फीस न जमा की तो बच्चों को ऑनलाइन एग्जाम देने से रोका, अभिभावकों ने जताया विरोध

DPS Mathura Road Protest : अभिभावकों का प्रिंसिपल से कहना है कि सबकी परीक्षा ली जाए. फैसला आते ही बाकी बची फीस दे दी जाएगी. वही पैरेंट्स ने हाई कोर्ट से भी शीघ्र फैसला सुनाने की  विनती की है.

फीस न जमा की तो बच्चों को ऑनलाइन एग्जाम देने से रोका, अभिभावकों ने जताया विरोध

नई दिल्ली:

डीपीएस मथुरा रोड (DPS Mathura Road) के छात्रों के अभिभावकों ने शुक्रवार को स्कूल के बाहर विरोध प्रदर्शन (Parents Protest) किया. स्कूल में छात्रों की वार्षिक परीक्षा प्रारंभ हो चुकी है और स्कूल की मांग के हिसाब से फीस न देने पर छात्रो को online परीक्षा से ब्लॉक कर दिया गया है. 

जबकि दिल्ली सरकार ने  18 अप्रैल 2020 में अभिभावको की आर्थिक परेशानियों को देखते हुए लॉकडाउन के दौरान स्कूल फीस में राहत देते हुये सभी वार्षिक फीस खत्म करते हुये फीस न बढ़ाने का आदेश दिया था. अगर किसी स्कूल के पास दिल्ली सरकार का अनुमोदन 2015-16 के बाद नही लिया गया है तो ट्यूशन फीस 2015-16 की ही लेने का भी आदेश दिया था. हालांकि दिल्ली के सभी DPS स्कूलों ने  फीस बढ़ा दी थी. जबकि स्कूलों का लॉकडाउन अभी जारी है.


DPS सोसायटी ने दिल्ली उच्च न्यायालय में दिल्ली सरकार के आदेश को अगस्त 20 में चुनौती दी थी, जिसमें अभिभावक भी पार्टी बन गए. अब इस केस मे दिल्ली के सभी निजी स्कूल भी पक्षकार हैं. अगस्त 20 से लगातार सुनवाई के बाद जनवरी मे अदालत ने जजमेंट रिजर्व कर रखा है. जबकि स्कूल लगातार दबाव बनाये हुये हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अभिभावक आर्थिक स्थिति ठीक न होने के चलते फीस अपने अपने तरीके से दे रहे हैं.जबकि स्कूल सभी चार्ज के साथ बढाई गई फीस भी लेने के लिये बच्चो को एग्जाम से हटाकर दबाव बना रहा है. सभी अभिभावको को कोर्ट के फैसले का इंतजार है. अभिभावकों का प्रिंसिपल से कहना है कि सबकी परीक्षा ली जाए. फैसला आते ही बाकी बची फीस दे दी जाएगी. वही पैरेंट्स ने हाई कोर्ट से भी शीघ्र फैसला सुनाने की  विनती की है.