तीसरी लहर में 30 हजार मामले भी आएं तो दिल्ली सरकार उससे निपटने के लिए तैयार : अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा- अब दिल्ली में ICU बेडों की कमी महसूस नहीं होगी, ऑक्सीजन बेड भी बड़ी संख्या में बढ़ाए जा रहे

तीसरी लहर में 30 हजार मामले भी आएं तो दिल्ली सरकार उससे निपटने के लिए तैयार : अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने सोमवार को 500 ICU बेड के अस्थाई अस्पताल का जायजा लेने के बाद कहा कि GTB अस्पताल के सामने मौजूद राम लीला मैदान में पिछले 10 दिनों में 500 ICU बेडों का अस्पताल तैयार किया गया है. ये दूसरी लहर बहुत खराब रही है जिसमें बहुत लोग बीमार हुए और काफी ज्यादा मौतें हुईं. बड़े पैमाने पर संक्रमण फैला तो ICU बेड की ज़रूरत भी पड़ी. इसलिए 500 बेड तैयार किए गए हैं और आज रात में ICU मॉनिटर भी पहुंच जाएंगे. मंगलवार से GTB अस्पताल के साथ अटैच ये ICU अस्पताल शुरू हो जाएगा. इसी तरह LNJP अस्पताल के साथ मौजूद रामलीला मैदान में बन रहा ICU अस्पताल भी अगले 3 दिन में शुरू हो जाएगा. 

उन्होंने कहा कि अब दिल्ली में ICU बेडों की कमी महसूस नहीं होगी. इसके अलावा ऑक्सीजन बेड भी बड़ी संख्या में बढ़ाए जा रहे हैं. सोमवार की शाम तक 1000 ऑक्सीजन सिलेंडर बाहर से मंगाए जा रहे हैं. GTB अस्पताल से अटैच इस ICU अस्पताल में 22 मीट्रिक टन ऑक्सीजन खर्च होगी. ऑक्सीजन स्टोरेज के लिए ICU अस्पताल के परिसर में स्टोरेज टैंक इंस्टाल किए गए हैं.

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को भी तीसरी लहर की तैयारी करनी चाहिए. इन्फ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने और मजबूत करने की ज़रूरत है. नवंबर 2020 की कोरोना लहर सफलता से डील की थी लेकिन इस लहर में सबसे अधिक एक दिन में 28 हजार केस दर्ज हुए हैं. जिसकी वजह से पूरा इन्फ्रास्ट्रक्चर तनाव में आ गया था. लेकिन अब जिस स्केल पर इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है अगर अगली लहर में 30 हजार मामले भी एक दिन में आ गए तो हम डील करने के लिए तैयार हैं. 

दिल्ली में सोमवार को संक्रमण दर 20% से कम दर्ज हुई है. इस पर अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि मैं उम्मीद करता हूं कि दिल्ली में पीक निकल चुका हो और आने वाले समय में केस कम हों. लेकिन सरकार में मुख्यमंत्री होते हुए कोई ढिलाई नहीं देना चाहूंगा. अगर कल से कोरोना मामले बढ़ने शुरू हो जाएं तो सरकार अपनी तरफ से तैयारी पूरी रखेगी, लोगों को चिंता करने की ज़रूरत नही है.

दिल्ली में वैक्सीन की कमी पर बोले अरविंद केजरीवाल ने कहा कि "दिल्ली में वैक्सीन 3 से 4 दिन की बची है. जबकि रोजाना हम 1 लाख से सवा लाख डोज़ लगा रहे हैं. अगले कुछ दिनों में रोजाना लगने वाली वैक्सीन को 3 लाख तक लेकर जाएंगे. ऐसे में रोजाना अगर 3 लाख डोज़ दी जाती हैं तो एक महीने में 90 लाख डोज़ लगाई जा सकती हैं. 3 महीने में पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा सकते हैं. दुनियाभर में सभी एक्सपर्ट का यही मानना है कि UK और US में कोरोना में गिरावट में वैक्सीन ने अहम रोल अदा किया है. अगर दिल्ली वालों को बड़े स्तर पर वैक्सीन लग जाए तो तीसरी लहर से बचा जा सकता है."


वैक्सीन न मिलने की वजह बताते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि "कंपनी की तरफ से सप्लाई कम हो रही है. कंपनियों के सामने ऑर्डर प्लेस कर दिए हैं लेकिन हमारा मानना है कि केंद्र सरकार वैक्सीन का आवंटन कर रही है. क्योंकि केंद्र सरकार से चिट्ठी आती है कि इस महीने कितनी वैक्सीन मिलेगी. केंद्र सरकार से मेरा निवेदन है कि ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन दी जाए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


BJP के आरोप पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी को कहने दीजिए. ये राजनीतिक बातें हैं. ये समय राजनीति करने का नहीं है, ये समय सबको मिलकर लोगों की सेवा करने का है.