यह ख़बर 12 अगस्त, 2014 को प्रकाशित हुई थी

अपने घर वापस आएं कश्मीरी पंडित और फिर बसें : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील

करगिल में लोगों को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी

करगिल:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के दौरे पर हैं। इस दौरान करगिल में लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि करगिल को मुख्यधारा से जोड़ने की ज़रूरत है।

मोदी ने कहा कि सरकार करगिल में शिक्षा के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि करगिल के लोगों ने सेना की मदद की है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार 8,000 करोड़ रुपये लगाकर यहां सड़कों का विकास करेगी।

उनका कहना था कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के सपनों को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि उन्हें आज भी टाइगर हिल जीतने का जश्न भी याद है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पीएम मोदी ने दावा कि वह हर समस्या का हल निकालने वाले इंसान हैं। उनका कहना था कि वह विकास के लिए पूरी ताकत से लगे रहेंगे। साथ ही उनका कहना था कि वह करगिल की जनता के भरोसे पर खरा उतरेंगे।

मोदी ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर के 20 फीसदी लोग विस्थापित हैं। विस्थापितों की प्रगति ही हमारा मकसद है। उन्होंने कहा कि विकास के लिए अतिरिक्त बजट देंगे। उनका आरोप था कि विस्थापितों की लगातार अनदेखी हुई है। कश्मीरी पंडितों की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि चार लाख से ज़्यादा कश्मीरी पंडित विस्थापित हैं।