US में फ्री में मिलेगी Covid-19 वैक्सीन, लेकिन ट्रंप के आलोचकों को है इस बात का डर

अमेरिकी स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि अगर अमेरिका में कोविड-19 की वैक्सीन विकसित हो जाती है और ट्रायल प्रक्रिया में यह सफल रहती है तो इसे हर अमेरिकी नागरिक को मुफ्त में दिया जाएगा. इसके साथ ही उनकी ओर से इस बात का भरोसा दिलाया गया है कि वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

US में फ्री में मिलेगी Covid-19 वैक्सीन, लेकिन ट्रंप के आलोचकों को है इस बात का डर

अमेरिका में कोविड वैक्सीन बनने पर लोगों को फ्री डोज़ मिलेंगे. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वॉशिंगटन:

अमेरिकी स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि अगर अमेरिका में कोविड-19 की वैक्सीन विकसित हो जाती है और ट्रायल प्रक्रिया में यह सफल रहती है तो इसे हर अमेरिकी नागरिक को मुफ्त में दिया जाएगा. इसके साथ ही उनकी ओर से इस बात का भरोसा दिलाया गया है कि वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं किया जाएगा. स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी पॉल मैंगो ने गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि 'हम जांच के नियमों में कोई कमी नहीं ला रहे हैं, हम हर कसौटी पर वैक्सीन को परखेंगे, उसके बाद ही मंजूरी दी जाएगी.'

बता दें कि अमेरिका में फिलहाल छह वैक्सीन प्रोजेक्ट चल रहे हैं. ट्रंप सरकार ने  इसके लिए 10 बिलियन डॉलर से ज्यादा की रकम लगाई गई है और वैक्सीन बन जाने बाद लाखों डोज़ की डिलीवरी के लिए समझौते किए हैं. वैक्सीन के डोज़ के लिए वहां की सरकार ही पैसे चुकाएगी. वैक्सीन लगाने वाले डॉक्टरों और क्लीनिक्स को इसके लिए पैसे दिए जाएंगे लेकिन इसका खर्च निजी और सरकारी इंश्योरेंस संस्थाएं उठाएंगी. 

यह भी पढ़ें: रूस ने बनाई दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन Sputnik V, राष्ट्रपति पुतिन की बेटी को लगाया गया टीका

पॉल मैंगो ने बताया कि 'अधिकतर' व्यावसायिक इंश्योरेंस संस्थाओं ने अपने ग्राहकों की जेब से खर्च होने वाले पैसों उन्हें छूट देंगी. उन्होंने कहा, 'हम जनवरी 2021 तक लाखों में वैक्सीन डोज़ डिलीवर करने के रास्ते पर हैं.' National Institutes of Health (NIH) के डायरेक्टर फ्रांसिस कॉलिन्स ने कहा कि उन्हें आशा है कि अमेरिका की ओर से फंडेड इन छह वैक्सीन प्रोजेक्ट्स में कम से कम एक वैक्सीन साल के अंत तक बनकर तैयार हो जाएगी.

हालांकि, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आलोचकों को डर है कि नवंबर में होने वाले चुनावों के चलते ट्रंप सरकार जल्दबाजी में वैक्सीन लॉन्च कर सकती है. अमेरिका में 3 नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव होने हैं. ऐसे में उन्हें डर है कि सरकार वैक्सीन जल्दी लाने की जल्दीबाजी में इसकी सुरक्षा से समझौता कर सकती है. मैंगो ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वैक्सीन को बनाने और इसके ट्रायल के नियामकों में किसी तरह का समझौता नहीं किया जा रहा है और इसके बन जाने पर इसकी सुरक्षा सुनिश्चित हो जाने पर ही इसे लॉन्च किया जाएगा. 

Video: रूस की कोरोना वैक्सीन पर जानकार क्यों उठा रहे हैं सवाल?


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)