अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस ने 'Koo' पर अपना आधिकारिक हैंडल बनाया

अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस त्रिपुरा और पश्चिम बंगाल त्रिपुरा छात्र परिषद परिषद ने भी Koo (कू) पर अपने आधिकारिक खाते बना लिए हैं

अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस ने 'Koo' पर अपना आधिकारिक हैंडल बनाया

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (AITC) ने Koo (कू) पर अपना आधिकारिक हैंडल बना लिया है. पार्टी ने बांग्ला और अंग्रेजी में पोस्ट करके मंच से जुड़ने पर प्रसन्नता व्यक्त की. अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस त्रिपुरा और पश्चिम बंगाल त्रिपुरा छात्र परिषद परिषद ने भी  Koo (कू) पर अपने आधिकारिक खाते बना लिए हैं. 

अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (एआईटीसी) ने भारतीय भाषाओं में उपलब्ध भारतीय माइक्रोब्लॉगिंग और सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म Koo (कू) पर एक आधिकारिक खाता स्थापित किया है. Koo (कू) प्लेटफॉर्म पर हैंडल @AITOfficial का उपयोग करते हुए, पार्टी पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा के लोगों के साथ सूचना, अपडेट और विकास साझा करेगी. अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (AITC), AITC त्रिपुरा (@AITC4Tripura) और AITC की छात्र शाखा के साथ-साथ पश्चिम बंगाल तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद (@WBTMCPofficial) ने भी मंच पर अपना खाता खोला है.

बंगाली और अंग्रेजी दोनों में अपने पहले Koo (कू) में, एआईटीसी ने कहा, "हम Koo (कू) पर आकर उत्साहित हैं". पार्टी बांग्ला, हिंदी, अंग्रेजी और अन्य भाषाओं में लोगों से जुड़ेगी और संवाद करेगी. इसके अलावा, Koo (कू) पर अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (AITC) की उपस्थिति नागरिकों को पार्टी के नियमित अपडेट, घोषणाएं और पहल  की जानकारी प्राप्त करने में सक्षम बनाएगी. 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस का स्वागत करते हुए, Koo (कू) के सह-संस्थापक और सीईओ अप्रमेय राधाकृष्ण ने कहा, “Koo (कू) परिवार अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (एआईटीसी) का गर्मजोशी से स्वागत  करता है. हमें विश्वास है कि इससे लोग एआईटीसी के अपडेट और योजनाओं को सुन सकेंगे. कुछ ही समय में, Koo (कू) ने 10 मिलियन डाउनलोड को पार कर लिया है और हम और अधिक लोगों के इस प्लेटफॉर्म से जुड़ने की उम्मीद करते हैं."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वर्तमान में आठ भाषाओं में उपलब्ध, Koo (कू) लोगों को अपनी मातृभाषा में कई उपयोगकर्ताओं के साथ बातचीत करने का अवसर देता है. लगभग 16 महीनों में, Koo (कू) को एक करोड़ बार डाउनलोड करा जा चूका है. जनता के साथ अपने विचार और अपडेट व्यक्त करने के लिए राजनीतिक नेता और मशहूर हस्तियां Koo (कू) पर तेजी से साइन अप कर रहे हैं.