कोरोना के एक और टीके पर Bharat Biotech कर रहा काम, इसका पहले चरण का ट्रायल फरवरी-मार्च में होगा शुरू

DCGI ने जिन दो टीकों के सीमित आपात उपयोग की मंजूरी दी है, उनमें ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और एस्ट्राजेनेका के द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ मिलकर तैयार कोविशील्ड तथा घरेलू दवा कंपनी भारत बायोटेकके द्वारा विकसित पूर्णत: स्वदेशी कोवैक्सीन शामिल है.

कोरोना के एक और टीके पर Bharat Biotech कर रहा काम, इसका पहले चरण का ट्रायल फरवरी-मार्च में होगा शुरू

भारत बायोटेक के चेयरमैन डॉ. कृष्‍णा इल्‍ला (फाइल फोटो)

खास बातें

  • वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के साथ कर रहा काम
  • इस टीके का क्‍लीनि‍कल ट्रायल के पहले का परीक्षण हो चुका पूरा
  • नाक के जरिये दी जाने वाली यह दवा एक ही खुराक में करेगी बचाव
हैदराबाद :

Covid-19 vaccine: भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने कहा है कि कोरोना वायरस के खिलाफ उसके नए इंट्रानेजल एंटीडोट के लिए पहले चरण के क्‍लीनिकल परीक्षण (clinical trials) इस वर्ष फरवरी-मार्च तक आरंभ होंगे.
‘इंट्रानेजल एंटीडोट' (Intranasal antidote) नाक के जरिए दी जाने वाली संक्रमणरोधी दवा को कहा जाता है.
 ‘कोवैक्सीन' के अलावा भारत बायोटेक एक और टीके के विकास के लिए काम कर रहा है जो एक ही खुराक में कोविड-19 से बचाव करेगा. इस टीके के विकास के लिए भारत बायोटेक वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के साथ मिलकर काम कर रहा है.

कोरोना वैक्‍सीन के लिए रजिस्‍ट्रेशन होगा जरूरी, जाने किन दस्तावेजों की होगी जरूरत

टीका निर्माता कंपनी ने बताया, ‘‘बीबीवी154 (इंट्रानेजल कोविड-19 टीका) का क्लिनिकल परीक्षण से पहले का परीक्षण पूरा हो चुका है. ये अध्ययन अमेरिका तथा भारत में किए गए. मानव पर पहले चरण का क्लिनिकल परीक्षण फरवरी-मार्च 2021 तक शुरू होगा.''भारत बायोटेक ने बताया कि मानव पर पहले चरण का परीक्षण भारत में किया जाएगा.

भारत बायोटेक के चेयरमैन ने कहा, "हम पर अनुभवहीन होने का आरोप न लगाएं''

गौरतलब है कि DCGI ने जिन दो टीकों के सीमित आपात उपयोग की मंजूरी दी है, उनमें ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और एस्ट्राजेनेका के द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ मिलकर तैयार कोविशील्ड तथा घरेलू दवा कंपनी भारत बायोटेकके द्वारा विकसित पूर्णत: स्वदेशी कोवैक्सीन शामिल है. 


कोविड-19 टीकाकरण से जुड़े हर सवाल का जवाब

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)