहस के लिए तैयार हैं.''

नड्डा ने आरोप लगाया, ‘‘कांग्रेस, सपा और बसपा ने मिलीभगत करके सिर्फ एक परिवार का भला किया और उनकी सरकारों में अपराध और अराजकता का मिश्रण था. उनकी सरकारों में अपराधी मस्‍त और जनता त्रस्‍त थी लेकिन अब अपराधी त्रस्‍त हैं.'' तीनों दलों की सरकारों में जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण की राजनीति चरम पर होने का आरोप लगाते हुए भाजपा अध्यक्ष ने तंज किया, ‘‘कोरोना संकट काल में कमरे में बंद रहकर ट्वीट कर राजनीति चमकाने वालों को जनता याद रखेगी.''


नाम लिए बगैर कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इस देश में कुछ ऐसे भी नेता हैं जो संसद सत्र के दौरान छुट्टी मनाने विदेश चले जाते हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में दूसरे दलों के नेता पृथकवास में चले गए थे लेकिन भाजपा के नेता और कार्यकर्ता जनता की सेवा में लगे थे. उन्होंने कहा, ‘‘मोदी सरकार के सात साल के कार्यकाल में संविधान का अनुच्छेद 370 (जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाला प्रावधान) समाप्त हुआ, तीन तलाक खत्म हुआ, राम जन्म भूमि मंदिर का निर्माण शुरू हुआ, सर्जिकल स्ट्राइक हुआ.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


किसानों को भरोसा दिलाते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) था और रहेगा. किसानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है. नये कानून में सिर्फ किसानों को अपनी मर्जी से किसी भी जगह और मूल्य पर अपनी फसल बेचने की आजादी दी गयी है.'' भाजपा मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार नड्डा ने ‘बूथ विजय अभियान' के जरिये 27,700 शक्ति केंद्रों पर पार्टी के 15 लाख से अधिक कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किया. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बूथ विजय अभियान को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘सपा-बसपा व कांग्रेस के लोग भ्रष्टाचार की दुकान चलाते हैं, उनकी सरकार में अत्याचार व गुंडागर्दी होती हैं.'' बूथ विजय अभियान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉक्टर दिनेश शर्मा, भाजपा उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह डिजिटल माध्यम से जुड़े.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)