कोरोना महामारी: उत्‍तराखंड सरकार का रेलवे को खत, 'चार दिन तक राज्‍य के लिए नहीं चलाएं ट्रेनें..'

12 तारीख को अमावस्या है और 14 तारीख को वैशाखी. आशंका है कि ऐसी स्थिति में भीड़ ज्यादा बढ़ेगी और हालत बेकाबू होंगे. 

कोरोना महामारी: उत्‍तराखंड सरकार का रेलवे को खत, 'चार दिन तक राज्‍य के लिए नहीं चलाएं ट्रेनें..'

कोरोना के बिगड़ते हालात और कुंभ में जुटी भीड़ की वजह से उत्‍तराखंड सरकार ने रेलवे से यह आग्रह किया है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

नई दिल्ली:

Covid-19 Pandemic:  कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर उत्‍तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) ने 4 दिनों तक ट्रेन परिचालन पर रोक लगाने की मांग की है. उत्तराखंड सरकार ने रेलवे मंत्रालय (Railway Ministry) को एक पत्र लिखा है जिसमें 11 से 14 अप्रैल तक ट्रेन का परिचालन उत्तराखंड के लिए नहीं किए जाने का आग्रह किया गया है. कोरोना के चलते बिगड़ते हालात और कुंभ में जुटी भीड़ की वजह से ट्रेन न चलाने का यह आग्रह किया गया है. गौरतलब है कि 12 तारीख को अमावस्या है और 14 तारीख को वैशाखी. आशंका है कि ऐसी स्थिति में भीड़ ज्यादा बढ़ेगी और हालत बेकाबू होंगे. रोज़ाना फिलहाल 29 ट्रेन उत्तराखंड जाती हैं, इसमें 21 ट्रेन नॉर्दन की हैं. 


कार्यस्थलों पर कोरोना वैक्सीनेशन को मिलेगी मंजूरी, राज्यों से रविवार तक तैयार रहने को कहा गया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


1 अप्रैल से कुंभ मेले का शुभारंभ हो चुका है. कोरोना वायरस के चलते इस बार कुंभ मेले की अवधि पहली बार घटा दी गई है. इस साल कुंभ मेला 1 से 30 अप्रैल तक ही चलेगा. कोरोना महामारी के चलते कुंभ मेले में प्रवेश को लेकर भी काफी सावधानियां बरती जा रही हैं. उत्तराखंड हाईकोर्ट ने हरिद्वार कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कोविड-19 की रिपोर्ट, जिसमें उनके संक्रमित ना होने की पुष्टि हो या टीकाकरण रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया गया है. प्रदेश के मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने इस संबंध में कहा था कि उत्तराखंड हाईकोर्ट ने स्पष्ट आदेश दिए हैं कि हरिद्वार कुंभ में आने के लिए 72 घंटे पहले की कोविड-19 की आरटी—पीसीआर की नकारात्मक जांच रिपोर्ट या टीकाकरण रिपोर्ट लाना जरूरी होगा.