'हिंदूवाद और हिंदुत्व को लेकर राहुल गांधी को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए' : NDTV से बोले नितिन गडकरी

गडकरी ने कहा कि हर चुनाव में भाजपा में प्रधानमंत्री, पार्टी के अध्यक्ष से लेकर छोटे कार्यकर्ता तक हम सब ताकत से काम करते हैं. ये भारतीय जनता पार्टी की परंपरा है. ये पार्टी परिवारवादी पार्टी नहीं है.

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में चुनावी सरगर्मी अब शुरू हो गई है. सभी राजनीतिक पार्टियां लोगों को लुभाने में जुटी हुई हैं. चुनाव प्रचार के लिए तमाम वरिष्ठ नेता, मंत्री, मुख्यमंत्री सब मैदान में उतर रहे हैं. इस बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से एनडीटीवी ने खास बातचीत की. इस दौरान उन्होंने बेबाकी से कई सवालों के जवाब दिए और भाजपा सरकार के तमाम विकास कार्यों का जिक्र करते हुए विपक्ष पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में हम  तीन लाख करोड़ के रोड, ब्रिज, एक्सप्रेसवे बना रहे हैं. इसमें से एक लाख 70 से एक लाख 80 हजार करोड़ के काम पूरे किए गए हैं. एक लाख 20 हजार करोड़ के काम शुरू हैं. मुझे विश्वास है कि आने वाले 5 सालों में हम करीब 5 लाख करोड़ के रोड बनाएंगे. उत्तर प्रदेश के इंफ्रास्ट्रक्चर को अमेरिका के इंफ्रास्ट्रक्चर से बराबर करना हमारा मिशन है. 

यूपी में बनेंगे 7 ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का बड़ा ऐलान

उन्होंने कहा कि मैंने जो भी कहा डंके की चोट पर कहा है और वह पूरा करके दिखाया है. 2014 में हमारी सरकार आने के पहले उत्तर प्रदेश में कितने रोड बनते थे और आज कितने बन रहे हैं, इसका हिसाब लगा सकते हैं. हमारी सरकार ने केवल रोड ही नहीं, हमने गंगा को अविरल निर्मल बनाया. जब मैं मंत्री था तो पहले गंगा में क्या था, कितना गन्दा पानी और साधु संतों ने मुझे और मोदी जी को आशीर्वाद दिया. सब लोग मुझे बोलते थे कि ये कैसा होगा. वाराणसी से हल्दिया 1350 किलोमीटर का जलमार्ग बनाया और बड़े-बड़े हब बनाए, चालीस रिवर पोर्ट बन रहे हैं. जो बोला वो करके दिखाया. 2014 से लेकर आज तक के समय में हमने किए काम और इसके पहले के पांच साल में जब काम होते थे, उसका हिसाब लगाइए. 

उन्होंने कहा कि भगवान राम का जहां जन्म हुआ था, वहां भव्य मंदिर होना चाहिए, यह राजनीति का विषय नहीं है. ये देश के इतिहास, संस्कृति और विरासत के प्रति भगवान हैं और वहाँ एक भव्य मंदिर बने ये राजनीति का विषय नहीं, भारतीयों की मांग है. सभी लोगों, सभी धर्म के लोगों की इच्छा थी और सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा है. मुझे नहीं लगता कि ये राजनीति का विषय बनना चाहिए. हम विकास पर चुनाव लड़ रहे हैं. उत्तर प्रदेश का जो विकास मोदी जी के नेतृत्व में पांच सात साल में हमने किया, विकास और कानून व्यवस्था को ठीक योगी जी ने करके दिखाया है. डबल इंजन सरकार का परफॉर्मन्स यही बोलता है और इसी पर हम चुनाव लड़ रहे हैं. जनता जात, धर्म, भाषा आदि को न करते हुए पूरी तरह भारतीय जनता पार्टी को सपोर्ट करेगी और हमें जीत हासिल होगी.

यूपी में हुई रेड को लेकर उन्होंने कहा कि रेड के साथ हमारी सरकार का, हमारे किसी मंत्री का और भारतीय जनता पार्टी से कोई संबंध नहीं है. डिपार्टमेंट अपना काम कानूनी रूप से करते हैं. इन सब बातों को राजनीति का विषय नहीं बनाना चाहिए. हमारी उपासना पद्धति अलग होगी, हमारे संप्रदाय अलग होगी, कोई मंदिर में जाए, कोई मस्जिद में जाए तो गुरूद्वारे में जाए. हम भारतीय हैं, किसी धर्म को लेकर हमारे मन में द्वेश नहीं है. हम सब मिलकर भारतीय संस्कृति और विरासत के भरोसे हमारे राष्ट्र को आत्मनिर्भर भारत बनाएंगे. उन्होंने कहा कि हिंदूवाद और हिंदुत्व को लेकर राहुल गांधी को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए. उनकी पार्टी भी नहीं लेती, देश की जनता भी नहीं लेते और हम भी उन्हें गंभीरता से नहीं लेते. 

दिल्ली एक्सप्रेसवे को मिला 'इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम', गडकरी बोले- कम होगी ट्रैफिक की समस्या

गडकरी ने कहा कि हर चुनाव में भाजपा में प्रधानमंत्री, पार्टी के अध्यक्ष से लेकर छोटे कार्यकर्ता तक हम सब ताकत से काम करते हैं. ये भारतीय जनता पार्टी की परंपरा है. ये पार्टी परिवारवादी पार्टी नहीं है. ये पार्टी कार्यकर्ताओं की पार्टी है. मुख्यमंत्री को किस सीट से चुनाव लड़ना है यह पार्टी का फैसला होता है. सत्यपाल मलिक के मामले पर मैं टिप्पणी नहीं करूंगा. हमारे आदर्श दीनदयाल उपाध्याय ने हमें बताया है ति अंत्योदय जो शोषित, सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक, पिछडा हुआ और आखिरी पायदान पर खडा है, उसको मकान देना, निरंतर सेवा करना और सामाजिक आर्थिक परिवर्तन से गरीब को स्वाभिमान से रोटी, कपडा और मकान देना तभी हमारा कार्य पूरा होगा. उसी के लिए हम सत्ता के माध्यम से परिवर्तन के लिए काम कर रहे हैं. भारत के पुनर्निर्माण के लिए, आत्मनिर्भर भारत के लिए और हमारे देश को विश्वगुरु बनाने के लिए हमारे जीवन में जितने दिन हमको मिले, उसमें हम काम करते रहेंगे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


धर्मसंसद पर उन्होंने कहा कि विवेकानंद जी ने जो शिकागो में भाषण दिया था उसमें उन्होंने कहा था कि हमारा धर्म सहिष्णुता के आधार पर, स्वच्छता के आधार पर. सरलता के आधार सर्वसमावेशक है. हमारे राजाओं ने कभी किसी के पूजा स्थान नहीं तोड़े. हम विस्तारवादी नहीं, विश्व का कल्याण हो, हम यह चाहते हैं. सब जात, धर्म, भाषा का कल्याण हो. ये हमारी संस्कृति है और इसलिए यही विचार मुख्य विचार है. इसलिए कोई अगर इसके विपरीत बातें करते हैं तो वो हमारी विचाधारा नहीं है. उसको महत्व नहीं देना चाहिए. कानून अपना काम करेगा. यूपी में हमें पिछली बार से भी अच्छी जीत मिलेगी, उससे भी अधिक सीटें मिलेंगी और अन्य राज्यों में भी हमारी जीत होगी.