दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर अभूतपूर्व हमला, किसानों का समर्थन करना अपराध नहीं : अरविंद केजरीवाल

दिशा रवि को दिल्ली पुलिस के साइबर प्रकोष्ठ के दल ने शनिवार को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने आरोप लगाया कि भारत के खिलाफ वैमनस्य फैलाने के लिए रवि और अन्य ने खालिस्तान-समर्थक समूह ‘पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन’ के साथ साठगांठ की.

दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर अभूतपूर्व हमला, किसानों का समर्थन करना अपराध नहीं : अरविंद केजरीवाल

रवि बेंगलुरु के एक निजी कॉलेज से बीबीए की डिग्री धारक हैं.

नई दिल्ली:

किसानों के प्रदर्शन (Farmer Protest) से जुड़ी ‘टूलकिट' सोशल मीडिया पर साझा करने में संलिप्तता के आरोप में जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) को बेंगलुरू से गिरफ्तार किया गया है. दिशा रवि की गिरफ्तारी का दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विरोध किया है. उन्होंने इसे लोकतंत्र पर 'अभूतपूर्व हमला' बताया है. सीएम केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा है, '21-वर्षीय दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर अभूतपूर्व हमला है. अपने किसानों का समर्थन करना अपराध नहीं है.' 

पुलिस ने रविवार को बताया कि दिशा रवि को दिल्ली पुलिस के साइबर प्रकोष्ठ के दल ने शनिवार को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने आरोप लगाया कि भारत के खिलाफ वैमनस्य फैलाने के लिए रवि और अन्य ने खालिस्तान-समर्थक समूह ‘पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन' के साथ साठगांठ की. दिल्ली पुलिस ने ट्वीट कर दावा किया, ‘ग्रेटा थनबर्ग के साथ टूलकिट साझा करने वालों में से रवि भी एक थीं.'

दिशा रवि के समर्थन में आए पी चिदंबरम, कहा- भारत बहुत ही कमजोर बुनियाद पर खड़ा है

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि रवि को पूछताछ के लिए उनके घर से हिरासत में लिया गया और बाद में ‘टूलकिट' बनाने एवं उसके प्रसार में संलिप्तता के आरोप में गिरफ्तार किया गया. रवि बेंगलुरु के एक निजी कॉलेज से बीबीए की डिग्री धारक हैं और वह ‘फ्राइडेज फॉर फ्यूचर इंडिया' नामक संगठन की संस्थापक सदस्य भी हैं.

दिल्ली की एक अदालत ने रविवार को जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि को पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया. दिशा रवि को दिल्ली पुलिस के साइबर प्रकोष्ठ की टीम ने शनिवार को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था. पुलिस ने रवि को रविवार को अदालत में पेश किया और उन्हें सात दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेजने का अनुरोध किया था.

दिशा रवि की गिरफ्तारी से सोशल मीडिया पर भड़का आक्रोश...

पुलिस ने कहा कि भारत सरकार के खिलाफ कथित तौर पर बड़े स्तर पर साजिश रचने और खालिस्तानी आंदोलन में भूमिका को लेकर जांच करने के लिए हिरासत की आवश्यकता है.

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट केस : 5 दिन के पुलिस रिमांड में दिशा, पुलिस बोली- खालिस्तानी ग्रुप जिंदा करने की थी साजिश

सुनवाई के दौरान रवि अदालत कक्ष में रो पड़ीं और न्यायाधीश से कहा कि उन्होंने केवल दो लाइनें ही संपादित की थीं और वह किसान आंदोलन का समर्थन करना चाहती थीं. ड्यूटी मजिस्ट्रेट देव सरोहा ने दिल्ली पुलिस को रवि से पूछताछ के लिए पांच दिनों की हिरासत की अनुमति प्रदान की. (इनपुट भाषा से भी)

Video : ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट केस: दिशा रवि की गिरफ्तारी से सोशल मीडिया पर भड़का आक्रोश


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com