'Atal pension yojana'

- 8 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: भाषा |गुरुवार सितम्बर 2, 2021 08:43 AM IST
    PFRDA ने बताया कि Atal Pension Yojana के अंशधारकों की संख्या 25 अगस्त तक 3.30 करोड़ के आंकड़े को पार कर गई. PFRDA ने एक बयान में कहा कि चालू वित्त वर्ष में 28 लाख से अधिक नए एपीवाई खाते खोले गए हैं.
  • India | Reported by: भाषा |मंगलवार जनवरी 28, 2020 06:14 PM IST
    कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees' Provident Fund Organisation) की पेंशन योजना ‘ईपीएस’ के दायरे में आने वाले कर्मचारियों को इस बजट में अच्छी खबर मिल सकती है. योजना के तहत न्यूनतम पेंशन राशि को बढ़ाने की घोषणा की जा सकती है. क्षेत्र के विशेषज्ञों का ऐसा मानना है. इसके साथ ही अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) का दायरा बढ़ाने और एनपीएस (NPS) में अतिरिक्त कर छूट की घोषणा भी की जा सकती है.
  • India | ख़बर न्यूज़ डेस्क |बुधवार जून 26, 2019 07:51 AM IST
    अटल पेंशन योजना एक हजार, दो हजार, तीन हजार, चार हजार या पांच हजार रु की मासिक पेंशन का लाभ 60 साल की उम्र में देती है. यह स्कीम 18 से 40 साल तक के सब्सक्राइबर्स के लिए है. इसके लिए 42 रुपए महीना की बचत से शुरुआत की जा सकती है.
  • File Facts | Written by: राजीव मिश्र |बुधवार अप्रैल 18, 2018 03:41 PM IST
    सरकारी नौकरी में पहले लोगों को पेंशन की टेंशन नहीं होती थी. लेकिन अब प्राइवेट हो या सरकारी नौकरी (सेना को छोड़कर) सभी को रिटायरमेंट के बाद पेंशन की टेंशन होने लगती है. कई बार तो ऐसा भी होने लगा है कि लोग अपनी जरूरत की चीजें भी पेंशन के चक्कर में नहीं लेते और पैसा इकट्ठा करने में परेशान हो जाते हैं. इसके चलते यह भी हो जाता है कि टैक्स की टेंशन दूसरी तरफ परेशान करने लगती है. ऐसे में अगर व्यक्ति फाइनेंशियल प्लानिंग के तहत पेंशन स्कीम में पैसा लगाता है तो उसे अपने बुढ़ापे की टेंशन नहीं लेनी होगी. देश में सरकार की ओर से और निजी कंपनियों की ओर से पेंशन योजनाएं लाई गई हैं.
  • Your Money | Written by Rajeev Mishra |मंगलवार मई 1, 2018 02:08 PM IST
    सरकारी नौकरी में पहले लोगों को पेंशन की टेंशन नहीं होती थी. लेकिन अब प्राइवेट हो या सरकारी नौकरी (सेना को छोड़कर) सभी को रिटायरमेंट के बाद पेंशन की टेंशन होने लगती है. कई बार तो ऐसा भी होने लगा है कि लोग अपनी जरूरत की चीजें भी पेंशन के चक्कर में नहीं लेते और पैसा इकट्ठा करने में परेशान हो जाते हैं. इसके चलते यह भी हो जाता है कि टैक्स की टेंशन दूसरी तरफ परेशान करने लगती है. ऐसे में अगर व्यक्ति फाइनेंशियल प्लानिंग के तहत पेंशन स्कीम में पैसा लगाता है तो उसे अपने बुढ़ापे की टेंशन नहीं लेनी होगी. देश में सरकार की ओर से और निजी कंपनियों की ओर से पेंशन योजनाएं लाई गई हैं.
  • Business | भाषा |सोमवार जुलाई 18, 2016 07:05 PM IST
    सरकार ने साल 2015-16 में अटल पेंशन योजना में सह-योगदान के वास्ते 100 करोड़ रुपये की राशि जारी की है। अटल पेंशन योजना के तहत 31 मार्च 2016 से पहले पंजीकरण कराने वाले व्यक्ति को सरकार की तरफ से भी सहयोग प्राप्त होगा।
  • Blogs | बुधवार मई 13, 2015 09:37 PM IST
    कई बार लगता है कि जीवन के बाद इस धरती पर कुछ बचा रहेगा तो वो है बीमा। इसलिए जीवन बचे न बचे बीमा बचाइये। हमारे आस पास तेज़ी से बदलाव हो रहा है। भले ही व्यापक रूप से इसके समर्थन या विरोध की राजनीतिक सक्रियता नज़र न आती हो लेकिन बीमा राजनीतिक शब्दावली में अपनी जगह बनाने लगा है।
  • Blogs | मंगलवार मई 12, 2015 09:39 PM IST
    रेडियो टीवी पर बीमा की शर्तों को दनदनाकर पढ़ते हुए सुनने से हमेशा लगता है कि बीमा तो बस ले लेने का मैटर है, समझने का चैप्टर नहीं है। शर्तें लागू को इस तरह से पढ़ा जाता है कि अगर दुर्घटना से बच भी गए तो इन शर्तों से मारे जाएंगे।
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com