कैप्टन अमरिंदर सिंह की दिल्ली यात्रा 'निजी', 'अटकलबाज़ी की ज़रूरत नहीं' : सलाहकार

ख़बरें थीं कि कैप्टन दिल्ली में BJP के दो सबसे वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात होने वाली है, जिनसे इन अटकलों को बल मिला कि वह उन वरिष्ठ नेताओं में शामिल हो सकते हैं, जो हाल ही में कांग्रेस का साथ छोड़कर गए हैं.

नई दिल्ली:

पंजाब में कुछ ही माह में होने जा रहे विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के दिग्गजों में शुमार होने वाले और गांधी परिवार के बेहद करीबी माने जाते रहे पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की भारतीय जनता पार्टी (BJP) अध्यक्ष जे.पी. नड्डा तथा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात तय होने की अफवाहों के फैलने के बीच कैप्टन के मीडिया सलाहकार ने मंगलवार को माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर कहा, कैप्टन अमरिंदर सिंह की दिल्ली यात्री 'निजी' है, और 'अटकलें लगाने की ज़रूरत नहीं' है.

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने ट्वीट में लिखा, "कैप्टन अमरिंदर सिंह की दिल्ली यात्रा के कुछ ज़्यादा ही अर्थ लगाए जा रहे हैं... वह निजी यात्रा पर हैं, और इस दौरान वह कुछ मित्रों से मुलाकात करेंगे, और कपूरथला हाउस (दिल्ली में पंजाब के मुख्यमंत्री का आवास) को खाली करेंगे... अनावश्यक अटकलें लगाने की ज़रूरत नहीं है..."

ख़बरें थीं कि कैप्टन दिल्ली में BJP के दो सबसे वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात होने वाली है, जिनसे इन अटकलों को बल मिला कि वह उन वरिष्ठ नेताओं में शामिल हो सकते हैं, जो हाल ही में कांग्रेस का साथ छोड़कर गए हैं.


राज्य की राजनीति में प्रतिद्वंद्वी नवजोत सिंह सिद्धू से कड़वाहट भारी 'जंग' के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सिर्फ 10 दिन पहले पंजाब का मुख्यमंत्री पद छोड़ा है. पद छोड़ने के बाद गुस्साए कैप्टन ने यह भी कहा था कि सिद्धू के साथ लड़ाई में कांग्रेस नेतृत्व ने तीन बार उन्हें 'बेइज़्ज़त' किया. उन्होंने सोनिया गांधी को खत लिखकर पूर्व क्रिकेटर को अगले साल होने वाले चुनाव में मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी बनाने के खिलाफ आगाह भी किया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


NDTV से बातचीत में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था, "...देश की खातिर, मैं उनके (सिद्धू के) नाम का विरोध करूंगा... यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है... वह नाकाबिल शख्स हैं..."