Anti Anxiety Foods: एंग्जाइटी को कम करने के लिए डाइट में शामिल करें ये 8 फूड्स!

Best Anti Anxiety Foods:  एंग्जाइटी एक मानसिक रोग है, जिसमें रोगी को तेज़ बेचैनी के साथ नकारात्मक विचार, चिंता और डर का आभास होता है. असल में जब हम किसी भी चीज को लेकर बहुत ज्यादा चिंता या फिक्र करते हैं, जो हमारी लाइफ को ज्यादा प्रभावित करें उसे एंग्जाइटी डिसऑर्डर कहा जा सकता है.

Anti Anxiety Foods: एंग्जाइटी को कम करने के लिए डाइट में शामिल करें ये 8 फूड्स!

Anxiety Foods: आज की बीजी लाइफ में हर वर्ग के लोग बच्चे से लेकर जवान और बुजुर्गों तक में तनाव की समस्या देखी जा रही है.

खास बातें

  • हरी पत्तेदार सब्जियां मैग्नीशियम का सबसे अच्छा सोर्स मानी जाती हैं.
  • साबुत अनाज को डाइट में शामिल कर एंग्जाइटी को कम कर सकते हैं.
  • डार्क चॉकलेट में कोकोआ फ्लेवोनोइड्स अधिक होते हैं.

Best Anti Anxiety Foods: एंग्जाइटी एक ऐसी समस्या है, जब हम किसी भी चीज को लेकर बहुत ज्यादा चिंता या फिक्र करते हैं, जो हमारी लाइफ को ज्यादा प्रभावित करें उसे एंग्जाइटी डिसऑर्डर कहा जा सकता है. सबसे पहले तो ये जानना जरूरी है कि एंग्जाइटी क्या होता है? आपको बता दें कि यह एक मानसिक रोग है, जिसमें रोगी को तेज़ बेचैनी के साथ नकारात्मक विचार, चिंता और डर का आभास होता है. जैसे, अचानक हाथ कांपना, पसीने आना आदि. अगर समय पर इसका सही इलाज न किया जाए तो यह बहुत खतरनाक हो सकता है और मिर्गी का कारण भी बन सकता है. आज की बीजी लाइफ में हर वर्ग के लोग बच्चे से लेकर जवान और बुजुर्गों तक में तनाव की समस्या देखी जा रही है. सीधे सरल शब्दों में कहें तो इस समस्या से पीडित लोग बेवजह बहुत ज्यादा चिंतित रहते हैं. कुछ लोगों को ये समस्या उनके परिवारिक वजह से भी सकती है. अगर किसी के परिवार में पहले से इस समस्या से ग्रेसित कोई है, तो उसके कारण भी ये हो सकता है. लेकिन एंग्जाइटी को कम करने के लिए आप अपनी डाइट में हेल्दी फूड्स को शामिल कर इस समस्या को कम कर सकते हैं. तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे ही फूड्स के बारे में बताते हैं जो इस समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं.

एंग्जाइटी को कम करने में मददगार है ये फूड्सः

1. खट्टे फलः

खट्टे फल विटामिन सी के सबसे अच्छे सोर्स माने जाते हैं. विटामिन सी कोर्टिसोल के बढ़े हुए स्तर को रोककर शारीरिक और मानसिक तनाव को कम करने में मदद कर सकते हैं.

2. मैग्नीशियमः

मैग्नीशियम एक खनिज है. हरी पत्तेदार सब्जियां मैग्नीशियम का सबसे अच्छा सोर्स मानी जाती हैं. इनके सेवन से दिमाग को शांत और खुश रखा जा सकता है. इससे एंग्जाइटी की समस्या को कम किया जा सकता है.  

3. कॉम्प्लेक्स कार्ब्सः

साबुत अनाज से जटिल कार्ब्स रक्तप्रवाह में एक लंबे समय तक ऊर्जा रिलीज सुनिश्चित करके आपकी मदद कर सकते हैं. कार्ब्स को मस्तिष्क में सेरोटोनिन नामक एक रसायन को बढ़ावा देने के लिए भी जाना जाता है. ओट्स, साबुत गेहूं, क्विनोआ, जौ या अन्य साबुत अनाज को डाइट में शामिल कर आप एंग्जाइटी को कम कर सकते हैं.

7mm45mlg

कार्ब्स को मस्तिष्क में सेरोटोनिन नामक एक रसायन को बढ़ावा देने के लिए भी जाना जाता है. Photo Credit: iStock

4. जिंकः

जिंक हमारे शरीर के लिए जरूरी तत्व में से एक हैं. काजू, चिकन अंडे में अच्छी मात्रा में जिंक पाया जाता है जो शरीर ही नहीं आपके दिमाग के लिए भी अच्छे माने जाते हैं इनके सेवन से एंग्जाइटी की समस्या को कम किया जा सकता है.

5. ओमेगा-3 फैटी एसिडः

मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड और विटामिन के तत्व पाए जाते हैं. जो आपकी सेहत के लिए लाभदायक माने जाते हैं. फिश, अखरोट और फ्लैक्ससीड्स ओमेगा के अच्छे सोर्स हैं. डिप्रेशन, उदासी, एंग्जाइटी को कम करने के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड को डाइट में शामिल कर सकते हैं.

6. ग्रीन टीः

ग्रीन टी और कैमोमाइल टी को सेहत के लिए काफी अच्छा माना जाता है. इनमें एंटी-ऑक्सीडेंट अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं जो आपके दिमाग को शांत कर आपको खुश रखने में मदद कर सकते हैं. कैमोमाइल टी के सेवन से नींद अच्छी आती है जो आपके तनाव को कम करने में मदद कर सकते हैं.

Pudina Drinks: इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए इन पांच पुदीना ड्रिंक को करें ट्राई!

063vm1m8

ग्रीन टी और कैमोमाइल टी को सेहत के लिए काफी अच्छा माना जाता है. Photo Credit: iStock

7. चॉकलेटः

डार्क चॉकलेट में कोकोआ फ्लेवोनोइड्स अधिक होते हैं जो मस्तिष्क और हृदय में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करते हैं. इनमें एंटीऑक्सीडेंट अच्छी मात्रा में पाया जाता है. इसके सेवन से एंग्जाइटी की समस्या को कम किया जा सकता है.

8. हल्दीः

हल्दी में बायोएक्टिव कंपाउंड, करक्यूमिन होता है, जिसके इस्तेमाल से एंग्जाइटी की समस्या को कम किया जा सकता है. हल्दी हैप्पी हार्मोन सेरोटोनिन और डोपामाइन को बढ़ावा देने का काम करता है. वास्तव में, इसे एंटी-डिप्रेसेंट दवाओं के रूप में काफी प्रभावी माना जाता है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

फूड की और खबरों के लिए जुड़े रहें.

Weight Loss: मोटापा कम करने के लिए खूब खाएं इडली सांभर!

Sattu For Health: गर्मियों में रिफ्रेश रहने के लिए रोज पिएं सत्तू का शरबत!

Chaitra Navratri 9 Colours For 9 Days: कब है चैत्र नवरात्रि, यहां जानें दिनांक, महत्व, नौ दिनों के लिए रंग और व्रत नियम

Kabuli Pulao : खाने में हल्का और स्वाद में लाजवाब है यह काबुली पुलाव- Recipe Inside

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Chana Dal Benefits: जानें चने की दाल खाने के पांच जबरदस्त लाभ!