'Flood in Uttar Pradesh'

- 34 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: मोहम्मद अतहरुद्दीन मुन्ने भारती |बुधवार सितम्बर 29, 2021 12:41 AM IST
    किसानों की चिंता और उनके प्रति संवेदनशील रहने वाली योगी सरकार ने राजस्व और कृषि विभाग से परस्पर समन्वय बनाते हुए शीर्ष प्राथमिकता पर इस कार्य को पूरा कराने के लिए कहा है. नदियों के जलस्तर में लगातार आ रही गिरावट से किसानों को काफी राहत मिली है.
  • India | Reported by: आलोक पांडे |गुरुवार अगस्त 12, 2021 10:56 AM IST
    पश्चिमी यूपी के मिर्जापुर का एक वीडियो सामने आ रहा है, जिसमें गंगा में एक घर बहता दिख रहा है. ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. गंगा का बहाव इतना तेज है कि कंक्रीट का ढांचा भी पूरा का पूरा बह गया. इसे लेकर लोग अचरज भी प्रकट कर रहे हैं.
  • India | Reported by: भाषा |मंगलवार अगस्त 10, 2021 05:33 AM IST
    मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राजस्थान एवं मध्य प्रदेश में भारी बारिश होने के कारण जनपद औरैया के 13 राजस्व ग्रामों के लोग प्रभावित हुए हैं. इटावा से मिली खबर के अनुसार आदित्यनाथ ने जिले में बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करने के उपरान्त जिला मुख्यालय पर पुलिस लाइन सभागार में अपने संक्षिप्त संबोधन मे उपस्थित अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों, बाढ पीडितों को संबोधित करते हुए कहा कि कोटा बैराज से भारी मात्रा में चंबल नदी में जल छोड़े जाने से इटावा औरैया सहित अन्य जनपदों में आई बाढ़ से उत्पन्न परिस्थितियों पर राज्य सरकार की पहले से नजर रखी जा रही थी.
  • India | Reported by: मनीष कुमार |मंगलवार जून 22, 2021 11:06 AM IST
    Bihar Flood Updates : स्थानीय लोगों का कहना है कि अधिकारियों और जनप्रतिनिधियो से कई बार बोला गया कि अप्रैल-मई तक रिंग बांध की मरम्मत जरूर करा दी जाए, ताकि किसान खेती भी कर लेंगे और बाढ़ से बच भी जाएंगे, लेकिन अधिकारी और जनप्रतिनिधि केवल हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे.
  • Uttar Pradesh | Reported by: भाषा |शुक्रवार अगस्त 21, 2020 09:59 AM IST
    उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त संजय गोयल ने बृहस्पतिवार को बताया कि इस समय खतरे के निशान से ऊपर बह रही शारदा, राप्ती और घाघरा नदियों की बाढ़ से प्रदेश के आम्बेडकर नगर, अयोध्या, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बाराबंकी, बस्ती, देवरिया, फर्रूखाबाद, गोण्डा, गोरखपुर, लखीमपुर खीरी, कुशीनगर, पीलीभीत, संतकबीर नगर तथा सीतापुर के 875 गांव प्रभावित हैं.
  • Uttar Pradesh | Reported by: भाषा, Edited by: मानस मिश्रा |शुक्रवार जुलाई 31, 2020 05:25 PM IST
    उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे के दौरान कुछ जगहों पर हल्की जबकि कुछ जगहों पर मूसलाधार बारिश हुई है. कई नदियां खतरे के निशान के करीब या पार पहुंच गयी हैं. केन्द्रीय जल आयोग के मुताबिक गंगा, शारदा, घाघरा, राप्ती सहित प्रमुख नदियों का जलस्तर खतरे के निशान के करीब पहुंच गया है या फिर कुछ स्थानों पर खतरे के निशान को पार कर गया है. मौसम विभाग ने शुक्रवार को बताया कि सबसे अधिक 16 सेंटीमीटर बारिश बर्डघाट (गोरखपुर) और गुन्नौर (संभल) में रिकार्ड की गयी. सुल्तानपुर, पूरनपुर (पीलीभीत) और नरोरा (बुलंदशहर) में सात-सात, भाटपुरवाघाट (सीतापुर) में छह, बिजनौर में पांच, जबकि ककराही (सिद्धार्थनगर), मुरादाबाद और मवाना (मेरठ) में चार-चार सेंटीमीटर बारिया दर्ज की गई है. 
  • Zara Hatke | Reported by: IANS |शुक्रवार अक्टूबर 4, 2019 11:29 AM IST
    उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के चिल्ला थाना क्षेत्र के गुगौली गांव की एक बुजुर्ग महिला यमुना नदी में नहाते समय बह गई. उसे छह किलोमीटर दूर फतेहपुर जिले में एक ग्रामीण ने पानी से जीवित बाहर निकाल लिया.
  • Bollywood | Written by: आशना मलिक |मंगलवार अक्टूबर 1, 2019 04:29 PM IST
    उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और बिहार (Bihar) में बीते कुछ दिनों से हो रही लगातार बारिश ने आम लोगों की समस्या को बढ़ा दिया है. राज्य के हर गली-कूचे में पानी भर गया है. मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून ने करीब 25 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है. इससे पहले साल 1994 में भी मॉनसून ने अपना कहर दिखाया था.
  • Uttar Pradesh | Reported by: NDTV इंडिया, Written by: प्रभात उपाध्याय |शनिवार सितम्बर 21, 2019 07:05 PM IST
    वाराणसी (Varanasi) में गंगा का पानी तेजी से बढ़ रहा है. बाढ़ (Flood) की वजह से सबसे ज्यादा परेशानी वाराणसी के बुनकरों को हो रही है, क्योंकि पानी बुनकरों के घरों में घुस गया है. पिछले एक हप्ते से घरों में पानी भरा हुआ है, जिसकी वजह से हैंडलूम और पावर लूम बन्द पड़े हैं, क्योंकि मशीनों के नीचे पानी भर गया है.
  • India | भाषा |सोमवार अगस्त 19, 2019 10:57 AM IST
    यमुना एवं उसकी अन्य सहायक नदियों में जलस्तर बढ़ने के कारण दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में बाढ़ की चेतावनी जारी की गयी है. यमुना नदी में हथिनी कुंड बैराज से 8.14 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद हरियाणा ने सेना से तैयार रहने का अनुरोध किया है. हिमाचल प्रदेश में बारिश जनित घटनाओं में दो नेपाली नागरिक समेत कम से कम 22 लोगों की मौत हो गयी जबकि नौ अन्य घायल हो गये.
और पढ़ें »
'Flood in Uttar Pradesh' - 10 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com