पिछले 10 दिनों में 20% घट गई कोरोना संक्रमण दर, जल्द हटाएंगे पाबंदियां : अरविंद केजरीवाल

Delhi Covid Cases : सीएम केजरीवाल ने कहा, कोरोना बढ़ता है तो पाबंदियां लगानी पड़ती है, लोगों को तकलीफ़ होती है. लेकिन भरोसा रखें कि जितनी ज़रूरत होती है उतनी पाबंदियां लगाते हैं.

पिछले 10 दिनों में 20% घट गई कोरोना संक्रमण दर, जल्द हटाएंगे पाबंदियां : अरविंद केजरीवाल

Delhi Covid : सोमवार को दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,760 नये मामले दर्ज किए गए थे.

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली में आज 10% कोरोना संक्रमण दर दर्ज होगी. 15 जनवरी को दिल्ली में अधिकतम 30% संक्रमण दर दर्ज हुई थी. पिछले 10 दिनों में संक्रमण दर 20% तक घट गई है. यह सब टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने की वजह से हुआ है. दिल्ली में 100% लोगों को पहला डोज़ और 82% लोगों को दोनों डोज़ वैक्सीन के लग चुके हैं. दिल्ली में गणतंत्र दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह बात कही.

साथ ही उन्होंने कहा, कोरोना बढ़ता है तो पाबंदियां लगानी पड़ती है, लोगों को तकलीफ़ होती है. लेकिन भरोसा रखें कि जितनी ज़रूरत होती है उतनी पाबंदियां लगाते हैं. जल्द ही हम प्रतिबंधों को हटाने और आपके जीवन को सामान्य स्थिति में लाने की कोशिश करेंगे. उस दिशा में सारी कोशिश होगी. 

भारत में COVID-19 मामलों में 16.4 प्रतिशत कमी, पिछले 24 घंटे में 2,55,874 नए कोरोना केस

मुख्यमंत्री ने साथ ही कहा कि कि पिछले हफ़्ते मुझसे कुछ व्यापारी मिले और ऑड इवन/वीकेंड कर्फ़्यू हटाने की मांग की. उप राज्यपाल को प्रस्ताव भेजे हैं, लेकिन उन्होंने प्रस्ताव नहीं माने. LG साहब बहुत अच्छे हैं उन्हें आपकी सेहत की चिंता है. हम और LG साहब मिलकर जल्द से जल्द पाबंदियां हटाएंगे.

दिल्‍ली में कोरोना पॉजिटिविटी रेट गिरकर 11.79% हुआ, 24 घंटे में 5760 नए मामले

बता दें, सोमवार को दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,760 नये मामले दर्ज किए गए थे. और एक दिन में कोरोना से 30 और मरीजों की मौत हो गई. जबकि संक्रमण दर गिरकर 11.79 प्रतिशत हो गई. दिल्ली में 13 जनवरी को एक दिन में सर्वाधिक 28,867 मामले दर्ज किये गये थे और इसके बाद मामलों में कमी आ रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अफवाह बनाम हकीकत: ओमिक्रॉन कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन स्‍टेज पर पहुंचा, जानिए क्‍या कहते हैं विशेषज्ञ