कालेज के दौरान इंटर्नशिप में नहीं करनी चाहिए ये 7 गलतियां, साथ ही रखना चाहिए कुछ खास बातों का ध्यान

Internship Tips For Students: कॉलेज के दौरान स्टुडेंट्स इंटर्नशिप करना तो चाहते हैं लेकिन अक्सर कुछ ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिनसे या तो उन्हें इंटर्नशिप मिलने में मुश्किल होती है या वे काम करने के बावजूद कुछ सीख नहीं पाते. यहां जानिए Internship से जुड़ी सभी जरूरी बातें.  

कालेज के दौरान इंटर्नशिप में नहीं करनी चाहिए ये 7 गलतियां, साथ ही रखना चाहिए कुछ खास बातों का ध्यान

Internship Tips: इंटर्नशिप के दौरान रखना चाहिए इन बातों का ख्याल. 

Internship Tips: आपने अक्सर कॉलेज स्टूडेंट्स को यह कहते सुना होगा कि हम इस संस्था या कंपनी के साथ जुड़कर इंटर्नशिप कर रहे हैं या पहले कर चुके हैं. दरअसल, इंटर्नशिप (Internship) एक प्रकार की ट्रेनिंग होती है, जोकि किसी भी निजी और सार्वजनिक संस्था की ओर से कॉलेज स्टूडेंट्स को दी जाती है. इस ट्रेनिंग के जरिए नौकरी में आने से पहले कोई भी छात्र यह सीख पाता है कि किसी संस्था के साथ काम किस तरह से किया जाता है क्योंकि कोई भी छात्र जो कॉलेज में पढ़ाई कर रहा होता है, उसके पास तब तक सिर्फ किताबी ज्ञान ही होता है. इंटर्नशिप के जरिए वर्क प्लेस (Work Place) को लेकर स्टूडेंट्स (Students) का व्यवहारिक दृष्टिकोण भी मजबूत हो पाता है. इसी मकसद के साथ कॉलेज स्टूडेंट्स को इंटर्नशिप कराई जाती है. आज हम बताने जा रहे हैं कि इंटर्नशिप के दौरान स्टूडेंट्स को कौन सी गलतियां नहीं करनी चाहिए और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए.



 इंटर्नशिप में ना करें ये गलतियां | Mistakes To Avoid In Internship 



1. अपने सभी इंटर्नशिप के भुगतान की उम्मीद न करें. सभी एंप्लॉयर अपने इंटर्न (Intern) को पैसे नहीं देते हैं. इस पर इस तरीके से विचार करें कि आप अपनी शिक्षा के लिए बहुत सारा पैसा दे रहे हैं. आपकी इंटर्नशिप इस शिक्षा का विस्तार है जो आपको प्रैक्टिकल एक्सपीरियंस देती है. यह सिर्फ एक नौकरी नहीं है, यह सीखने का मौका है.

2. किसी से यह अपेक्षा न करें कि वह आपको इंटर्नशिप देगा. आपको एक इंटर्नशिप अर्जित करनी होगी, ठीक उसी तरह जैसे आप अपनी यूनिवर्सिटी में अपनी जगह खुद हासिल करते हैं.

3. अपने कॉलेज में करियर सर्विस ऑफिस (Office) का फायदा लेना न भूलें. उनके पास आमतौर पर कई इंटर्नशिप के मौके होते हैं. इंटर्नशिप संभावनाओं और लक्ष्यों पर चर्चा करने के लिए अपने करियर काउंसलर से मिलने का समय निर्धारित करें. यदि आप इंटर्नशिप खोजने के लिए संघर्ष करते हैं, तो कॉलेज में वापस जाएं और करियर काउंसलर से चर्चा करें.

4. अवसरों को हाथ से न जाने दें. यदि आपका बॉस आपको कोई ऐसा प्रोजेक्ट देता है जो आपकी विशेषज्ञता से थोड़ा बाहर है, तो हां कहें और इसे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास दें. यह आपको इंटर्नशिप के नियमित दायरे से परे अनुभव प्राप्त करने की अनुमति देगा जो आपको उद्योग या कंपनी के बारे में अधिक सिखाता है.

5. सवाल पूछने से न डरें. नई स्किल्स और कार्यप्रणाली सीखने के लिए तैयार रहें.

6. इंटर्नशिप खोजने में हार न मानें. आप अपनी इंटर्नशिप से जितना अधिक अनुभव प्राप्त करेंगे, स्नातक होने पर आप उतने ही अधिक तैयार होंगे.

7. संभावनाओं को रोकें नहीं. आपके सामने जो भी विकल्प आए उसे स्वीकार करें.

 

रखें इन बातों का ध्यान

  • अपने कॉलेज पीरियड के दौरान कम से कम एक इंटर्नशिप पाने की कोशिश करें. इस दौरान आपको जो अनुभव मिलेगा वह अमूल्य है.
  • कई इंटर्नशिप करने की कोशिश करें. यदि आप कई इंटर्नशिप करते हैं, खासकर अलग-अलग इंडस्ट्रीज में, तो आप अपने करियर के लक्ष्यों को बेहतर समझ सकते हैं.
  • इंटर्नशिप पर लीड पाने के लिए अपने परिवार और दोस्तों के नेटवर्क (Network) को यूज करें. केवल एक ऑनलाइन एप्लिकेशन के जरिए नौकरियां शायद ही कभी मिलती हैं. अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों, प्रोफेसरों और कम्यूनिटी कॉन्टैक्ट्स तक पहुंचे.
  • कॉलेज के समय में इंटर्नशिप के दौरान आपको वर्क प्लेस पर प्रोफेशनली बिहेव करना चाहिए. अपने टेक्स्ट और सोशल मीडिया का इस्तेमाल कम से कम करें. सही कपड़ों का चयन करें और प्रोफेशनल दिखें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com