देखिए : तापसी पन्नू बोलीं, "आश्चर्य है कि किसने मुझे 5 करोड़ रुपये दिए"

एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने सोमवार को NDTV के साथ एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा कि आईटी विभाग की कार्रवाई में अगर वो दोषी पाई जाती हैं तो वो इसके लिए सजा भुगतने को तैयार हैं. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें नहीं पता कि यह छापेमारी क्यों हुई थी.

मुंबई/नई दिल्ली:

एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने सोमवार को NDTV के साथ एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा कि 'उनके पास कुछ भी डरने को नहीं है' और अगर वो दोषी पाई जाती हैं तो वो इसके लिए सजा भुगतने को तैयार हैं. पिछले हफ्ते तापसी के खिलाफ इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने छापेमारी की थी. तापसी ने यह भी कहा कि उन्हें नहीं पता कि यह छापेमारी क्यों हुई थी. तापसी ने 5 करोड़ रुपये नकद लेनदेन की खबरों पर कहा, आश्चर्य है किसने मुझे ये पैसे दिए. 

एक्ट्रेस ने बताया कि उन्होंने और उनके परिवार ने कार्रवाई में सहयोग किया था. उन्होंने कहा मीडिया ने यह बात शुरू की थी कि पांच करोड़ वाली रसीद उनकी हो सकती थी, जबकि टैक्स डिपार्टमेंट ने ऐसा कुछ नहीं कहा था कि यह रसीद उनके घर से मिली थी.

बता दें कि 3 मार्च से आईटी विभाग ने तापसी पन्नू और फिल्ममेकर अनुराग कश्यप के ऑफिस और घर पर छापेमारी शुरू की. अनुराग कश्यप के उन सहयोगियों के खिलाफ भी छापेमारी की गई, जिन्होंने फैंटम फिल्म्स प्रोडक्शन हाउस शुरू किया था. अब यह हाउस बंद हो चुका है.

यह छापेमारियां फैंटम फिल्म्स की ओर से टैक्स चोरी के आरोपों की जांच के तहत, मुंबई और पुणे की लगभग 30 जगहों पर की गईं. इसमें रिलायंस एंटरनेमेंट ग्रुप के सीईओ शीभाशीष सरकार, कुछ सेलेब्रेटीज़ और KWAN, Exceed जैसी टैलेंट मैनेजमेंट कंपनियों के एक्जीक्यूटिव्स के खिलाफ भी छापे डाले गए हैं.

यह भी पढ़ें : ''नाजी सरकार'': अनुराग कश्‍यप और तापसी पन्‍नू के यहां छापेमारी पर तेजस्‍वी यादव ने केंद्र पर साधा निशाना..

तापसी ने इंटरव्यू में बताया कि छापों से शुरू में थोड़ा दबाव में थीं. उन्होंने कहा कि 'मैं सोच रही थी कि आखिर मुझे किसने 5 करोड़ दे दिए. ऐसी कहानियां चल रही थीं कि पेरिस में मेरे पास एक बंगला है. आईटी विभाग ने जो कुछ भी पूछा, मैंने बताया. मैंने और मेरे परिवार ने उनसे सहयोग किया.' एक्ट्रेस ने कहा, 'अगर कुछ गलत है, तो वो आगे आएगा. मैं कुछ छिपा नहीं सकती. अगर मैंने कुछ गलत किया है तो सजा भी मिलेगी.'

आखिर ये छापे हुए क्यों, इसपर उन्होंने कहा कि 'मैं यह बिल्कुल भी नहीं स्पष्ट कर सकती कि आखिर मुझपर रेड क्यों की गई. जब ऐसे छापे पड़ते हैं, तो आपके पास कार्यवाही के तहत चलने के अलावा और कोई विकल्प नहीं होता.'


तापसी ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के उन बयानों पर भी प्रतिक्रिया दी, जिसमें उन्होंने छापेमारी को लेकर टिप्पणियां की थीं. पिछले हफ्ते वित्तमंत्री ने IWPC (Indian Women's Press Corps) के कार्यक्रम में कहा था कि तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप के खिलाफ 2013 में भी छापे पड़े थे, उस वक्त यह इतना बड़ा मुद्दा नहीं था, लेकिन अब इसे मुद्दा बनाया जा रहा है. तापसी ने कहा कि 'वित्तमंत्री ने यह कहकर अच्छा किया कि यह एक कार्यवाही और इसे सनसनी नहीं बनाया जाना चाहिए.'

IT के छापों पर तापसी पन्नू ने तोड़ी चुप्पी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com