'Rajendra Prasad'

- 23 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: भाषा |रविवार जुलाई 24, 2022 07:40 PM IST
    द्रौपदी मुर्मू 25 जुलाई को शपथ लेने वाली देश की 10वीं राष्ट्रपति होंगी. रिकॉर्ड दर्शाते हैं कि वर्ष 1977 से लगातार राष्ट्रपतियों ने इस तिथि (25 जुलाई) को शपथग्रहण की है. भारत के पहले राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद ने 26 जनवरी 1950 को शपथ ली थी. 1952 में उन्होंने पहला राष्ट्रपति चुनाव जीता.
  • File Facts | Written by: अभिषेक पारीक |रविवार जुलाई 17, 2022 11:13 PM IST
    Presidential Election 2022: देश के अगले राष्ट्रपति के लिए सोमवार को चुनाव होगा. वोटों की गिनती गुरुवार को होगी और 25 जुलाई को नए राष्ट्रपति शपथ ग्रहण करेंगे. इस बार द्रौपदी मुर्मू को एनडीए ने राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है, वहीं अन्य विपक्षी दलों ने यशवंत सिन्हा को प्रत्याशी चुना है. आइए जानते हैं कि देश में अब तक हुए राष्ट्रपति चुनावों की रोचक बातें.
  • Bihar | Reported by: मनीष कुमार |बुधवार मई 25, 2022 07:13 PM IST
    राज्‍यसभा सांसद मोदी ने कहा कि निगरानी ब्यूरो ने 26 नवंबर, 2021 को राज्यपाल को पत्र लिखकर उनके निजी सचिव विजय सिंह और लखनऊ के अतुल श्रीवास्तव सहित 27 लोगों पर भ्रष्टाचार से जुड़े आपराधिक मामले में अनुमति मांगी थी, परंतु आज तक वह अनुमति नहीं मिली है. इससे बिहार की उच्च शिक्षा की छवि खराब हो रही है.
  • India | Edited by: अमनप्रीत कौर |शुक्रवार दिसम्बर 3, 2021 11:18 AM IST
    डॉ राजेंद्र प्रसाद देश के पहले राष्ट्रपति थे और उन्होंने भारत के स्वाधीनता आंदोलन में भी अहम भूमिका निभाई थी. इतना ही नहीं देश के संविधान निर्माण में भी डॉ प्रसाद ने अपना योगदान दिया था.
  • India | Edited by: अमनप्रीत कौर |शुक्रवार दिसम्बर 3, 2021 11:12 AM IST
    राजेंद्र बाबू व देश रत्न के नाम से मशहूर डॉ राजेंद्र प्रसाद भारतीय स्वाधीनता आंदोलन के प्रमुख नेताओं में से एक थे. 26 जनवरी 1950 को वे देश के पहले राष्ट्रपति चुने गए थे
  • India | Reported by: मनीष कुमार, Edited by: प्रमोद कुमार प्रवीण |रविवार नवम्बर 21, 2021 09:15 AM IST
    आरोपी कुलपति ने अपने आदेश में प्रो वीसी, रजिस्ट्रार, परीक्षा नियंत्रक, वित्त अधिकारी को लिखा है कि आदेश का पालना खुद और अधीनस्थ कर्मचारियों से सुनिश्चित कराएं. इसके एक प्रति राजभवन को भी भेजी गई है. वीसी ने आदेश में लिखा है कि जब तक उनका या कुछ मामलों में राजभवन से लिखित आदेश नहीं मिलता तब तक एजेंसी को कागजात न दिए जाएं.
  • Jobs | Written by: नेहा फरहीन |गुरुवार अप्रैल 22, 2021 04:54 PM IST
    Bihar Police Driver Constable PET 2021 Date: सेंट्रल सेलेक्शन बोर्ड ऑफ कांस्टेबल (CSBC), बिहार 7 मई को पुलिस ड्राइवर कांस्टेबल पदों के लिए फिजिकल एफिशिएंसी टेस्ट आयोजित करेगा. यह टेस्ट शहीद राजेंद्र प्रसाद सिंह गवर्नमेंट हाई स्कूल, पटना में आयोजित किया जाएगा. सभी उम्मीदवारों के एडमिट कार्ड, जो परीक्षा के लिए शॉर्टलिस्ट किए गए हैं, बोर्ड द्वारा 25 अप्रैल को जारी किए जाएंगे.
  • India | Reported by: रवीश रंजन शुक्ला, Edited by: सूर्यकांत पाठक |सोमवार नवम्बर 2, 2020 05:01 PM IST
    Bihar Election 2020: बिहार के दो VIP गांव जीरादेई (Jeeradoi) और फुलवरिया (Fulwariya) हैं. जीरादेई देश के प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद (Dr Rajendra Prasad) का है और फुलवरिया लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) का पैतृक गांव है. सिवान से करीब 12 किमी दूर जीरादेई गांव है. गांव में एक कोठी है जो कि देश के प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद की है. इसे संरक्षित घोषित किया गया है. चुनाव के मौसम में कोठी के रंगरोगन का काम फिलहाल सरकार करवा रही है. इस गांव में लाइब्रेरी बनाने के लिए जीरादोई के ही निवासी रामेश्वर सिंह ने लाखों रुपये की अपनी जमीन दान दे दी, मंत्री जी के शिलान्यास का बोर्ड भी लग गया लेकिन लाइब्रेरी आज तक नहीं बनी.
  • Career | Written by: बबिता पंत |शुक्रवार फ़रवरी 28, 2020 11:27 AM IST
    साल 1962 में राष्ट्रपति पद से हट जाने के बाद डॉ राजेंद्र प्रसाद को भारत सरकार द्वारा सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाज़ा गया.
  • Career | Written by: अर्चित गुप्ता |मंगलवार दिसम्बर 3, 2019 12:36 PM IST
    Rajendra Prasad birth Anniversary: देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की आज जयंती (Rajendra Prasad Jayanti) है. डॉ. राजेन्द्र प्रसाद का जन्म जीरादेई (बिहार) में 3 दिसंबर 1884 को हुआ था. उनके पिता का नाम महादेव सहाय तथा माता का नाम कमलेश्वरी देवी था. राजेन्द्र बाबू बचपन से ही पढ़ाई में तेज थे. उनकी प्रारंभिक शिक्षा छपरा के जिला स्कूल से हुई थी. मात्र 18 वर्ष की उम्र में उन्होंने कोलकाता विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा प्रथम स्थान से पास की और फिर कोलकाता के प्रसिद्ध प्रेसीडेंसी कॉलेज में दाखिला लेकर लॉ के क्षेत्र में डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की. लॉ करने के बाद वह एक बड़े वकील के रूप में प्रैक्टिस करते रहे. वह भारतीय स्वाधीनता आंदोलन के प्रमुख नेताओं में से एक थे. उन्होंने भारतीय संविधान के निर्माण में भी अपना योगदान दिया था. आइये जानते हैं डॉ राजेंद्र प्रसाद से जुड़ी 10 बातें..
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com