मुंबई: अपनी ही सरकार पर भड़के कांग्रेस नेता, कहा- बिग बाजार खुला है, बेचारे दुकानदार डंडे खा रहे...

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए नियमों का सख्ती से पालन कराया जा रहा है. कई इलाकों में दुकानों को बंद करने की खबरों के बीच कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने इस पर आपत्ति जताई है.

मुंबई: अपनी ही सरकार पर भड़के कांग्रेस नेता, कहा- बिग बाजार खुला है, बेचारे दुकानदार डंडे खा रहे...

अपनी ही सरकार पर भड़के संजय निरुपम

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए नियमों का सख्ती से पालन कराया जा रहा है. कई इलाकों में दुकानों को बंद करने की खबरों के बीच कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने इस पर आपत्ति जताई है. अपनी ही सरकार के खिलाफ उन्होंने ट्वीट करते हुए मुंबई पुलिस के रवैये पर सवाल उठाए. कांग्रेस नेता ने कहा कि बिग बाजार खुला है पर पुलिसवाले घूम-घूमकर फेरीवालों, खुदरा व्यापारियों की दुकानें बंद करवा रहे हैं. कई जगहों पर बेचारे दुकानदार पुलिसवालों के डंडे भी खा रहे हैं. उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि ये कैसा तुगलकी लॉकडाउन है ? संजय निरुपम के अनुसार ये तत्काल बंद होना चाहिए और जरूरत की दुकानें और बाजार चालू रखने का आदेश जारी करना चाहिए. 

422p1qco

बता दें कि महाराष्ट्र में हालात सबसे चिंताजनक हैं. सोमवार को अकेले महाराष्ट्र में 47 हजार से ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आए हैं. सरकार की तरफ से कई बार लॉकडाउन लगाने की चेतावनी जारी की जा चुकी बावजूद इसके हालात सुधरने के बजाय बिगड़ते ही जा रहा हैं. ऐसे में सरकार वीकेंड लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया है. महाराष्ट्र सरकार ने रविवार को घोषणा की है कि सोमवार से 30 अप्रैल तक सप्ताहांत में लॉकडाउन और कार्यदिवसों (वीकडेज) में रात्रि कफ्र्यू लागू रहेगा। इसके अलावा कई अन्य उपाय भी किए गए हैं,  निजी कार्यालयों, सिनेमा हॉल और सैलून को बंद करने की घोषणा की गई है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इधर सरकार की इस सख्ती से रिटेल व्यापारियों की चिंताएं भी बढ़ गई हैं. दुकानदारों ने इसे रिटेल लॉकडाउन करार दिया है, उनका कहना है कि इस लॉकडाउन वजह से राज्य में खुदरा उद्योग को गंभीर नकदी संकट का सामना करना पड़ेगा. उनका कहना है कि जरूरी सामानों को छोड़कर खुदरा कारोबार को बंद करने से कारोबार प्रभावित होगा.