अपने बच्चे को अस्पताल में छोड़कर भागी बिन ब्याही मां, डॉक्टरों ने नवजात को मंदिर के पास फेंका

स्थानीय लोगों से सूचना मिलने के बाद पुलिस ने शिशु को जिला अस्पताल में भर्ती कराया.

अपने बच्चे को अस्पताल में छोड़कर भागी बिन ब्याही मां, डॉक्टरों ने नवजात को मंदिर के पास फेंका

प्रतीकात्मक तस्वीर.

माचिलीपटनम (आंध्रप्रदेश):

आंध्रप्रदेश के कृष्णा जिले में बिन ब्याही मां द्वारा एक नर्सिंग होम में अपनी नवजात शिशु छोड़े जाने के बाद उसे एक मंदिर के समीप फेंकने और बाद में उसकी मौत हो जाने के मामले में शनिवार को एक निजी डॉक्टर और एक एएनएम को गिरफ्तार किया गया.

पुलिस के अनुसार इस शिशु को एक अक्टूबर को माचिलीपटनम के एक नर्सिंग होम में छोड़ दिया गया था. उसी दिन डॉ. धनवंतरि श्रीनिवासाचार्य और एएनएम बेबी रानी की अगुवाई में नर्सिंग कर्मचारियों ने बच्चे को कथित रूप से श्री वेंकेटेश्वरसामी मंदिर के समीप फेंक दिया था.

स्थानीय लोगों से सूचना मिलने के बाद पुलिस ने शिशु को जिला अस्पताल में भर्ती कराया. जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने दो अक्टूबर को शिशु को विजयवाड़ा के अस्पताल ले जाने को कहा. विजयवाड़ा के सरकारी अस्पताल में शिशु को मृत घोषित कर दिया गया.

पैदा होते ही बच्चे को किया अगवा, महिला और उसका दोस्त गिरफ्तार

पुलिस के अनुसार इस नवजात शिशु को उसकी मां द्वारा छोड़े जाने के बाद डॉ. श्रीनिवासाचार्य और एएनएम बेबी रानी को उसे फेंकने की घटना में शामिल पाया गया. वैसे जो डॉक्टर प्रसव के वक्त मौजूद था, वह फरार है.

चिलाकलापुडी के सर्किल इंस्पेक्टर एम. वेंकेटनारायण ने बताया कि माचिलीपटनम के ग्राम राजस्व अधिकारी सुधाकर की शिकायत पर डॉ. श्रीनिवासाचार्य और एएनएम को गिरफ्तार किया गया है.


आधी रात बच्चा चोरी करने की कोशिश कर रहा था शख्स, महिला उठी और फिर... देखें VIDEO

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: उत्तरकाशी में जन्मे 216 नवजात में एक भी लड़की नहीं



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)